पैरामेडिकल कोर्स कैसे करे

पैरामेडिकल एक मेडिकल कोर्स है जिसे करने वाला विद्यार्थी अस्पताल में एक सहायक चिकित्सक के रूप में कार्य करता है

अस्पताल में इमरजेंसी कंडिशन में ज्यादातर पैरामेडिकल स्टाफ हि मौजूद रहते है। 

पैरामेडिकल कोर्स करने के लिए भारत में बहुत से डिप्लोमा एवं सर्टिफिकेट कोर्सेस करवाए जाते है।

कुछ ऐसे पैरामेडिकल कोर्स है जिसे आप दसवीं कक्षा के बाद कर सकते है वहीं कुछ ऐसे भी कोर्सेस है जिसे आप बारहवीं कक्षा में विज्ञान में (पीसीबी) यानी बायोलॉजी को लेने वाले विद्यार्थी कर सकते है।

सर्टिफिकेट पैरामेडिकल कोर्सेज की अवधि आमतौर पर 3 महीने से लेकर एक वर्ष तक होती है।

पैरामेडिकल डिप्लोमा कोर्स की अवधि एक साल से लेकर 2 साल तक की होती है

डिप्लोमा कोर्स करने के बाद आप किसी भी अस्पताल, क्लीनिक, सार्वजनिक स्वास्थ्य केंद्र या चिकित्सा प्रयोगशालाओं में प्रयोगशाला तकनीशियन या सहायक के रूप में काम कर सकते है। 

पैरामेडिकल में बैचलर डिग्री पाने के लिए कक्षा 12 वीं के बाद दाखिला ले सकते है। 

पैरामेडिकल कोर्स करने के बाद लैब टेक्नोलॉजी , रेडियोलोजी , ऑप्टोमेट्री , फिजियोथेरेपी , ऑक्यूपेशनल थेरेपी पदों पर काम कर सकते है 

ज्यादा जानकारी के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें

Arrow