स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट/खेल पत्रकार ​कैसे बने 2022 ? sports journalist course

अगर आपको सभी तरह के Sports से प्यार है और आप चाहते है की स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (Sports journalism) बने तो आज में आपके इस पोस्ट में बताने जा रहा हूँ की किस तरीके से खेल पत्रकार यानि स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट बन सकते हैं। इसके अलावा कुछ और भी सवाल है जिसका जबाब इस पोस्ट में मिलेगा. जैसे स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट बनने के लिए कौन सा कोर्स करना होगा। Khel Patrakar कोर्स कहाँ से कर सकते है। स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट कोर्स के लिए सबसे अच्छा इंस्टिट्यूट या कॉलेज कौन सा हैं। Sport Journalist Course का Fees कितना होता है। खेल पत्रकारिता मे कैरियर के क्या अवसर क्या है। स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट ​कैसे बने? के इस पोस्ट में इन सभी सवालो के जबाब आपको यहाँ मिलेगा।

आज के समय में इंटरनेट, टीवी, रेडियो से लेकर पत्रिका तक में हर जगह स्पोर्ट्स न्यूज़ एक खास हिस्सा बन गए हैं। स्पोर्ट के चाहने वाले स्पोर्ट समाचार से लेकर खिलाड़ी के बारे में सब कुछ जानना चाहते है। जिसके कारण न्यूज़ चैनल पर भी खेल समाचार को एक निश्चित समय पर प्रसारित किया जाता है। भारत में लोग खेल को देखने के अलावा इससे जुड़े सभी समाचार के बारे में पढ़ने में रुचि रखते हैं इसी खेल पत्रकारिता की बढ़ती लोकप्रियता के कारण खेल पत्रकारिता से जुड़े चैनल, वेबसाइट हर दिन बढ़ रहें है। ऐसे में स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट बनना करियर के लिए अच्छा विकल्प हो सकता है.

मान्यता प्राप्त स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट ​कैसे बने?

स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (खेल पत्रकार) का मतलब किसी एक खेल में बारे में रिपोर्टिंग करना नहीं है इसलिए स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट में कैरियर बनने लिए सबसे ज्यादा जरूरी है कि आपको सभी खेलों जैसे क्रिकेट, हॉकी, फुटबॉल, टेनिस, बास्केटबॉल, वॉलीबॉल और कबड्डी आदि की जानकारी हो एबं उसके सभी तरीके और नियम के बारे में पता हो।

स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट / खेल पत्रकार ​कैसे बने?
मान्यता प्राप्त स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट ​कैसे बने?

मान्यता प्राप्त स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट्स खेल की दुनिया से जुड़ी ख़बरों और स्टोरीज़ की रिपोर्टिंग पर ध्यान देते हैं। स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट् शौकिया और प्रोफेशनल दोनों तरह के होते है इनका काम स्पोर्ट्स के बारे में लिखना और रिपोर्ट करना होता हैं। इसके अलावा स्पोर्ट्स की लाइव रिपोर्टिंग, खिलाड़ियों और कोचों का इंटरव्यू लेना, मैच की लाइव कमेंट्री करना, स्पोर्ट्स से जुड़े रिसर्च और एनालिसिस (विश्लेषण) आदि जैसे काम करते हैं। इसलिए मान्यता प्राप्त स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट बनना चाहते है तो ज़्यादातर स्पोर्ट्स चैनल या स्पोर्ट्स से जुड़ी खबरें देखे. जिससे आपको सभी जानकारी मिलती रहें।

स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट को क्या करना होता है?

एक खेल पत्रकार को स्पोर्ट्स इवेंट्स, टीमों, ऑर्गेनाइजेशन्स आदि की कवरेज करनी पड़ती हैं साथ ही डेस्क जॉब के रूप में विस्तृत एनालिसिस (विश्लेषण) और कॉलम लिखने, ऑनलाइन वेबसाइट में योगदान देना, मैच की कवरेज करना, और स्पोर्ट्स न्यूज़ को लिखना / चुनना / तैयार करना / और डिस्ट्रीब्यूट (वितरित) करने जैसे काम करना होता है। साथ ही राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय स्पोर्ट्स इवेंट्स के दौरान लाइव कवरेज के लिए स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट को कई जगहों या विदेशो की यात्रा भी करनी पड़ती है।

एक स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट के तौर पर आपके पास यह सुनिश्चित करने की एक बड़ी ज़िम्मेदारी होगी कि सही तरीके से दिखाई या लिखी गई प्रामाणिक जानकारी सही तरीके से सही समय पर सही दर्शकों तक पहुँच सके। आप स्पोर्ट्स और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री का एक अभिन्न हिस्सा होंगे।

स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट बनने के बाद कहाँ काम कर सकते है?

एक स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट के तौर पर प्रमुख न्यूज़ चैनल , sports Channel, अखबारों, मैगज़ीन, मीडिया हाउस, न्यूजवायर, वेबसाइट, रेडियो स्टेशन, टेलीविजन कंपनियों, पीरियोडिकल पब्लिशर्स या जर्नल्स के लिए ऑनलाइन और प्रिंट मीडिया स्पेसेस पर काम करेंगे।

आपका काम खेल के घटनाओं, फैक्ट्स, विचारों और लोगों के बारे में रिपोर्टर्स, एंकरों, इंटरव्यूअर्स, फ़ोटोग्राफ़रों आदि द्वारा हासिल की गई फर्स्ट हैंड जानकारी को फिर से प्रस्तुत करना होगा। आपको न्यूज़ एडिटर्स, कॉपीराइटरों, मार्केटिंग ऑफिसर्स, विज्ञापन एजेंसियों, ग्राफिक डिजाइनरों, आदि के साथ मिलकर काम करना होगा ताकि हासिल की गई फर्स्ट हैंड जानकारी से असरदार न्यूज़ रिपोर्ट तैयार की जा सके।

how to become a sports journalist in india?

आज के डिजिटल युग में सभी प्रमुख न्यूज़ चैनल, समाचार पत्रों, मैगज़ीन और मीडिया हाउसों ने इलेक्ट्रॉनिक के साथ साथ सोशल मीडिया पर भी अपनी उपस्थिति दर्ज करवा दी है। ताकि की वे अपनी वेबसाइटों या ऑनलाइन उपस्थिति के ज़रिए एक बड़ी दर्शक संख्या तक पहुंच सकते हैं क्योंकि आजकल के दौर में सभी को डिजिटल न्यूज़ देखने-पढ़ने की आदत सी हो चुकी हैं जिन्हें वे अख़बारों पर घंटों अपना वक्त देने की बजाय अपने मोबाइल फोन या लैपटॉप के माध्यम से आसानी से पढ़ लेते है।

खेल पत्रकार के मुख्य काम और जिम्मेदारियाँ:

  • खेल पत्रकारिता को किसी खेल खबर के बारे में टिप्स, बैकग्राउंड जानकारी और लीड का मूल्यांकन करना होता है।
  • टीवी चैनल या पब्लिकेशन जहाँ वो काम करते है उनके लिए नई खेल की खबर की रिपोर्टिंग करना खेल पत्रकार का काम होगा जिसमे खेलो के बैकग्राउंड और डिटेल्स के बारे में विस्तार से बताना होता है.
  • किसी खिलाड़ी, कोच का इंटरव्यू, रिसर्च, अपने अनुभव से या फिर खुद खेल कार्यक्रमों में भाग लेकर इसके बारे में जानकारी और डेटा इकट्ठा करना होता है ।
  • जरुरत पड़ने पर कई तरह के स्पोर्ट्स इवेंट्स पर लाइव रिपोर्टिंग या कमेंटरी करनी होगी।
  • पब्लिश की गई या ब्रॉडकास्ट की गई स्टोरी की लंबाई, महत्व और फ़ॉर्मेट को तय करेंगे और उसके हिसाब से मटेरियल को व्यवस्थित करना होगा।
  • वर्तमान मुद्दों, न्यूज़ या व्यक्तिगत अनुभवों की व्याख्या (इंटरप्रिटेशन) और विश्लेषण करके कमेंटरी या कॉलम के लिए मटेरियल या आइडिया डेवलप करेंगे।
  • आपको स्पोर्ट्स इवेंट्स, खिलाड़ियों या कोचों या मशहूर हस्तियों के इंटरव्यू के लिए बड़े पैमाने पर यात्रा करनी पड़ सकती है।

स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट कोर्स

स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट बनने के लिए Mass Communication या जर्नलिज्म में डिग्री या डिप्लोमा कोर्स कर सकते है स्पोर्ट जॉर्नलिस्ट बनने के लिए अलग से कोई कोर्स नहीं होता है. आप सिर्फ जर्नलिज्म का कोर्स करने के बाद खेल के क्षेत्र को चुन सकते है. और खेल पत्रकार मतलब स्पोर्ट्स जर्नलिस्टस्ट के रूप में दुनिया के सामने आ सकते है।

जर्नलिज्म में डिग्री या डिप्लोमा कोर्स कैसे करे जानने के लिए हमारा पोस्ट पत्रकार कैसे बनें। How to become a journalist? को पढ़ सकते है.

स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट कोर्स बनने के लिए कुछ कोर्स का लिस्ट:-

12वीं के बाद:-

12th के आधार पर डिप्लोमा / बैचलर डिग्री सर्टिफ़िकेट कोर्स कर सकते हैं जिसमे डिप्लोमा जर्नलिस्ट कोर्स 1 से 2 साल का होता है वही बैचलर जर्नलिस्ट डिग्री कोर्स तीन साल की होती है। जिसका लिस्ट नीचे दिया गया है

  • बी.सी.जे.(बैचलर ऑफ मास मीडिया),
  • बी.एम.एम., बी.जे. (बैचलर इन जर्नलिज़्म),
  • बी.जे.एम.सी. (बैचलर इन जर्नलिज़्म एंड मास कम्युनिकेशन)
  • बी.वोकेशन ( (बैचलर ऑफ़ वोकेशन)

ग्रेजुएशन के बाद

ग्रेजुएशन मतलब बैचलर डिग्री के बाद आप पोस्टग्रेजुएट डिप्लोमा और एडवांस्ड डिप्लोमा या सर्टिफ़िकेट कोर्स कर सकते हैं। जर्नलिस्ट मास्टर डिग्री 2 साल का कोर्स होता है।

  • एम.सी.जे.
  • एम.एम.एम.
  • एम.जे.
  • एम.जे.एम.सी. कोर्सेज़ कर सकते हैं।

कई प्राइवेट और सरकारी एजुकेशनल इंस्टिट्यूट ये कोर्स या इनसे संबंधित कोर्स ऑफर करते हैं

1. एडवरटाइजिंग एंड मास कम्युनिकेशन6. जर्नलिज़्म एंड मास कम्युनिकेशन
2. मास कम्युनिकेशन7. मास मीडिया स्टडीज
3. आर्ट कम्युनिकेशन एंड जर्नलिज़्म8. ब्रॉडकास्टिंग जर्नलिज़्म
(रेडियो और टीवी)
4. कनवर्जेंट जर्नलिज़्म9. जर्नलिज़्म
5. ऑनलाइन जर्नलिज़्म एंड ब्लॉगिंग10. फ़ोटोजर्नलिज़्म

एडमिशन प्रक्रिया और कोर्स फी

एडमिशन प्रक्रिया कुछ शैक्षणिक संस्थानों में डायरेक्ट नामांकन हो जाता है जबकि कुछ संस्थानो में नामांकन Entrance Exam से लिए जाता है। एक बात आपको ध्यान रखा है की अगर आप टॉप शैक्षणिक संस्थानों में एडमिशन लेते है तो एंट्रेंस एग्जाम देना ही होगा. और जो रैंक आएगा उसके आधार पर एडमिशन लिया जायेगा.

जर्नलिज्म कोर्स के फी की बात करे तो प्राइवेट इंस्टिट्यूट में 50 हजार से 1 लाख प्रति साल के बीच होती है। वही सरकारी शैक्षिणिक संस्थानो में कोर्स का फीस 15 से 20 हजार प्रति साल होता हैं।

नौकरी की शुरुआत कैसे करे?

जर्नलिज्म का कोर्स करने के बाद नौकरी की शुरुआत आप किसी अच्छे न्यूज़ चैनल या मीडिया हाउस में स्पोर्ट डिपार्मेंट में इंटर्नशिप करें। इंटर्नशिप करने से आपको यह फायदा मिलेगा की स्पोर्ट के बारे में सब कुछ जानकारी मिल जायेगा.और आप खेल के क्षेत्र के कार्य से अच्छी तरह जान जायँगे।

सभी जानकारी होने के बाद आप आसानी से मीडिया हाउस, न्यूज़ चैनल, न्यूज़ पेपर, , sports Channel, अखबारों, मैगज़ीन, न्यूजवायर, ऑनलाइन वेबसाइट, रेडियो स्टेशन, पीरियोडिकल पब्लिशर्स या जर्नल्स में नौकरी कर सकते है।

Also Read…Press Reporter kaise bane

जर्नलिज्म कोर्स कहाँ से करे?

काफी लोग खेल पत्रकारिता कोर्स करने के बाबजूद बेरोजगार घूम रहे है इसका सबसे बड़ा कारण स्पोर्ट्स पत्रकारिता का जानकारी न होना है अगर आपके पास खेल पत्रकारिता का नॉलेज नहीं है तो कही नौकरी नहीं मिल पायेगा। इसलिए हमेशा अच्छे कॉलेज से ही पत्रकारिता का कोर्स करें। पत्रकारिता कोर्स करने के लिए कुछ कॉलेज/इंस्टिट्यूट का लिस्ट इस तरह से हैं:-

  1. Indian Institute Of Journalism And New Media, Bangalore
  2. Symbiosis Institute Of Media And Communication, Pune
  3. Asian College of Journalism- Chennai
  4. International Institute of Mass Media (IIMM)
  5. DELHI UNIVERSITY (DUET – UG)
  6. Film and Television Institute of India, Pune
  7. Lady Shri Ram College For Women, New Delhi
  8. Christ College, Bangalore
  9. School Of Communication, Manipal
  10. Delhi College Of Arts And Commerce, New Delhi
  11. Indraprastha College For Women, New Delhi
  12. Kishinchand Chellaram College
  13. Kamala Nehru College, New Delhi
  14. Madras Christian College

खेल पत्रकार बनने के लिए ऊपर दिए गए कॉलेज के अलावा भी अन्य काफी अच्छे गवर्नमेंट और प्राइवेट मीडिया कॉलेज हैं, जंहा से आप पत्रकारिता का कोर्स कर खेल पत्रकार ( Sports journalist) बन सकते सकते हैं।

स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट की सैलेरी कितना मिलता है

शुरू के दिनों में खेल पत्रकारिता में हर महीने 12,000.00 – 20,000.00 रुपये या उससे ज़्यादा भी मिलता हैं वैसे नौकरी प्रोफाइल और काम करने के लिए आपको मिलने वाली सुविधाओं के अनुसार कमाई अलग-अलग होती है। आपके काम के अनुभव के साथ और जैसे-जैसे आप तरक्की करते जाते हैं आपकी कमाई बढ़ती जाती है । 6-10 सालों के कार्य अनुभव (वर्क एक्सपीरिएंस) के बाद, आप हर महीने 15,000 – 40,000 रुपये या इससे भी ज़्यादा कमा सकते हैं। 6-12 सालों के कार्य अनुभव के बाद, आप हर महीने 20,000,00 – 75,000 रुपये या इससे भी ज़्यादा कमा सकते हैं

सीनियर स्तर की नौकरियों में, आपकी स्थिति और आप किस कंपनी में काम कर रहे हैं, इसके हिसाब से 12-20 साल के कार्य अनुभव के साथ, आप हर महीने लगभग 35,000 – 5,00,000 रुपये या इससे भी ज़्यादा कमा सकते हैं।

8 thoughts on “स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट/खेल पत्रकार ​कैसे बने 2022 ? sports journalist course”

  1. Pingback: BSEB Inter Result 2021: आज या कल जारी हो सकता है बिहार बोर्ड इंटर रिजल्ट

  2. Pingback: बिहार इंटर रिजल्ट 2021: टॉपरों को मिलेंगे एक लाख रुपये, लैपटॉप

  3. Pingback: Bihar board inter compartmental form 2021: कंपार्टमेंटल परीक्षा फॉर्म 5 अप्रैल 2021 से भरे

  4. Pingback: Cyber Law Course in Hindi: साइबर लॉ क्या है? और साइबर लॉयर कैसे बनें?

  5. Pingback: Income Tax Inspector या Income Tax Officer (आयकर अधिकारी ) कैसे बनें?

  6. Pingback: Game Developer Kaise Bane Hindi | video game development course, eligibility, and Colleges

  7. Pingback: BRABU:बिहार यूनिवर्सिटी में फिर से शुरू होगा ग्रेजुएशन पार्ट वन में ऑनलाइन आवेदन

  8. Pingback: Bihar B.Ed CET 2021 Exam Date, Pattern, Eligibility, Colleges online apply

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!