BRABU: बिहार विश्वविद्यालय में आठ हजार छात्र का रजिस्ट्रेशन रुका

सरकार ने वर्ष 2020 में एक पत्र लिखकर बाबासाहेब भीमराव आंबेडकर बिहार विश्वविद्यालय को हिदायत दी थी कि जिन कोर्स में सीट अनुमोदित नहीं है, वहां दाखिले नहीं लिये जायें , इसके बाद कुछ कॉलेजों में वर्षों से चल रहे कोर्स में पिछली बार दाखिले पर रोक भी लगी थी लेकिन वोकेशनल कोर्स में दाखिला ले लिया गया. जिसके कारण अब वर्ष 2020 वोकेशनल कोर्स में हुए आठ हजार छात्र बिहार विश्वविद्यालय की लापरवाही से फंस गये हैं और उनका रजिस्ट्रेशन नहीं हो पायेगा.

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय के अंतर्गत अंगीभूत व संबद्ध कॉलेजों में वोकेशनल कोर्स 2020 में एडमिशन ले लिए गया था

बिहार विश्वविद्यालय और कॉलेजों ने बिना सरकार के सीट अप्रूवल के ही इन छात्रों का दाखिला पिछले वर्ष वोकेशनल कोर्स में ले लिया. अब जब रजिस्ट्रेशन करने की बात आयी तो बिहार यूनिवर्सिटी के ही रजिस्ट्रेशन सेक्शन ने यह कहते हुए रजिस्ट्रेशन से इनकार कर दिया कि इन सीटों को सरकार से मान्यता नहीं है. अब विद्यार्थी एडमिशन के बाद भी बिहार यूनिवर्सिटी के नहीं रहे.

BRABU: बिहार यूनिवर्सिटी में फिर से शुरू होगा ग्रेजुएशन पार्ट वन में ऑनलाइन आवेदन

बिहार विश्वविद्यालय की सीसीडीसी प्रो अमिता शर्मा ने बताया कि सभी सीटों को विवि से पास कर राजभवन से अनुमति से लेकर चलाया जाता है. हमलोगों ने सीट अप्रूवल के लिए सरकार को पत्र भेज दिया है. जल्द ही वहां से सीट पास होकर आ जायेगा उसके बाद सभी छात्रों का रजिस्ट्रेशन कर लिया जायेगा.

बिहार विश्वविद्यालय में रजिस्ट्रेशन नहीं होने से फंसा एग्जामिनेशन

छात्रों का रजिस्ट्रेशन नहीं होने से उनकी परीक्षा भी नहीं हो रही है. छात्र परेशान हैं कि उनकी परीक्षा होगी भी या नहीं. वह
अभी रजिस्ट्रेशन के लिए ही भटक रहे हैं, बिहार विश्वविद्यालय के नये परीक्षा नियंत्रक डॉ संजय कुमार ने बताया कि इस बारे में वह रजिस्ट्रार से बात करेंगे. छात्रों की परीक्षा समय पर कराने के लिए पूरी कोशिश की जायेगी. छात्रों ने बताया कि वोकेशनल कोर्स में बिहार यूनिवर्सिटी मोटी फीस लेता है इसके बाद भी वह त्रिशंकु बने हुए हैं.

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय के पांच हजार छात्रों के स्नातक फॉर्म रिजेक्ट, जाने पूरी वजह

कन्या उत्थान की राशि का फंसा है पेच :

बिहार विश्वविद्यालय के सूत्रों ने बताया कि इस बार वोकेशनल कोर्स की छात्राओं को भी कन्या उत्थान की राशि मिलने की संभावना है, इसलिए जब तक सरकार से सीट अप्रूव नहीं होगा यह राशि छात्राओं को नहीं मिल सकती है. हालांकि विश्वविद्यालय के एक बड़े अधिकारी ने बताया कि सरकार अभी वोकेशनल कोर्स में यह राशि नहीं देना चाहती है. इस कारण सीट पर अपना अनुमोदन नहीं दे रही. सरकार को भेज दिया गया है

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय वोकेशनल कोर्स में एडमिशन के लिए आवेदन शुरू

जेनरल कोर्स के 20 हजार छात्र भी फंसे हैं

बिहार विश्वविद्यालय के 20 हजार छात्र भी अभी फंसे हुए हैं.असंबद्ध कॉलेज में दाखिला लेने के कारण इनकी पार्ट वन की परीक्षा फंस गयी थी. इस समस्या के समाधान के लिए प्रोवीसी की अध्यक्षता में कमेटी बनी थी. कमेटी ने इन छात्रों को दूसरे कॉलेजों से टैग कर परीक्षा दिलाने का फैसला लिया है लेकिन अभी इनका रजिस्ट्रेशन शुरू नहीं हुआ है.

बिहार विश्वविद्यालय में ऑनस्पॉट नामांकन कराने वाले छात्रों का रजिस्ट्रेशन 15 जून तक

1 thought on “BRABU: बिहार विश्वविद्यालय में आठ हजार छात्र का रजिस्ट्रेशन रुका”

  1. Pingback: बिहार विश्वविद्यालय पीजी मेरिट लिस्ट 20 जून को, कटऑफ 75% तक

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *