बीआरए बिहार विश्वविद्यालय के पांच हजार छात्रों के स्नातक फॉर्म रिजेक्ट, जाने पूरी वजह

बाबासाहेब भीमराव आंबेडकर बिहार यूनिवर्सिटी द्वारा स्नातक सत्र 2021-24 के लिए आये आवेदन में से पांच हजार छात्रों के फॉर्म को रिजेक्ट कर दिया गया है। ये सभी फॉर्म बीआरए बिहार विश्वविद्यालय के कॉलेजों में नामांकन के लिए आये थे. इन फॉर्मो को ऑनलाइन आवेदन करते वक्त गलत जानकारी देने के कारण बीआरए बिहार विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा रिजेक्ट कर दिया गया है।

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय ग्रेजुएशन पार्ट 1 सत्र 2021-2024 के लिए आये आवेदनों की यूएमआईएस की ओर से जांच किया गया जिसमे पाया गया कि पांच हजार से अधिक विद्यार्थी ने गलत आवेदन किया है। कई विद्यार्थी ने इंटर में आये अंक से पांच से दस फीसदी तक अधिक अंक भर दिया है।

फॉर्म आवेदन शुरू होने से पहले ही बीआरए बिहार विश्वविद्यालय द्वारा बयान जारी कर बता दिया गया था की इस बार फॉर्म में सुधार का मौका नहीं मिलेगा और गलत फॉर्म भरने पर रिजेक्ट भी कर दिया जायेगा. पहले स्नातक पार्ट वन के लिए आवेदन लेने की अंतिम तिथि 30 अप्रैल 2021 तक रखी गई थी।

यूएमआईएस कोऑर्डिनेटर डॉ. ललन कुमार झा ने कहा कि लगभग पांच हजार छात्रों ने अपने आवेदन को गलत भरा है। किसी ने किसी विषय में अंक बढ़ाकर फॉर्म भर दिया है तो किसी ने इंटर के जिस विषय में सबसे अधिक अंक आया है उसे फॉर्म भर दिया है जबकि ऑनर्स विषय के लिए दूसरा विषय चुना है। ऐसे छात्रों का फॉर्म अलग कर दिया गया है। इसके अलावा फोन नंबर व ईमेल आईडी भी गलत भरा है। कोऑर्डिनेटर ने कहा कि पोर्टल बंद हो चुका है। अब सुधार का मौका नहीं दिया जाएगा।

फिर से शुरू होगा बीआरए बिहार विश्वविद्यालय ग्रेजुएशन पार्ट वन में आवेदन

ग्रेजुएशन पार्ट वन शैक्षणिक सत्र 2021-2024 के लिए 78 कॉलेजों में 1 लाख 36 हजार सीटों पर एडमिशन के लिए ऑनलाइन आवेदन मांगा गया था है। जो की पिछली बार की तुलना में 27 हजार अधिक हैं। लेकिन अभी तक पार्ट वन में नामांकन के लिए 93135 ऑनलाइन आए है जो सीट के अनुपात में भी नहीं है जिसके कारण स्नातक के आवेदन की तिथि आगे बढ़ाई जाएगी।

कोविड-19 के कारण बड़ी संख्या में ग्रामीण इलाकों में रहने वाले विद्यार्थी ऑनलाइन फॉर्म भरने से वंचित रह गए हैं। साइबर कैफ़े के माध्यम से भी ग्रेजुएशन पार्ट 1 का फॉर्म नहीं भर पा रहे हैं। ऐसे में बिहार विश्वविद्यालय के कुलपति के निर्देश के बाद इस ऑनलाइन प्रक्रिया को अभी स्थगित कर दिया गया है।

Also Read: Bihar CET B.Ed. Admission Form : 25 मई तक भरे बीएड एडमिशन फॉर्म, रिवाइज्ड बीएड परीक्षा शेड्यूल जारी

1 thought on “बीआरए बिहार विश्वविद्यालय के पांच हजार छात्रों के स्नातक फॉर्म रिजेक्ट, जाने पूरी वजह”

  1. Pingback: VKSU Admission 2021: ग्रेजुएशन और पीजी में ऑनलाइन नामांकन तिथि निर्धारित

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!