Mukhyamantri Udyami Yojana Bihar selection list 2022 online apply

Mukhyamantri Udyami Yojana : बिहार सरकार द्वारा लोगों को उद्योग लगाने के लिए बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना की शुरुआत की है। जिसमे मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति उद्यमी योजना , मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अति पिछड़ा वर्ग उद्यमी योजना ,मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना और मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना शामिल है आज के इस पोस्ट में मै आपको बताने जा रहा हूँ की कैसे बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022 क्या है इसके अलावा बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे कर सकते है, Bihar Mukhyamantri SC / ST Udyami Yojana Apply कैसे करते है और Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana Application Status कैसे चेक कर सकते है वो भी मै आपको बताऊंगा तो ध्यान से इस पोस्ट को पढ़े.

Contents show

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के अंतर्गत नया उद्यम शुरू करने के लिए कुल 10 लाख रुपए तक की मदद मिलेगी। इसमें परियोजना – लागत का 50 प्रतिशत या अधिकतम पांच लाख रुपए तक अनुदान मिलेगा। वहीं पांच लाख रुपए बिना ब्याज के दिए जाएंगे। यह धनराशि लाभुकों को 84 किस्तों में लौटानी होगी।

what is Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana 2022

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के अंतर्गत 10 लाख तक की आर्थिक सहायता दी जाएगी। वर्ष 2018 में बिहार सरकार ने सबसे पहले कमजोर वर्ग के लोगों के लिए Bihar Mukhyamantri SC / ST Udyami Yojana शुरू की थी। उसके बाद वर्ष 2020 में इसमें अत्यंत पिछड़ा वर्ग के लोगों को भी शामिल कर दिया गया। इस मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अति पिछड़ा वर्ग उद्यमी योजना के तहत 10 लाख रुपए तक सरकार देती है, जिसमें पांच लाख अनुदान है। बाकी पांच लाख बिना ब्याज (सामान्य वर्ग के yuva 1% ब्याज के साथ ) के 84 किस्तों में लौटाना होता है। Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana 2022 का सभी राशि नया व्यवसाय शुरू करने के लिए 10 लाख रूपये की अनुदान धनराशि 2 समान किश्तों में चयनित लाभार्थी को दिया जायेगा।

मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अति पिछड़ा वर्ग/महिला/युवा उद्यमी योजना 2021
मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अति पिछड़ा वर्ग/महिला/युवा उद्यमी योजना 2022

मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अति पिछड़ा वर्ग/महिला/युवा उद्यमी योजना

हाल ही में स्वरोजगार, सूक्ष्म और लघु उद्योगको बढ़ावा देने के लिए बिहार सरकार ने महिलाओं और सामान्य व पिछड़े वर्ग के लोगों को भी इस योजना का हिस्सा बना दिया है। जिसका नाम मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना और मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना रखा गया है। इन सभी के लिए Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana 2022 का मुख्य उदेश्य स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहित कर बेरोजगारी दूर करने की है Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana में हर साल ढाई हजार महिला उद्यमियों को इस योजना का लाभदिया जाएगा। यानि हर साल बिहार में ढाई हजार महिलाएं उद्यमी बनेंगी।

Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana 2022 Important Information

योजना का नाम बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना
योजना में शामिल अन्य योजनाएँमुख्यमंत्री अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति उद्यमी योजना
मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अति पिछड़ा वर्ग उद्यमी योजना
मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना
मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना
योजना की शुरुआतबिहार सरकार (मुख्यमंत्री नितीश कुमार )
लाभार्थीबिहार के सभी जाती के नागरिक
उद्देश्यस्वरोजगार, और उद्योग को बढ़ावा देना
प्रोत्साहन राशि10 लाख रुपए
अनुदान राशि5 लाख रुपए
आधिकारिक वेबसाइटhttps://udyami.bihar.gov.in/https://udyami.bihar.gov.in/
Head Officeउद्योग विभाग, विकास भवन, नया सचिवालय, बेली रोड, पटना
udyami yojana helpline number1800 345 6214, 0612-2547695
Email[email protected]
बिहार उद्यमी योजना लिस्ट
(जिनका फॉर्म स्वीकृत हुआ है )
SC/ST – Download
EBC – Download
MAHILA – Download
YUVA – Download
बिहार उद्यमी योजना लिस्ट
(जिनका चयन हुआ है )
Final Selection SC/ST – Download
Final Selection EBC – Download
Final Selection MAHILA – Download
Final Selection YUVA – Download

बिहार उद्यमी योजना लिस्ट- Bihar Udyami Yojana List

बिहार सरकार के द्वारा योजना का लिस्ट जारी कर दिया गया है इस लिस्ट में जिन लोगों का नाम है उन सभी लोगों का फॉर्म स्वीकृत कर दिया गया है  इस लिस्ट में जिन लोगों का नाम होगा  उन सभी लोगों में से रेंडम तरीके से बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना का चयन किया जाएगा .

 इस लिस्ट में टोटल 42477 लोगों का नाम जारी किया गया है इसमें से मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति उद्यमी योजना के अंतर्गत 9573 लोगों का फॉर्म सही पाया गया था इसी तरीके से अति पिछड़ा वर्ग उधमी योजना से 12124 लोगों का फॉर्म स्वीकृत किया गया है बात करते हैं युवा उद्यमी योजना  का तो इस योजना के तहत 11500 लोगों का फॉर्म स्वीकृत किया गया है वही महिला उद्यमी योजना के अंतर्गत 9278 लोगों का फॉर्म स्वीकृत किया गया है.

जिन लोगों के आवेदन फॉर्म सभी तरीके से योग्य पाए गए उनको सिलेक्ट किया गया है और जिन आवेदकों के आवेदनों में कुछ गलती थी उन्हें निरस्त किया गया इस क्रम में टोटल सभी जिलों के आवेदन मिलाकर 62324 आवेदन प्राप्त हुए जिनमें से 42477 योग्य आवेदक पाए गए है.

बिहार उद्यमी योजना लिस्ट (जिनका फॉर्म स्वीकृत हुआ है )

बिहार उद्यमी योजना लिस्ट (जिनका चयन हुआ है )

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना योग्यता :-

  • लाभुक बिहार के स्थायी निवासी हों।
  • 18 वर्ष अथवा इससे अधिक उम्र के हो।
  • अनुसूचित जाती /अनुसूचित जनजाति / अति पिछड़ा वर्ग/महिला/युवा के अंतर्गत हो
  • कम से कम 10+2 या इंटरमीडिएट, आई टी आई, पॉलिटेक्निक, डिप्लोमा या समकक्ष उत्तीर्ण हो
  • उम्र सीमा 18 वर्ष से 50 वर्ष के बीच हो
  • इकाई प्रोपराईटरशीप फर्म, पार्टनरशीप फर्म , LLP अथवा Pvt. Ltd Company के तहत निबंधित हो।
  • प्रोप्राइटरशिप फर्म उद्यमी वाटा अपने निजी PAN पर किया जा सकता है
  • प्रस्तावित फर्म के नाम से चालू खाता (current Account) हो

जरुरी दस्तावेज बिहार उद्यमी योजना 2022 के लिए

  1. स्थाई निवास प्रमाण-पत्र
  2. मैट्रिक प्रमाण- पत्र (जन्म तिथि के सत्यापन हेतु)
  3. इंटरमीडिएट या समकक्ष योग्यता प्रमाण-पत्र
  4. जाती प्रमाण-पत्र (पिता के नाम से)
  5. आधार कार्ड
  6. पैन कार्ड
  7. फोटो (तुरंत का खींचा हुआ पासपोर्ट साइज़ 120 KB)
  8. हस्ताक्षर का नमूना (अधिकतम 120 KB)
  9. Current Account संकल्प के निर्गत की तिथि

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022 की मुख्य बातें

  • योजना के तहत नया उद्यम शुरू करने के लिए कुल 10 लाख रुपए तक की मदद मिलेगी।
  • 10 लाख में से नए उद्यम के लिए 5 लाख अनुदान और बाकि बिना ब्याज का कर्ज होगा.
  • 2500 युवा उद्यमी और 2,500 महिलाएं उद्यमी बनेंगी हर साल राज्यभर में
  • आवेदन के लिए नया पोर्टल बनेगा इस पर ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा होगी
  • 84 किस्तों में लौटानी होगी लोन की राशि
  • उम्र कम से कम 18 वर्ष और 50 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • सम्बंधित प्रक्षेत्र के युवा युवतियों को कुल परियोजना लागत (प्रति इकाई) का 50 प्रतिशत अधिकतम रूपया 5,00,000 (पाँच लाख) ब्याज मुक्त ऋण जिसे ७ वर्षों (८४ समान क़िस्तों) में अदा करना है
  • स्वीकृत राशि का ५०% अधिकतम ५,००,००० (पांच लाख) विशेष प्रोत्साहन योजनान्तर्गत अनुदान/सब्सिडी देय होगा
  • चयन के उपरांत लाभुकों के प्रशिक्षण के लिए प्रति इकाई रूपया २५,००० की व्यवस्था
  • इस योजना के अंतर्गत केवल नये उद्योंगों के स्थापना के लिए लाभ देय होगा I इन इकाइयों को बिहार औद्योगिक निवेश प्रोत्साहन निति २०१६ का लाभ भी देय होगा
  • स्वीकृत राशि अधिकतम दो किस्तों में भुगतान किया जायेगा I
  • योजना का लाभ परिवार के किसी एक सदस्य को ही दिया जायेगा I

इस योजना अंतर्गत लाभार्थियों की योग्यता निम्नवत होगी

  • लाभुक बिहार के स्थायी निवासी हों
  • अनुसूचित जाती /अनुसूचित जनजाति / अति पिछड़ा वर्ग/महिला/युवा के अंतर्गत हो
  • कम से कम 10+2 या इंटरमीडिएट, आई टी आई, पॉलिटेक्निक, डिप्लोमा या समकक्ष उत्तीर्ण हो
  • उम्र सीमा 18 वर्ष से 50 वर्ष के बीच हो
  • इकाई प्रोप्राइटरशीप फर्म, पार्टनरशीप फर्म, LLP अथवा, PVT.LTD.Company हो
  • प्रोप्राइटरशिप फर्म उद्यमी वाटा अपने निजी PAN पर किया जा सकता है
  • प्रस्तावित फर्म के नाम से चालू खाता (current Account) हो

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana 2022 ( बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना ) का लाभ लेने के लिए उद्योग विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट https://udyami.bihar.gov.in/ से ऑनलाइन आवेदन करना होगा। सभी श्रेणी के उद्यमी के लिए एक ही पोर्टल बनाया गया है , लेकिन अभ्यर्थी को आवेदन करने के लिए अलग-अलग विकल्प मिलेगा इस विकल्प में से जो जिस कैटेगरी में आता हो, वो उस कैटेगरी में आवेदन कर सकता है।

मुख्यमंत्री-युवा-उद्यमी-योजना-फॉर्म
मुख्यमंत्री-युवा-उद्यमी-योजना-फॉर्म

जिसके बाद रजिस्टर करने के लिए नाम , मोबाइल नं० और आधार नं0 मांगा जायेगा जिसे दे कर रजिस्टर करना होगा।

मुख्यमंत्री-उद्यमी-योजना-बिहार-Mukhyamantri Udyami Yojana
मुख्यमंत्री-उद्यमी-योजना-बिहार-Mukhyamantri Udyami Yojana

अकाउंट बन जाने के बाद लॉगिन करना होगा, जहाँ सभी जानकारी जैसे नाम, पता , मोबाइल नंबर , आधार कार्ड, पैन कार्ड , बिज़नेस अदि की जानकारी दे कर आवेदन की प्रकिर्या को पूर्ण करना होगा.

जब आप आवेदन कर देते है उसके बाद आवेदन का स्टेटस भी चेक कर सकते है

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना का चयन प्रक्रिया

 मुख्यमंत्री उद्यमी योजना बिहार के लाभार्थियों का चयन पंचायत चुनाव के बाद किया जाएगा जिसकी तैयारी विभाग के द्वारा कर लिया गया है  इस योजना के लिए  65 हजार  से  अधिक आवेदन प्राप्त हुए हैं जिसमें से सिर्फ 8000 लाभार्थियों का चयन होना है लकी ड्रॉ के द्वारा किया जाएगा जो कि रैंडम तरीके से  होगा।

  इस मुख्यमंत्री उद्यमी योजना विहार में चयन प्रक्रिया पूरी पारदर्शिता से किया जाएगा इसकी वीडियोग्राफी भी होगा।  मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022 मैं sc-st एबीसी महिला और सामान्य वर्ग से उद्यमियों का चयन किया जाएगा जिसमें  जिसमें अनुसूचित जाति वर्ग से 2000 ईबीसी से 2000, युवा उद्यमी वर्ग 2000 और महिला वर्ग से 2000 लाभार्थी का चयन  किया जाएगा.

S. No. जाति वर्ग लाभार्थी का चयन
1. अनुसूचित जाति वर्ग 2,000
2. ईबीसी 2,000
3. युवा उद्यमी वर्ग 2,000
4. महिला 2,000
Total8,000

जिलों से मिले आवेदन के आधार पर चयनित होंगे लाभार्थी

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना में जिला वार लाभार्थियों का चयन किया जाएगा जो कि रैंडम तरीके से होगा हर जिले  से प्राप्त आवेदन को एक साथ किया जाएगा और आवेदन की संख्या के आधार पर किस जिले में कितने  उद्यमीयों का चयन किया जाना है   यह निर्धारित किया जाएगा। यह सभी प्रक्रिया कंप्यूटर के माध्यम से ऑटोमेटिक तरीके से किया जाएगा .

मुख्यमंत्री-उद्यमी-योजना-का-चयन-प्रक्रिया

 आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि इस योजना के तहत ₹500000 का ऋण दिया जाएगा और ₹500000 की सब्सिडी राशि दी जाएगी दोनों को मिलाकर जो अधिकतम राशि तय किया गया है वो 1000000 रुपए का है जो ₹500000 की राशि है उसे लाभार्थियों को 84 किस्त में बैंक को लौट आना है इसमें से SC ST  और महिला  लाभार्थियों को किसी भी तरीके का कोई भी ब्याज नहीं देना होगा बाकी लोगों को 1% ब्याज पर यकीन दिया जाएगा जो कि सिर्फ ₹500000 क पर होगा बाकी ₹500000 सरकार की ओर से सब्सिडी के रूप में दी जाएगी जो कि वापस करने की जरूरत नहीं है मुख्यमंत्री उद्यमी योजना में 65000 से अधिक आवेदन आ चुके हैं इसलिए प्रक्रिया ड्रॉ के माध्यम से किया जाएगा

व्यक्तिगत चालू खाता मतलब आवेदक के नाम से Current Account होने पर भी उद्यमी योजना का लाभ

मुख्यमंत्री उद्यमी योजनाओं के तहत आवेदन करने के इच्छुक लोगों को सरकार ने बड़ी राहत दी है। 12 अगस्त 2022 गुरुवार को उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने इस योजना की समीक्षा कर शर्ते बदल दी हैं। इससे बेरोजगार युवक या अन्य लोग जिन्हें आवेदन करने में दिक्कतें आ रही थीं, अब दूर हो गई है। पहले से निर्धारित शर्त के अनुसार फर्म के नाम से चालू खाता खुलवाने पर ही उद्यमी योजना में आवेदन करना था। इस मसले पर हो रही परेशानियों को देखते हुए प्रक्रिया या आवश्यक शर्तों में परिवर्तन कर उसे सरल बनाया गया है। अब सभी वर्ग के आवेदक मुख्यमंत्री उद्यमी योजनाओं में व्यक्तिगत चालू खाता खुलवाकर भी आवेदन कर सकते हैं जो कि फर्म के नाम पर चालू खाता खुलवाने की तुलना में काफी आसान है।

आवेदक को स्कीम के तहत ऋण/अनुदान स्वीकृति के उपरांत ही व्यक्तिगत चालू खाते को फर्म के नाम से परिवर्तित कराना होगा। उद्योग मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री उद्यमी योजनाओं की प्रगति की समीक्षा के उपरांत यह बात सामने आई कि फर्म के नाम से चालू खाता खुलवाने में आवेदकों को काफी दिक्कतें आ रही हैं। उद्यमी बनने के इच्छुक बहुत से बेरोजगार युवा-युवती या अन्य लोग जिनका अब तक कोई फर्म रजिस्टर्ड नहीं है, वो फर्म के नाम से चालू खाता होने की आवश्यक शर्त की वजह से आवेदन नहीं कर पा रहे थे।

इसे देखते हुए ही मुख्यमंत्री उद्यमी योजनाओं के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया व आवश्यक शर्तों को सरल बनाया गया है। गौरतलब है कि साल 2018 से मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति/जनजाति उद्यमी योजना लागू है। इसमें साल 2020 से अति पिछड़ा वर्ग को भी जोड़ा गया। 2022 से मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना और मुख्यमंत्री युवा (सामान्य वर्ग और पिछड़ा वर्ग सहित) उद्यमी योजना लागू है। चालू खाता के संबंध में प्रक्रिया/शर्त में जो ढील दी गई है, वो मुख्यमंत्री उद्यमी योजनाओं पर लागू होगी।

जीएसटी और रजिस्ट्रेशन की अनिवार्यता आवेदन में खत्म

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के तहत नए उद्योग-धंधा खोलने के लिए आवेदन की प्रक्रिया को और सरल किया गया है। आवेदकों के लिए 14 सितंबर तक आवेदन करने का मौका होगा। योजना के तहत युवा, महिला, एससी, एसटी व ईबीसी के बेरोजगारों को उद्योग-धंधा शुरू करने के लिए इस योजना के तहत दस लाख रुपये देने का प्रावधान है जिसमें 50 फीसदी तक अनुदान है। उद्योग विभाग ने आवेदन पत्र जमा करने में आ रही अड़चनों को लेकर जीएसटी व उद्यमी रजिस्ट्रेशन की अनिवार्यता को फिलहाल खत्म कर दिया है। बिना जीएसटी व उद्यमी रजिस्ट्रेशन के सामान्य वर्ग, महिला, एससी, एसटी व ईबीसी के युवा विभाग के पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन जमा कर सकते हैं।

जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक परिमल कुमार सिन्हा ने शुक्रवार को बताया कि पार्टनरशिप फर्म की स्थिति में फर्म के नाम से करंट अकाउंट अनिवार्य किया गया है। प्रोपराइटरशिप के मामले में आवेदक के नाम से करंट अकाउंट मान्य है। करंट अकाउंट का रद्दचेक भी अपलोड करना होगा। करंट अकाउंट में तिथि की मान्यता को खत्म कर दिया गया है। महाप्रबंधक ने बताया कि योजना के तहत चयनित आवेदकों को राशि लेने के लिए फर्म के नाम से करंट अकाउंट व फर्म का रजिस्ट्रेशन अनिवार्य रूप से करानाहोगा।

स्वीकृतराशि का ट्रांसफर आरटीजीएस व एनईएफटी के तहत फर्म के नाम से किया जायेगा। आवेदन करने में आ रही अडचनों को लेकर विभाग ने नियमों को सरल बताया है। इससे अधिक से अधिक युवा योजनाके तहत आवेदन जमा कर सकेंगे। ट्रेनिंग के बाद मशीन के लिए मिलेंगे पांच लाख मुजफ्फरपुर। जूता-चप्पल उद्योग लगाने में सरकार मदद करेगी। इसके लिए खादी व ग्रामोद्योग और लघु, सूक्ष्म व उद्यम मंत्रालय (एमएसएमई) ने समूहों से प्रस्ताव मांगा है। 10 लोगों के समूह को उद्योग लगाने में आयोग की ओर से सहायता की जाएगी। उद्योग लगाने वाले को प्रशिक्षण के बाद मशीन खरीदने के लिए पांच लाख रुपये का अनुदान दिया जाएगा। इस संबंध में आर्याग ने उद्योग विभाग व जिला उद्योग केंद्र को पत्र भेजा है।

10 लोगों के समूह को कानपुर स्थित सीएफटीआई में नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा। दो माह की इस आवासीय ट्रेनिंग में समूह के सदस्यों को विशेषज्ञ जूता व चप्पल निर्माण की बारियों से अवगत कराएंगे। मशीनों व तकनीकों के बारे में भी बताया जाएगा। प्रशिक्षण के बाद समूह को मशीनों की खरीदारी के लिए राशि दी जाएगी। इस समूह में चार लोग अनुसूचित जाति से होंगे।

बिहार उद्यमी योजना 2022 में प्रशिक्षण के बाद मिलेगी पहली किस्त

स्वीकृत आवेदनों की समिति 15 दिन में जांच करेगी। फिर उसे संबंधित जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक को भौतिक सत्यापन के लिए भेजा जाएगा। जांच कार्य पूरा होने के बाद चयनित अभ्यर्थियों को तय संस्थानों में दो सप्ताह का प्रशिक्षण दिलाया जाएगा। फिर उनके प्रोजेक्ट की डीपीआर के हिसाब से समिति उन्हें पहली किस्त की राशि स्वीकृत कर देगी।

गलत और अधूरे आवेदनों को किया जाएगा निरस्त

मुख्यमंत्री महिला और युवा उद्यमी योजना हो या अनुसूचित जातिजनजाति और अत्यंत पिछड़ा उद्यमी योजना, अब आवेदन यहां लटकेंगे नहीं। तत्काल उनका निस्तारण होगा। जो आवेदन गलत या अधूरे होंगे, उन्हें रिजेक्ट कर दिया जाएगा। हालांकि उनके पास दोबारा आवेदन करने का मौका होगा। सही आवेदनों पर प्रक्रिया आगे बढ़ेगी। अपर मुख्य सचिव की अध्यक्षता वाली ग्यारह सदस्यीय समिति आवेदनों की जांच कर लाभुकों का चयन करेगी।

पहले किसी आवेदन की कमियों को दूर कराने के लिए कई बार प्रयास किए जाते थे। ऐसे में आवेदन के निस्तारण में महीनों लग जाते थे। अब ऐसा नहीं होगा। योजना को गति देने के लिए अब फैसला किया गया है कि अधूरे या गलत आवेदनों को अस्वीकृत कर दिया जाएगा। ऐसे लोगों को दोबारा आवेदन करना होगा।

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना में आवेदन तीन महीने ही

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना की आवेदन प्रक्रिया में कुछ बदलाव किया गया है। अब अभ्यर्थी मुख्यमंत्री एससी-एसटी और अत्यंत पिछड़ा वर्ग उद्यमी योजना के अलावा मुख्यमंत्री युवा और महिला उद्यमी योजना में इच्छुक अभ्यर्थी सिर्फ तीन महीने ही आवेदन कर सकेंगे। उद्योग विभाग इतनी ही अवधि के लिए योजना के पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन का ऑप्शन देगा ।

पहले इस योजना में पूरे साल ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता था। मगर अब ऐसा नहीं होगा। साल की पहली तिमाही में ही आवेदन के लिए विंडो खोली जाएगी। इस दौरान प्राप्त होने वाले आवेदनों की जांच होगी। फिर उन्हें जिलों के हिसाब से निर्धारित किए गए लक्ष्य के अनुरूप उन्हें स्वीकृति प्रदान की जाएगी। जांच के लिए उन्हें संबंधित जिलों के जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक को भेजा जाएगा।

बिहार उद्यमी योजना पहली जून से शुरू होगी

उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि एक जून से मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना बिहार और युवा उद्यमी योजना को लागू करने की तैयारी है। लाभुकों के चयन की प्रक्रिया पूरी तरह पारदर्शी होगी। सुनिश्चित किया जाएगा कि चयन प्रक्रिया समयबद्ध तरीके से पूरा करने के साथलाभुकों को सहायता राशि की उपलब्धता अविलंब हो। युवा और महिलाओं में उद्यमिता को बढ़ावा देने के मकसद से प्रस्तावित इन योजनाओं के तहत अभ्यर्थियों के आवेदन और उसके निष्पादन के लिए ऑनलाइन पोर्टल बनाने का कार्य पूरा कर लिया गया है। उद्योग मंत्री ने इसका प्रजेंटेशन देखा। इसके अलावा उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए पहले से चल रहीदो योजनाओं मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति-जनजाति एवं अति पिछड़ा वर्ग उद्यमी योजनाओं के तहत भी नए सिरे से आवेदन मंगाए जाएंगे।

बिहार उद्यमी योजना पात्रता

मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना के लिए पात्रता सभी वर्गों की बिहार की निवासी महिलाओं के लिए है। साथ ही, 12वीं या इंटरमीडिएट पास हो। वहीं mukhyamantri yuva udyami yojana के लिए पात्रता है कि आवेदन कर्ता पुरुष सामान्य और पिछडा वर्ग से हो और बिहार निवासी होने के साथ 12वीं पास हो।

15 दिनों का होगा प्रशिक्षण

जिन महिला उद्यमी के उद्योग प्रस्तावों को स्वीकृति मिलेगी, उन्हें विभाग द्वारा पहले 15 दिनों का प्रशिक्षण दिलाया जाएगा। उसके बाद वे अपनी इकाई की स्थापना कर सकेंगे। विभाग द्वारा ऐसी इकाइयों को तकनीकी और व्यवहारिक सहायता भी दी जाएगी ताकि वे अपने उद्योग को सुचारू कर सकें।

FAQ

  • मुख्यमंत्री युवा महिला उद्यमी योजना बिहार क्या है?
    • मुख्यमंत्री युवा महिला उद्यमी योजना बिहार सरकार की एक योजना है जिसमे महिला को महिला उद्यमी बनने के लिए प्रोत्साहित करना है.
  • कितना लोन दिया जायेगा?
    • नए उद्यम के लिए 10 लाख तक का लोन दिया जायेगा.
  • बिहार सरकार की ओर से कितना अनुदान मिलेगा?
    • इस योजन के तहत नए उद्यम के लिए 5 लाख तक का अनुदान दिया जायेगा
  • कितना लोन दिया जायेगा?
    • नए उद्यम के लिए 10 लाख तक का लोन दिया जायेगा.
  • बिहार सरकार की ओर से कितना अनुदान मिलेगा?
    • इस योजन के तहत नए उद्यम के लिए 5 लाख तक का अनुदान दिया जायेगा
  • बैंक को लोन कैसे चुकाया जायेगा?
    • अगर आप 10 लाख का लोन लेते है तो 5 लाख का अनुदान होगा जो देने की जरुरत नहीं है बाकि बचे 5 लाख को 84 महीने के क़िस्त में लौटना होगा.

प्रोजेक्ट की सूची (Udyami Yojana Project) – मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022 बिहार

Project Name
अगरबत्ती उत्पादन (Agarbatti Manufacturing)
अन्य (Others)
अल्यूमिनियम फर्निचर का निर्माण (Aluminium Furniture/ Fabricator)
आइसक्रीम उत्पादन (Ice Cream Manufacturing)
आई0 टी0 बिजनेस केन्द्र (IT Business Centre)
आचार, मुरब्बा उत्पादन (Pickles Manufacturing Unit)
आटा, सत्तु एवं बेसन उत्पादन (Atta, Sattu & Besan Manufacturing)
आभूषण निर्माण वर्कशॉप (Gold Manufacturing Workshop)
एयर कंडिसन रिपेयरिंग (Air Conditioner repair Service)
एल0 ई0 डी0 बल्ब/सजावटी बल्ब निर्माण (LED Bulb/Decorative Bulb Manufacturing)
ऑटो गैरेज (Auto Garage)
कंक्रीट ह्यूम पाईप (R.C.C. Spun Hume Pipe)
कम्प्यूटर हार्डवेयर एसैम्बलिंग एवंनेटवर्किंग (Computer Hardware Assembling Maintenance & Networking)
कसीदाकारी (Knitting Machines & Garments)
कार्नफ्लेक्स उत्पादन (Corn Flakes Manufacturing)
काष्ठ कला आधारित उद्योग (Wood based Craft Industries)
कूलर निर्माण (Cooler Manufacturing)
कृषि यंत्र निर्माण (Agri Equipment Manufacturing Unit)
केला रेशा निर्माण (Banana Fibre)
केश तेल का उत्पादन (Manufacturing of Hair Oil)
गेटग्रिल निर्माण एवं वेल्डिंग इकाई (Gate grill Fabrication Unit / Welding Unit)
घरेलू बिजली वायरिंग एवं रिपेयरिंग (Home Wiring & repair)
चमडे़ एवं रेक्सीन का सीट कवर निर्माण (Leather and Rexin Sheets Cover for Vehicles)
चमड़े के जूता निर्माण (Leather Shoes)
चमड़े के जैकेटस निर्माण (Leather Garments)
चमड़े के बैग, बेल्टस, वालेट एव ग्लोब्स आदि निर्माण (Leather Accessories like Bags, Belts, Wallets & Gloves etc.)
चाँदी जेवर निर्माण (Silver Jewellery making Unit)
जूट आधारित क्राफ्ट (Jute based)
जैम/जेली/सॉस उत्पादन (Jam/Jelly/Sauce Manufacturing)
टायर रिट्रेडिग (Tyre Vulcanizing / Retread)
टू-व्हीलर रिपेयरिंग (Two Wheeler Repairing Shop)
टूरिस्ट टैक्सी (Tourism Taxi)
टेन्ट हाउस एवं इवेन्ट मैनेजमेन्ट (Tent House/ Event Management)
डिटर्जेन्ट पाउडर, साबुन एवं शैम्पु (Detergent Powder, Soap & Shampoo)
डिस्पोजेबल डाइपर एवं सेनेटरी नैपकिंन (Disposable Diaper and Sanitary Napkin)
डीजल इंजन एवं पम्प रिपेयरिंग (Repair of Diesel Engines & Pump Sets)
डेस्कटॉप पब्लिसिंग एवं स्क्रीनप्रिन्टिग (Desktop Publishing & Screen Printing)
ड्राईक्लीनिंग (Dry Cleaning)
तेल मिल (Oil Mill)
दाल मिल (Pulse Mill)
नमकीन उत्पादन (Namkeen Production)
नूडल्स उत्पादन (Noodles Manufacturing)
नोटबुक/कॉपी /फाईल/फोल्डर उत्पादन (Note Book/Copy/File/Folder Manufacturing)
पत्ता-प्लेट (Leaf Cup & Plates)
पत्थर की मूर्ति निर्माण (Stone based)
पलम्बरिंग कार्य (Plumbing Work)
पशु आहार उत्पादन (Cattle Feed Manufacturing)
पाँपकार्न उत्पादन (Popcorn Manufacturing Unit)
पापड़ एवं बड़ी उत्पादन (Papad & Bari Manufacturing Unit)
पी0 भी0 सी0 जूता/चप्पल (PVC foot wear)
पीतल/ब्रास नक्कासी (Brass / Bronze Craft)
पूर्व निर्मित भवन निर्माण सामग्री (Pre-Fabricated Building Material)
पेपर कप एवं प्लेट निर्माण (Paper Cups & Plate)
पैथोलोजिकल जाँच घर (Medical Diagnostic Centre)
पोहा/चुड़ा उत्पादन (Poha/Chura Manufacturing Unit)
प्लास्टर ऑफ़ पेरिस का सामान (Plaster of Paris Item)
प्लास्टिक वेस्टरी-प्रोसेसिंग (Reprocessing of Plastic Waste unit)
प्लास्टिक सामग्री/बॉक्स/बोटल्स (Plastic Items / Boxes / Bottles)
फलों के जूस की इकाई (Fruit Juice)
फ्लाई एष ब्रिक्स (Fly Ash Bricks)
फ्लैक्स प्रिन्टिग (Flex Printing)
बढई गिरी एवं लकड़ी के फर्निचर (Carpentry & Wood Furniture Workshop)
बाँस का सामान, फर्निचर उत्पादन इकाई (Bamboo Article and Furniture Manufacturing unit)
बिजली पंखा एसेम्बलिंग (Electrical Fan assembling)
बिजली मोटर बाइडिंग (Motor Winding)
बिन्दी एव मेहंदी उत्पादन इकाई (Bindi&Mehandi Manufacturing Unit)
बीज प्रसंस्करण एवं पैकेजिंग (Seed Processing & Packaging)
बेंत का फर्निचर निर्माण (Cane Furniture Manufacturing)
बेकरी उत्पाद (पावरोटी, बिस्कुट, रस्क इत्यादि) (Bakery Products (Bread, Biscuits, Rusk etc)
बेडसीड, तकिया कवर निर्माण (Bed Sheet with Pillow Covers Set)
बोतल बंद पानी (Packaged Drinking Water)
ब्यूटीपार्लर (Beauty Parlour)
बढ़ईगिरी (Carpentry)
मखाना प्रोसेसिंग (Makhana Processing)
मच्छर भगाने का टिकिया (Mosquito Repellent Mat)
मच्छरदानी निर्माण (Mosquito Net Manufacturing)
मधु प्रसंस्करण (Honey Processing)
मधुमक्खी का बक्सा निर्माण (Bee-Box Manufacturing)
मसाला उत्पादन (Spice Production)
मार्बल कटिंग एवं पोलिशिंग (Marble cutting and Polishing)
मिठाई उत्पादन (Sweets Production)
मुर्गी दाना का उत्पादन (Poultry Feed Manufacturing)
मोबाईल एवं चार्जर रिपेयरिंग (Mobile Repairing & Mobile Charger Making)
मोमबत्ती उत्पादन (Candle Manufacturing)
रबड़ का मोहर (Rubber Stamp)
रेडिमेड वस्त्र निर्माण (Readymade garments)
रौलिंग शटर (Rolling Shutters)
लाह चूड़ी निर्माण (Lac Bangles)
वेब सॉफ्टवेयर डेवलपमेन्ट एवं डिजाईनिंग (Web Software Development & Web Designing Centre)
सीमेन्ट कंक्रीट पोल (Pre-Stressed Cement Concrete Pole)
सीमेन्ट का जाली, दरवाजा एवं खिड़की इत्यादि (Cement Jalli, Doors, windows etc.)
सीमेन्ट ब्लॉक एवं टाइल्स (Paver Block and Tiles)
सैलून (Barber Shop (Saloon)
स्टील का अलमीरा निर्माण (Steel Almirah Manufacturing)
स्टील का फर्नीचर (Steel Furniture)
स्टील का बॉक्स/ट्रंक/रैक निर्माण (Steel Box / Trunk / Racks Manufacturing Unit)
स्टेबिलाइजर/इनवर्टर/यू0पी0एस0/सी0वी0टी0 एसैम्बलिंग (Stabilizer / Inverter / UPS / CVT assembling)
स्पोर्ट्स जूता (Sports Shoes)
हल्के वाहन के बॉडी निर्माण (Light Commercial Vehicle Body Building)
हाथ से बना हुआ कागज (Hand-Made Paper Making)
हॉस्पिटल बेड/ट्राली निर्माण की इकाई (Hospital Bed / Trolleys Manufacturing Unit)
ढ़ाबा/होटल/रेस्टोरेन्ट/फुड ऑन व्हील्स (Establishment of Dhaba/ Hotel/Restaurant/Food on Wheels)

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022 नोडल पदाधिकारी

S. NO.DISTRICTDIVISIONSUB NODAL OFFICER NAMENODAL OFFICER NAME
1PatnaPatna 1Mahendar Kumar
2NalandaPatna 1Mahendar Kumar
3BhojpurPatna 1Mahendar Kumar
4BuxarPatna 2Raju Kumar
5KaimurPatna 2Raju Kumar
6RohtasPatna 2Raju Kumar
7JehanabadMagadhRS UpadhyayGanesh Prasad
8ArwalMagadhRS UpadhyayGanesh Prasad
9AurangabadMagadhRS UpadhyayGanesh Prasad
10GayaMagadhRS UpadhyayGanesh Prasad
11NawadaMagadhRS UpadhyayGanesh Prasad
12East ChamparanTirhutVishnu BhagwanAnil Kumar Singh
13West ChamparanTirhutVishnu BhagwanAnil Kumar Singh
14SitamarhiTirhutVishnu BhagwanAnil Kumar Singh
15SheoharTirhutVishnu BhagwanAnil Kumar Singh
16MuzaffarpurTirhutVishnu BhagwanAnil Kumar Singh
17VaishaliTirhutVishnu BhagwanAnil Kumar Singh
18GopalganjSaranAnish MishraNawal Kishore
19SiwanSaranAnish MishraNawal Kishore
20SaranSaranAnish MishraNawal Kishore
21BegusaraiMungerRakesh KumarAshok Kumar
22KhagariaMungerRakesh KumarAshok Kumar
23MungerMungerRakesh KumarAshok Kumar
24LakhisaraiMungerRakesh KumarAshok Kumar
25SheikhpuraMungerRakesh KumarAshok Kumar
26JamuiMungerRakesh KumarAshok Kumar
27MadhepuraKoshiAvinash KumarSudhanshu Shekhar
28SupaulKoshiAvinash KumarSudhanshu Shekhar
29SaharshaKoshiAvinash KumarSudhanshu Shekhar
30KishanganjPurniaVinod KumarSudhanshu Shekhar
31ArariaPurniaVinod KumarSudhanshu Shekhar
32PurniaPurniaVinod KumarSudhanshu Shekhar
33KatiharPurniaVinod KumarSudhanshu Shekhar
34MadhubaniDarbhangaShyam PrakashKrishna Kumar Rai
35DarbhangaDarbhangaShyam PrakashKrishna Kumar Rai
36SamastipurDarbhangaShyam PrakashKrishna Kumar Rai
37BhagalpurBhagalpurShyam PrakashKrishna Kumar Rai
38BankaBhagalpurShyam PrakashKrishna Kumar Rai

2 thoughts on “Mukhyamantri Udyami Yojana Bihar selection list 2022 online apply”

  1. Chandan Kumar Paswan

    Name chandan Kumar Paswan at post sakhmohan via Narhan district Samastipur word 07 bihar

  2. Pingback: Bihar Chief Minister Udyami Yojana 2022: Online Registration, Application Status Check - Vijay Solutions

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!