B.Ed course details fees syllabus duration in hindi – बीएड कोर्स क्या है कैसे करे

जीवन में हर किसी का सपना होता है कि आगे जाकर वो एक सफल इंसान बने और अपने माता पिता का नाम रौशन करे। कुछ लोग डॉक्टर बनना चाहते हैं तो कुछ इंजीनियर।  कई लोग ऐसे भी होते हैं जो एक टीचर बनना चाहते हैं और देश के भविष्य को तैयार करना चाहते हैं। इस पोस्ट में आप शिक्षण से संबंधित एक कोर्स बीएड (B.Ed course ) के बारे में जानेंगे।

Contents show

टीचिंग को दुनिया भर में बहुत ही सम्मानित पेशे की तरह माना जाता है भारत में तो लोग टीचर को गुरु के रूप में मानते है और गुरु को ईश्वर के बराबर मानते है भारतीय संस्कृति में गुरु-शिष्य परंपरा शदियों से चली आ रही है वर्तमान में भले ही पढ़ाई का तरीका बदला है लेकिन करियर के हिसाब से संभावनाएं लगातार बढ़ रही है ऐसे में टीचिंग का B.Ed course भी अच्छा रहेगा। किसी भी कोर्स को करने से पहले उसके बारे में अच्छे से जान लेना चाहिए इसलिए इस पोस्ट को ध्यानपूर्वक पढ़ें और भविष्य में अगर आप बीएड कोर्स करने की सोच रखते हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए काफी मददगार साबित हो सकता है।

B.Ed Course Details

DegreeBachelors
Full-FormBachelor of Education
Duration2 Years.
AgeMinimum 21 years
Minimum Percentage50% – 55% in 10+2 from recognised board
Subjects RequiredGraduation/Post Graduation from the recognized university.
FeesINR 6000 – 1 Lakh per year
Employment RolesPrimary School Teacher, High School Teacher, Head Teacher, Secondary School Teacher, Mathematics Teacher, Middle School Teacher, Teacher Assistant, Social Worker, High School Principal etc

B.Ed Course क्या है?

बीएड ( B.Ed ) एक 2 साल का कोर्स है जिसे पूरा करके आप एक अध्यापक बन सकते हैं। अगर आपको दूसरों को पढ़ाना अच्छा लगता है तो आप यह कोर्स कर सकते हैं।  यह कोर्स बहुत सारे विषयों में करवाया जाता है इसलिए भविष्य में आप जिस विषय को पढ़ाना चाहते हैं या जिस विषय में रूचि रखते हैं उस विषय में आप यह कोर्स कर सकते हैं जिससे आगे चलकर आपको अच्छा लाभ मिलेगा। एक सरकारी अध्यापक बनने के लिए उम्मीदवार का बीएड का कोर्स किया होना अति महत्वपूर्ण समझा जाता है।

B.Ed कोर्स करने के फायदे

  • अगर आप एक टीचर बनना चाहते हैं और आपका सपना एक टीचर बनने का है तो यह कोर्स आपके लिए श्रेष्ठ है। B.Ed Course करने के बाद आप एक टीचर बन सकते हैं और टीचिंग लाइन में अपना करियर बना सकते हैं।
  • किसी भी सरकारी या प्राइवेट स्कूल में शिक्षक के रूप में आपको नौकरी मिल सकती है। इसके साथ ही आप टूशन टीचर, प्रिंसिपल, सोशल वर्कर या कंटेंट राइटर के रूप में भी काम कर सकते हैं। ऑनलाइन टीचिंग करके भी आप अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं।
  • टीचिंग लाइन में जाने की इच्छा रखने वाले विद्यार्थियों को B.Ed Course करना अवश्य चाहिए।
  • B.Ed Course कंप्लीट कर लेने के बाद आप विद्यार्थियों को चाहे तो घर से ही ट्यूशन भी पढ़ा सकते हैं।
  • इसके अलावा आप अनअकैडमी और दूसरी ऑनलाइन पढ़ाने वाली एप्लीकेशन पर अपना अकाउंट बना करके ऑनलाइन टीचिंग भी दे सकते हैं।
  • आप चाहे तो यूट्यूब पर भी लोगों को पढ़ा सकते हैं और फेमस हो सकते हैं।

B.Ed Course के लिए योग्यताएं

बीएड में प्रवेश करने के लिए आपके पास बैचलर्स की डिग्री होनी चाहिए जो आप किसी भी स्ट्रीम (आर्ट्स, कॉमर्स, साइंस आदि) में कर सकते हैं। इसके साथ ही आपके ग्रैजुएशन कोर्स (बैचलर्स डिग्री) में कम से कम 50 प्रतिशत अंक प्राप्त होने चाहिए। क्योंकि काफी सारे कॉलेज ऐसे हैं जो 50 प्रतिशत अंक वाले विद्यार्थियों को ही बीएड में प्रवेश देते हैं। बाकी यह कॉलेज पर निर्भर करता है। साथ ही साथ आप में जोश,धीरज , सहानुभूति, जल्दी सीखने वाला, अच्छा संचार कौशल, आत्मविश्वास, अच्छा संगठनात्मक कौशल, गंभीर सोच क्षमता होनी चाहिए।

B.Ed किन सब्जेक्टस में कर सकते हैं?

अधिकतर लोगों का सुझाव होता है की 12वीं कक्षा और ग्रेजुएशन आप उन्हीं सब्जेक्ट में करें जिन्हें आप बीएड में पढ़ना चाहते हैं और उसका शिक्षक बनना चाहते हैं। लेकिन फिर भी आपको इसके बारे में अपने माता-पिता या किसी बड़े से सलाह लेनी चाहिए। निम्नलिखित सब्जेक्टस में से आप एक B.Ed Course कर सकते हैं।

भौतिक विज्ञानगणित
कंप्यूटर विज्ञानहोम साइंस
शारीरिक शिक्षाभौतिक विज्ञान
अर्थशास्त्रहिन्दी
विशेष शिक्षाराजनीति विज्ञान
अंग्रेज़ीहियरिंग इम्पेरेड
तमिलभूगोल
जैविक विज्ञानरसायन विज्ञान
प्राकृतिक विज्ञानव्यापार

B.Ed कोर्स की फीस कितनी होती है?

बीएड के कोर्स की अवधि 2 साल की होती है जिसे आप डिस्टेंस या रेगुलर रूप में कर सकते हैं। इन दोनों तरीकों की फीस अलग अलग होती है। यह बात कॉलेज पर निर्भर होती है कि इसकी फीस कितनी है। अगर हम प्राइवेट कालेजों की बात करें तो तो बीएड का शुल्क 50 से 60 हज़ार तक हो सकता है वहीं अगर आप सरकारी कालेज में बीएड के लिए दाखिला लेते हैं तो 20 से 30 हज़ार रूपये तक का इसका शुल्क हो सकता है। कई कॉलेज तो इसकी फीस  16-17 हजार भी लेते हैं। इसके लिए आप अपने नज़दीकी कालेज से पता कर सकते हैं या फिर रिसर्च कर सकते हैं कि आपके नज़दीक सबसे सस्ता बीएड का कोर्स किस कॉलेज में होता हैं।

B.Ed Course कैसे करें?

अगर आपने 12वीं कक्षा और ग्रेजुएशन पूरी करली है और आप बीएड करने की सोच रहे हैं तो बता दें कि बीएड के लिए प्रवेश परीक्षा करवाई जाती है जिसमें रैंक के आधार पर आपको कॉलेज मिलता है। बीएड के लिए प्रवेश परीक्षा आमतौर पर जून-जुलाई के महीने में करवाई जाती है और जुलाई-अगस्त में ही इसका रिज़ल्ट भी आ जाता है।

अपने राज्य के महाविद्यालयों से आप यह पता कर सकते हैं की बीएड के लिए प्रवेश परीक्षा कब होगी। कॉलेज का चुनाव करने से पहले आपको अच्छे से अनुसंधान कर लेना चाहिए वरना आपका बहुत सारा धन व्यर्थ हो सकता है। बीएड की प्रवेश परीक्षा के लिए आपको एक एप्लीकेशन फॉर्म सब्मिट करना होता है जिसके बारे में जानकारी आप कालेज की अधिकारित वेबसाइट पर देख सकते हैं।

B.Ed करने के बाद क्या करें?

बीएड करने के उपरांत आप किसी अच्छे सरकारी या प्राइवेट स्कूल में अध्यापक के रूप में नौकरी कर सकते हैं। इस नौकरी का पद उस स्कूल पर निर्भर करता है जिसमें आप पढ़ा रहे हैं। या फिर अगर आप आर्थिक रूप से मज़बूत हैं तो आप अपने खुद के स्कूल को खोलने का सपना पूरा कर सकते हैं।

आज काफी सारे लोग बीएड करने के बाद एक अच्छी नौकरी कर रहे हैं। बीएड के बाद आप TET (Teachers Eligibility Test) की परीक्षा दे सकते हैं और इसे पास करने के बाद आप एक अच्छे पद पर बतौर प्राइमरी टीचर के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

BB.Ed Course किस कॉलेज से करें?

बीएड का कोर्स लगभग सभी शहरों में उपलब्ध है। आप अपने किसी भी नज़दीकी कॉलेज से बीएड के कोर्स के लिए कर सकते हैं। बीएड का सिलेबस आप अपने कॉलेज की अधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं और तैयारी कर सकते हैं। आपकी सहूलियत के लिए बता दें कि इसे किसी सरकारी कॉलेज से ही करें ताकि आप के काफी पैसे बच सकें। आपको अपने शहर के सभी कॉलेजों की रिसर्च कर लेनी चाहिए और उसी में दाखिला लेना चाहिए जिस में फीस भी कम हो और पढ़ाई भी अच्छी होती हो।

नीचे हम आपको कुछ ऐसी बेस्ट यूनिवर्सिटी और कॉलेज के नाम दे रहे हैं,जहां से आप B.ed का कोर्स कर सकते हैं।अगर आप नीचे दी गई किसी भी यूनिवर्सिटी से B.Ed का कोर्स करते हैं, तो आपको यहां से ओरिजिनल और सर्टिफाइड B.Ed की डिग्री का सर्टिफिकेट प्राप्त होता है।

  • कस्तूरी राम कॉलेज ऑफ हायर एजुकेशन, नॉर्थ वेस्ट दिल्ली
  • एमिटी इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन, एमिटी यूनिवर्सिटी, दिल्ली
  • डॉ एम जी आर एजुकेशनल एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट, चैन्नई
  • लेडी श्रीराम कॉलेज फॉर बूमन
  • डिपार्टमेंट ऑफ एजुकेशन यूनिवर्सिटी ऑफ दिल्ली, नई दिल्ली
  • अल-अमीन कॉलेज ऑफ एजुकेशन, बैंगलोर
  • विजया टिचर्स कॉलेज, बैंगलोर
  • बॉम्बे टिचर्स ट्रेनिंग कॉलेज

B.Ed Course के बाद नौकरी का वेतन

वेतन की बात करें तो अगर आप बीएड के बाद अच्छी नौकरी प्राप्त कर लेते हैं तो शुरुआत में 2.5 लाख से 3.5 लाख रुपए तथा पीजीटी अध्यापक के तौर पर आप 4 लाख से 5 रुपए वार्षिक वेतन कमा सकते हैं। यह रकम आपके स्कूल और पद पर भी निर्भर करती है। आप एक टूशन टीचर भी बन सकते हैं और अपने हिसाब से फीस तय कर सकते हैं। ऑनलाइन टीचिंग की बात करें कम से कम इससे 15000 रूपये प्रति माह कमा सकते हैं।

B.Ed कोर्स करने के बाद करियर स्कोप & भविष्य

B.Ed की डिग्री हासिल कर लेने के बाद आप गवर्नमेंट स्कूल में टीचर की पोस्ट प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले आपको टीचर की पोस्ट की वैकेंसी में अप्लाई करना होगा और सभी प्रक्रियाओं को पूरा करके आपको गवर्नमेंट टीचर की पोस्ट मिलेगी। इसके अलावा आप चाहे तो B.Ed की डिग्री हासिल करने के तुरंत बाद ही किसी भी प्राइवेट स्कूल में टीचर की नौकरी पाने के लिए अप्लाई कर सकते हैं। आप चाहे तो बैचलर ऑफ एजुकेशन का कोर्स करने के बाद टीजीटी या फिर पीजीटी करके भी काफी अच्छी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। अगर आपकी ग्रेजुएशन में 50% अंक हैं, तो टीजीटी को करके आप क्लास 1 से लेकर क्लास 10 तक के विद्यार्थियों को पढ़ा सकते हैं।

इस तरह बीएड करने के बाद आप अच्छी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं लेकिन हमारा सुझाव है की बीएड के बाद आपको M.Ed का कोर्स ज़रूर कर लेना चाहिए जोकि एक पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स है। इसे करने के बाद आप के लिए अधिक रास्ते खुल जाते हैं और आपको अधिक वेतन वाली नौकरी मिल सकती है। और इसके बाद आप P.hD  भी कर सकते हैं ताकि आपका भविष्य उज्ज्वल हो सके।

B.Ed के बाद कौन सी नौकरी मिलती है?

मुख्य तौर पर बैचलर ऑफ एजुकेशन के कोर्स को टीचर बनने के लिए किया जाता है और इस कोर्स को पूरा करने के बाद आपको जो नौकरी प्राप्त होती है, वह इस प्रकार है।

  • टीचर
  • जूनियर टीचर
  • असिस्टेंट टीचर
  • प्रोफेसर
  • प्राइमरी टीचर
  • प्रिंसिपल
  • एजुकेशनल एडवाइजर
  • कंटेंट राइटर
  • एजुकेशन रिसर्चर

शिक्षक बनने के लिए जरूरी परीक्षाएं

सरकारी विद्यालयों जैसे केंद्रीय विद्यालय नवोदय आदि में शिक्षक बनने के लिए सीबीएसइ की ओर से आयोजित की जाने वाली सीटेट परीक्षा में पास होना जरुरी है इस परीक्षा में भाग लेने के लिए दो वर्षीय प्राथमिक शिक्षा में डिप्लोमा या बैचलर ऑफ एलिमेंटरी एजुकेशन या बीएड डिग्रीधारक जो 50 प्रतिशत अंकों के साथ उत्तीर्ण हुआ है वो सीटेट परीक्षा में भाग ले सकता है।

राज्य सरकार के द्वारा आयोजित ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर परीक्षा मतलब टीजीटी परीक्षा में भाग लेने के लिए ग्रेजुएट व बीएड होना आवश्यक है वही पीजीटी (पोस्ट ग्रेजुएट टीचर) के लिए पोस्ट ग्रेजुएट और बीएड की डिग्री होना जरुरी होता है आपके जानकारी के लिए बता दू ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर परीक्षा पास करने वाले अभ्यार्थी 6वीं से लेकर 10वीं तक के शिक्षक बन सकते है वही पोस्ट ग्रेजुएट टीचर परीक्षा पास करने वाले अभ्यार्थी सेकेंडरी और सीनियर सेकेंडरी के शिक्षक बन सकते है

काफी राज्यों में शिक्षक बनने के लिए टीचर एलिजबिलिटी टेस्ट (टीइटी) पास करना जरुरी है अगर आप उन राज्यों के सरकारी स्कूल में पढ़ाना चाहते है तो टीचर एलिजबिलिटी टेस्ट (टीइटी) परीक्षा पास कर नौकरी के लिए आवेदन कर सकते है यह टीइटी परीक्षा पास करने के बाद जो सर्टिफिकेट दिया जाता है वो सरकारी स्कूल में शिक्षक की नौकरी के लिए आवेदन मान्य होता है

FAQ : B.Ed से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

प्रश्न: बीएड का कोर्स कितने वर्षों का होता है?

उत्तर: बीएड का कोर्स 2 वर्षों का होता है।

प्रश्न: बीएड के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

उत्तर: बीएड के लिए आपके पास ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए।

प्रश्न: क्या मैं 12वीं के बाद बीएड का कोर्स कर सकता हुँ?

उत्तर: जी हाँ! लेकिन 12वीं के बाद यह कोर्स 4 सालों का हो जाता है और 4 सालों वाला कोर्स सभी जगह उपलब्ध नहीं है पर ग्रेजुएशन के बाद वाला बीएड कोर्स आसानी से उपलब्ध हो जाता है।

प्रश्न: क्या केवल बीएड और ग्रेजुएशन के बाद ही नौकरी मिल जाएगी?

उत्तर: पहले केवल बीएड और ग्रेजुएशन के बाद ही नौकरी प्राप्त कर सकते थे लेकिन अब भारत सरकार ने TET की शुरुआत की है जिसे सरकारी टीचर बनने के लिए अनिवार्य तय किया गया है। आपको बता दें कि यु.पी में तो TET के बाद भी एक टेस्ट लिया जाता है जो कि अनिवार्य है।

प्रश्न: बीएड करने के लिए कितनी उम्र होनी चाहिए?

उत्तर: बीएड करने के लिए कोई भी उम्र की सीमा नहीं है हालाँकि कुछ कालेजों में बीएड करने के लिए कम से कम उम्र 19 साल होनी चाहिए।

प्रश्न: क्या मुझे बिना बीएड का कोर्स किये शिक्षक की नौकरी मिल सकती है?

उत्तर: कुछ प्राइवेट विद्यालय आपको बिना बीएड के कोर्स के शिक्षक की नौकरी पर रख सकते हैं लेकिन ज़्यादातर विद्यालों में टीचर की नौकरी के लिए शिक्षक होना ज़रूरी है।

प्रश्न: क्या मैं विदेश में B.Ed कर सकता हुं?

उत्तर: जी हाँ! विदेश में भी बीएड के कोर्स उपलब्ध हैं। विदेशों में कई कॉलेज हैं जो बीएड के कोर्स करवाती हैं। विदेशों में बीएड के लिए आपके ग्रेजुएशन में शायद 65% अंक होने चाहिए।

प्रश्न: मुझे कोनसे विषय में बीएड का कोर्स करना चाहिए?

उत्तर: आपको जिस विषय में रूचि है उसी में बीएड करें ताकि सीखते समय आपको कोई परेशानी ना हो।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!