BCA कोर्स कैसे करें और इससे क्या फायदा है 

BCA एक अंडरग्रैजुएट कोर्स है, अगर आप 12वीं पास कर चुके हैं तो आप इस कोर्स को कर सकते हैं।  

BCA का फुल फॉर्म Bachelor of Computer Application होता है। BCA कोर्स में कंप्यूटर और टेक्नोलॉजी से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण बातें और  प्रोग्रामिंग लैंग्वेज  पढ़ाई  जाती है।

Bachelor in Computer Application (BCA) 3 साल का कोर्स है जिसमें विद्यार्थियों को 6 सेमेस्टर की परीक्षाएं देनी होती हैं।

BCA कोर्स के लिए कोई भी मैक्सिमम एज लिमिट निर्धारित नहीं की गई है। अगर आप 17 या वर्ष की आयु से अधिक हैं तो आप BCA के लिए आवेदन कर सकते हैं।

इस BCA कोर्स को पूरा करने के बाद शुरुआत में आपको लगभग डेढ़ लाख से तीन लाख प्रतिवर्ष की सैलरी दी जा सकती है, अगर आप किसी अच्छे कॉलेज या यूनिवर्सिटी से BCA करेंगे तो आपको और भी ज्यादा सैलरी मिल सकती है।

अच्छे  कॉलेज के BCA कोर्स में  एडमिशन लेने के लिए आपको  प्रवेश परीक्षा देना होगा। भारत में कुछ ऐसी यूनिवर्सिटी है जिनमें सिर्फ प्रवेश परीक्षा के माध्यम से BCA में एडमिशन दिया जाता है।

BCA कोर्स करने के बाद आप एक एप्लीकेशन डेवलपर, कंप्यूटर प्रोग्रामर, कंप्यूटर टेक्नीशियन, कंप्यूटर मेंटेनेंस इंजीनियर या फिर किसी कंपनी में असिस्टेंट मैनेजर के रूप में भी काम कर सकते है।

BCA के कुछ टॉप कॉलेज नीचे दिए गए है। 

– Christ University, Bangalore – Symbiosis Institute of Computer Studies & Research – Presidency College – DAV College – Madras Christian College – Kristu Jayanti College – IMS, Noida – Stella Maris College – Loyola College

सरकारी कॉलेज – (करीब 15,000 रूपए से 20,000 रूपए) प्राइवेट कॉलेज – (15 से 50 हजार रूपए)

बीसीए कोर्स फी   

बीसीए पाठ्यक्रम

1. सी प्रोग्रामिंग 2. मूल दृश्य 3. सिस्टम विश्लेषण और डिजाइन 4. संगठनात्मक व्यवहार 5. कंप्यूटर फंडामेंटल 6. कंप्यूटर प्रयोगशाला और व्यावहारिक कार्य

BCA कोर्स के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें

Arrow