MRI Technician Course in Hindi fees salary jobs duration

MRI Technician Course : आज के दौर में टेक्नोलॉजी बहुत आगे बढ़ चुकी, लगभग हर क्षेत्र में मशीनों का इस्तेमाल किया जा रहा है। मेडिकल भी एक ऐसा ही क्षेत्र है जिसमें बहुत सी आधुनिक मशीनों का इस्तेमाल रोगों के बारे में पता करने के लिए हो रहा है। वैसे तो सबसे बढ़िया मेडिकल कोर्स एमबीबीएस माना जाता है लेकिन अगर आप बिना एमबीबीएस किए बिना मेडिकल सेक्टर में जाना चाहते हैं तो आप किसी पैरामेडिकल कोर्स को कर सकते हैं। जिसमे MRI टेक्निशियन कोर्स भी अच्छा माना जाता है.

जब भी आप किसी सरकारी या प्राइवेट अस्पताल में जाते हैं तो कभी ना कभी आपने MRI कराया होगा, MRI का फुल फॉर्म मैग्नेटिक रिजोनेंस इमेजिंग होता है और जब भी आप इस टेस्ट को करवाते हैं तो इसके बाद आपको एक रिपोर्ट दी जाती है। इस रिपोर्ट की मदद से ही डॉक्टर आपका सही से उपचार कर पाते हैं।

यदि आप यह जानने में रुचि रखते हैं कि MRI डेली टेक्नीशियन कोर्स कैसे किया जाता है तो इस आर्टिकल में बने रहे, इस आर्टिकल में आपको इस कोर्स के बारे में सभी जरूरी जानकारी दी जाएगी।

MRI टेक्निशियन कोर्स क्या होता है?

MRI टेक्निशियन एक ऐसा कोर्स होता है जिसके बाद आप किसी भी निजी या सरकारी अस्पताल के साथ-साथ कुछ अन्य जगहों पर MRI टेक्निशियन का काम कर सकते हैं।

इस कोर्स में आपको रेडियोलॉजी और इमेजिंग टेक्नोलॉजी के बारे में जानकारी दी जाती है। अगर आप एक MRI टेक्नीशियन बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास नीचे दिए हुए कोर्सों के विकल्प होंगे और इनमें से किसी भी कोर्स को करने के बाद आप एक MRI टेक्निशियन बन जाएंगे –

  • बैचलर ऑफ रेडियोलॉजी एंड इमेजिंग टेक्नोलॉजी
  • डिप्लोमा इन रेडियोलॉजी एंड इमेजिंग टेक्नोलॉजी
Course Diploma in MRI Technician
Duration 1 Year
Eligibility 10+2 Pass with 10+2 Pass with PCB/PCM
Employment Sectors diagnostic labs, medical imaging labs, radiography centres and hospitals or clinics etc.
Job Profiles MRI technicians

MRI टेक्निशियन का क्या काम होता है?

एमआरआई टेक्निशियन किसी बीमारी का कारण पता करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, एक MRI टेक्निशियन MRI मशीन के साथ साथ और भी अन्य मशीनों को चला सकता है और इन मशीनों के द्वारा मरीजों का टेस्ट किया जाता है। MRI टेक्निशियन कोर्स करने के बाद आप निम्नलिखित पदों पर काम कर सकते हैं

  • रेडियोलॉजी टेक्निशियन
  • MRI टेक्निशियन
  • रेडियोलॉजी नर्स
  • अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन
  • सीटी स्कैन टेक्निशियन

रेडियोलॉजी टेक्नोलॉजिस्ट को मैग्नेटिक रेज़ोनेंस इमेजिंग (एमआरआई) के साथ काम करना पड़ता है जो स्वास्थ्य पेशेवरों के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले डायग्नाॅस्टिक इमेजेस को विकसित करने में मदद करता है। रेडियोलॉजी टेक्नोलॉजिस्ट के रूप में, आपको मस्तिष्क या किसी भी मस्कुलोस्केलेटल समस्याओं में इमेज के प्रोडक्शन में मदद करनी होगी। या खेल की चोटों से संबंधित मुद्दों, आदि में।

MRI Technician Qualification

अगर आप हमारे टेक्नीशियन का कोर्स करना चाहते हैं तो इसके लिए आपने कम से कम 12वीं पास किया होना चाहिए और इसी के साथ आपने विज्ञान वर्ग से 12वीं पास किया होना चाहिए। अगर आप डिप्लोमा कोर्स करना चाहते हैं तो इसके लिए भी आपको 12वीं कक्षा विज्ञान वर्ग (साइंस स्ट्रीम) के साथ पास करनी होगी।

MRI टेक्निशियन कोर्स

 भारत में कुछ कॉलेज ऐसे भी हैं जहां आप दसवीं के बाद भी डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं हालांकि अगर आप बैचलर ऑफ रेडियोलॉजी एंड इमेजिंग टेक्नोलॉजी का कोर्स करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको आपकी दसवीं परीक्षा में कम से कम 50% अंक होने चाहिए।

MRI टेक्निशियन कोर्स करने के लिए उम्र सीमा क्या है?

एमआरआई टेक्निशियन बनने के लिए आप डिप्लोमा डिग्री कोर्स कर सकते हैं और इन दोनों ही कोर्स को करने के लिए आपकी एज कम से कम 17 वर्ष होनी चाहिए, 17 वर्ष की आयु से अधिक जो भी व्यक्ति इस कोर्स को करना चाहता है, वह इस कोर्स के लिए आवेदन कर सकता है।

MRI Technician Salery

अगर आप MRI टेक्निशियन कोर्स के बाद अच्छी सैलरी पाना चाहते हैं तो आपको किसी अच्छे हॉस्पिटल या फिर किसी अच्छे मेडिकल सेंटर में नौकरी के लिए अप्लाई करना होगा। MRI टेक्निशियन कोर्स करने के बाद अगर आप किसी अच्छी जगह पर नौकरी करते हैं तो शुरुआत में आपकी मासिक सैलरी 25,000 तक हो सकती है, इसी के साथ जैसे-जैसे आपका एक्सपीरियंस पड़ेगा तो आपकी सैलरी भी बढ़ाई जा सकती है।

MRI टेक्निशियन कोर्स के लिए टॉप कॉलेज कौन से है?

MRI टेक्निशियन कोर्स 1 बेहतरीन कोर्स है, जिसको करने के बाद आप अच्छी नौकरी पा सकते हैं, हालांकि जब भी आप इस कोर्स को करें तो कॉलेज के बारे में जरूरी जानकारी इकट्ठा कर ले। ज्यादातर लोग इस कोर्स को किसी अच्छे कॉलेज से करना चाहते हैं लेकिन उन्हें इस कोर्स के लिए टॉप Colleges के बारे में जानकारी नहीं होती, नीचे कुछ कॉलेजों की लिस्ट दी गई है जो कि MRI टेक्निशियन कोर्स के लिए टॉप के लिए मुख्य कॉलेज हैं –

  • Tripura Institute Of Paramedical Sciences, Agartala
  • Mahatma Gandhi University, Kottayam
  • Postgraduate Institute of Medical Sciences, Chandigarh
  • University College of Medical Science and GTB Hospital, Shahadra, Delhi
  • Christian Medical College, Vellore
  • Rajiv Gandhi University of Health Sciences, Bangalore

MRI टेक्निशियन कोर्स कैसे करें?

अगर आप एक MRI Technician बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपको यह कोर्स करना होगा लेकिन अक्सर लोग इस कोर्स को करने की प्रक्रिया अच्छे से समझ नहीं पाते हैं। नीचे इस कोर्स को करने से जुड़ी जरूरी प्रक्रिया के बारे में बताया गया है।

#1. साइंस स्ट्रीम से 12वीं पास करना है जरूरी।

अगर आप सच में MRI टेक्नीशियन कोर्स करने के इच्छुक हैं तो इसके लिए सबसे पहले आपको विज्ञान वर्ग से 12वीं पास करनी होगी। आपको 12वीं की परीक्षा में अच्छे अंक लाने होंगे और अगर आप 50% से अधिक अंक लाते हैं तो आप इस कोर्स को कर पाएंगे।

#2. एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करें।

भारत में बहुत से ऐसे कॉलेज हैं जिनमें एंट्रेंस एग्जाम के जरिए MRI टेक्निशियन कोर्स में एडमिशन दिया जाता है, अगर आप इस कोर्स को करके अच्छी सैलरी पाना चाहते हैं तो आपको एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी हेतु किसी अच्छे कॉलेज में एडमिशन लेना होगा, इसके अलावा आप किसी कॉलेज में डायरेक्ट एडमिशन भी ले पाएंगे।

#3. कॉलेज से संपर्क में रहें।

अगर आप एंट्रेंस एग्जाम दे चुके हैं या फिर किसी कॉलेज में डायरेक्ट एडमिशन लेना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कॉलेज के संपर्क में रहना होगा, कॉलेज के संपर्क में रहकर आप मेरिट लिस्ट के बारे में जान पाएंगे और इससे आप को एंट्रेंस एग्जाम के जरिए उस कॉलेज में एडमिशन लेने में आसानी होगी।

#3. MRI Technician कोर्स में एडमिशन लें।

इसके बाद आपको किसी गवर्नमेंट या प्राइवेट कॉलेज में MRI Technician कोर्स में एडमिशन लेना होगा, एडमिशन लेने के बाद आपके कोर्स के अनुसार आपको रेडियोलॉजी और इमेजिंग टेक्नोलॉजी के बारे में पढ़ाया जाएगा। पढ़ाई के दौरान आपको हर सेमेस्टर में होने वाले एग्जाम में अच्छे अंक लाने होंगे।

#4. MRI Technician डिग्री प्राप्त करें।

अगर आपके MRI Technician कोर्स की अवधि पूरी हो चुकी है तो आप अपने कॉलेज या यूनिवर्सिटी से डिग्री प्राप्त कर सकते हैं। इस कोर्स को पूरा करने के बाद डिग्र सर्टिफिकेट लेना बहुत जरूरी होता है, इस डिग्री या सर्टिफिकेट की मदद से ही आपको नौकरी दी जाएगी।

2 thoughts on “MRI Technician Course in Hindi fees salary jobs duration”

  1. Pingback: पैरामेडिकल क्या है और पैरामेडिकल कोर्स कैसे करे? - Vijay Solutions

  2. Pingback: बिहार पंचायत चुनाव 2021Nomination तिथि नियमावली वोटर लिस्ट रिजल्ट मतगणना

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *