होटल मैनेजमेंट कोर्स कैसे करे?

अगर आपको अलग-अलग लोगों से मिलना, उनसे बातें करना और मेहमानों का स्वागत करना अच्छा लगता है तो आप होटल इंडस्ट्री से जुड़े होटल मैनेजमेंट का कोर्स कर अपना करियर बना सकते है।

हॉस्पिटैलिटी या होटल एडमिनिस्ट्रेशन के व्यवसाय को सफलता पूर्वक चलाना ही होटल मैनेजमेंट कहलाता है।

होटल एक बहुत ही बड़ी इंडस्ट्री है जिसमें कई सारे विभाग हैं लेकिन जो सबसे महत्वपूर्ण है उनमें हाउसकीपिंग, फ्रंट ऑफ़िसर, फ़ूड प्रोडक्शन और बेवरेज सर्विस आते है। 

एक होटल मैनेजमेंट के क्षेत्र में होने के तौर पर आपको फाइनेंस, सर्विस, प्लानिंग और ऑर्गेनाइज़ेशन का पूरा ज्ञान होना चाहिए।

मैनेजमेंट विभाग यह सुनिश्चित करता है कि ये सभी काम अच्छी तरह और बिना रुकावट चलें साथ ही संगठन से जुड़े रोज़ के काम भी बिना  किसी गलती के अच्छे से किये जायें।  

12वीं में 50 प्रतिशत न्यूनतम मार्क्स के साथ पास करनेवाले छात्र होटल मैनेजमेंट में सर्टिफिकेट, डिप्लोमा या डिग्री कोर्स कर सकते हैं.

सर्टिफिकेट कोर्स की अवधि छह महीने से लेकर एक वर्ष तक होती है. डिप्लोमा कोर्स की अवधि डेढ़ से दो वर्ष और बैचलर कोर्सेज की तीन वर्ष होती है.

होटल मैनेजमेंट कोर्स करने के लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) की ओर से आयोजित होनेवाले नेशनल काउंसिल फॉर होटल मैनेजमेंट ज्वॉइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन (एनसीएचएम जेइइ) में भाग लेना होगा.

NCHM JEE Exam में 200 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते है हर प्रश्न के लिए 4 अंक दिया जाता हैं वही गलत उत्तर के लिए 1 अंक काट भी लिया जाता है.

Hotel Management course के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें

Arrow