सूओमोटो म्युटेशन : दाखिल खारिज से छुटकारा जल्द, रजिस्ट्री होते ही म्यूटेशन की प्रक्रिया स्वत: शुरू हो जायेगी जानें क्या है नई व्यवस्था?

बिहार सरकार के निबंधन एवं राजस्व विभाग द्वारा ” सूओमोटो म्युटेशन ” की व्यवस्था को शुरू करने जा रही है जिससे अब मकान, दुकान, फ्लैट , खेत, जमीन आदि  के दाखिल खारिज के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की जरुरत नहीं पड़ेगा। नई व्यवस्था के अनुसार जमीन रजिस्ट्री के साथ-साथ खुद ब खुद म्यूटेशन की प्रक्रिया भी शुरू हो जाएगी। मतलब जमीन रजिस्ट्रेशन के साथ दाखिल खारिज की प्रकिर्या भी पूरा किया जायेगा. जिससे लोगो को ऑनलाइन आवेदन की जरुरत नहीं पड़ेगी।

जमीन रजिस्ट्री हुई नहीं कि पूरा रिकॉर्ड एक एप के माध्यम से अंचलाधिकारी के पास चला जाएगा। इसके लिए सॉफ्टवेयर की मदद से अंचल कार्यालय को निबंधन कार्यालय से जोड़ दिया जाएगा। एप के माध्यम से निबंधित कागजात का पीडीएफ अंचल कार्यालय तक दाखिल खारिज के लिए पहुंच जाएगा।

दाखिल खारिज से छुटकारा जल्द, रजिस्ट्री होते ही म्यूटेशन की प्रक्रिया स्वत: शुरू हो जायेगी -सूओमोटो म्युटेशन

दाखिल खारिज पहले आओ पहले पाओ के आधार पर होगी मतलब जिसका रजिस्ट्री पहले हुआ है तो उसका दाखिल खारिज भी पहले ही होगा। अगर कोई अधिकारी मनमानी भी करना चाहेगा तो नहीं कर पायेगा। और ना ही अधिकारी के किसी नजदीकी व्यक्ति का दाखिल ख़ारिज समय से पहले कर सकता है।

सूओमोटो म्युटेशन की प्रमुख बातें

  1. मकान, दुकान, फ्लैट , खेत, जमीन आदि के दाखिल ख़ारिज का अब टेंशन नहीं, सरकार अपने आप करायेगी
  2. रजिस्ट्री होते ही दाखिल ख़ारिज के लिए डीड(दस्तावेज) ऑनलाइन सीओ के पास चला जायेगा
  3. जमीन मालिक के बिना आवेदन किये म्यूटेशन की प्रक्रिया हो जायेगी शुरू
  4. नई व्यवस्था इसी महीने से लागु हो सकता है
  5. पुराने रजिस्ट्री वाले जमीन मालिक को दाखिल ख़ारिज के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

रजिस्ट्री के बाद म्यूटेशन होने के साथ ही रजिस्टर टू से भी पुराने जमीन मालिक का नाम हट जाएगा और नये खरीदार का नाम जुड़ जाएगा। जिससे नया जमीन मालिक अपने नाम से लगान कटा कर जमीन का नया रसीद पा सकता है वही अगर किसी जमीन का छोटा भाग बिकता है तो बेची गई संपत्ति के भाग से नया नाम जुड़ेगा। बाकि बचा जमीन पुराने मालिक के नाम ही रहेगा।

बिहार-में-जमीन-दाखिल-खारिज-के-नियमों-में-एक-बार-फिर-बदलाव,-जानें-क्या-है-नई-व्यवस्था-सूओमोटो म्युटेशन

इस सूओमोटो म्युटेशन नई व्यवस्था की शुरुआत इसी महीने हो सकती है। जिसके बाद लोगो को दाखिल खारिज से छुटकारा मिल जायेगा। यह नई व्यवस्था लागु होने के बाद आगे से रजिस्ट्री होने वाली जमीन के लिए ही होगी। व्यवस्था लागू होने के पहले जिस जमीन की रजिस्ट्री हुई है उसके लिए ऑनलाइन आवेदन की वर्तमान व्यवस्था भी लागू रहेगी। मतलब पुराने रजिस्ट्री वाले जमीन मालिक को ऑनलाइन आवेदन कर दाखिल खारिज करना ही होगा ।

ये भी पढ़े:

दाखिल खारिज बिहार में लगेगा अब ज्यादा समय, जाने कितने दिन में होगा दाखिल खारिज

बटवारा वाला सम्पति का दाखिल ख़ारिज कैसे कराये

ऑनलाइन जमीन रजिस्ट्री करना सीखे | Bihar land property registry process in hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *