मुख्यमंत्री बागवानी फसल बीमा योजना हरियाणा 2022 bagani fasal bima yojana haryana

सरकार ने 2022 तक किसानो को आय को दुगना करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए केंद्र और राज्ये सरकार कई योजना का शुभारम्भ किया है। जिससे किसानो की आय में बढ़ सके। ठीक इसी प्रकार हरयाणा सरकार ने किसानो की आय को बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री बागवानी फसल बीमा योजना की शुरुआत की है। इस मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना में किसानो को बागवानी फसलों पर बिमा प्रदान किया जाएगा । इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको बागवानी फसल योजना हरियाणा से जुडी सम्पूर्ण जानकारी मिल जाएगी। जैसे कि इसके का लाभ है, इसका उद्देश्य,महत्वपूर्ण दस्तावेज,आवेदन करने की प्रक्रिया आदि।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने 22 सितम्बर 2021 को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना के आरंभ करने का निर्णय लिया है। इस योजना के अंतर्गत बागवानी फसलों की प्राकृतिक आपदाओं से से होने वाले नुकसान को काम करने के लिए फसल बिमा किया जाएगा। जैसे फसल में बीमारी लगने, असम्न्य वर्षा, तूफान, सूखा पड़ना, आदि समस्या होने पर किसान के नुकसान को काम करने के लिए सरकार यह बिमा करा रही है। इस बागवानी बीमा योजना में कुल 21 प्रकार के सब्जी, फल,और मसलो की फसल शामिल होगी। किसानो को इस हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना का लाभ लेने के लिए सब्जियों और मसलो की फसल पर 750 रूपए एबं फलो की फसल पर 1000 हजार रूपए की बिमा राशी का भुगतान करना होगा ।

बागवानी फसल बीमा योजना 2022 Important Point

किसानों के नुकसान को देखते हुआ मुख्यमंत्री मनोहर लाल सरकार ने विशेष रूप से इस मुख्यमंत्री बागवानी फसल बीमा योजना के तहत काफी कारणों से होने वाले फसल नुकसान की भरपाई के लिए यह योजना लाया गया है

Scheme Name
Mukhyamantri Bagwani Bima Yojana
Hariyana
Started By Haryana Government
Beneficiary Farmers Of Haryana
Motive To Encourage Farmers To Take Up Horticulture Crop Cultivation
Official Website https://fasal.haryana.gov.in
Year 2021
Amount Of Premium750 For Vegetables And Spices And 1000 For Fruits
Insurance Cover30,000 or 40,000
State Haryana
Application TypeOnline/offline
Helpline No.1800 180 2117
1800 180 2060

मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना में शामिल फसले

इस हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना में आवेदन करना किसानो के लिए वैकल्पिक होगा। किसानो पर कोई दबाब नहीं दिया जाएगा। और इस हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना को पुरे हरियाणा राज्ये में लागू किया जाएगा। किसानो को पंजीकरण के समय अपनी फसल एबं जमीन का सम्पूर्ण विवरण प्रदान करना होगा। इस योजना के लिए हरियाणा सरकार ने करीब 10 करोड़ का बजट पास किया है।

मुख्यंमंत्री हरियाणा बिमा योजन 2021 के अंतर्गत टोटल 20 प्रकार के फसलों को शामिल किया गया है। इसमें 14 प्रकार के सब्जियों की फसले, 4 प्रकार के फलो की फसले और 2 प्रकार के मसलो की फसले शामिल है। इन सभी के नाम कि जानकारी आपको नीचे मिल जाएगी।

1.टमाटमर
2.प्याज
3.आलू
4.फूलगोभी
5.मटर
6.गाजर
7.भिंडी
8.घीया
9.करेला
10.बैंगन
11.हरी मिर्च
12.पत्तागोभी
13.मूली
14.लौकी
15.हल्दी
16.लहसून
17.आम
18.किन्नू
19.बेर
20.अमरुद

उद्देश्य

इस मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना का मुख्य उद्देश्य किसानो की आय को दूगना करना है और इसके साथ ही किसानो को बागवानी की फसलों की खेती के लिए प्रोत्साहित करना है। इस योजना के माध्यम से प्राकर्तिक आपदाओं से होने वाले नुकशान को काम करना है। इस नुकशान की भरपाई सरकार के द्वारा की जाएगी। अब किसानो को प्रकर्ति आपदाओं से नुकशान की चिंता करने की आवशयकता नहीं है। अब किसान अपना पूरा ध्यान फसलों पर लगा सकते है।

इसका मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना के तहत ओलावृष्टि, पाला, वर्षा, बाढ़, आग जैसे मापदंडों को लिया गया है। जिससे फसल को नुकसान होता है। योजना के तहत कुल 21 सब्जी, फल और मसाला फसलों को कवर किया जाएगा।

बागवानी फसल बीमा योजना का लाभ

  • इस हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना की शुरुआत मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा 22 सितम्बर 2021 को किया गया।
  • इस योजना के माध्यम से किसानो को बागवानी फसलों पर प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान पर बीमा कवर(इंस्युरेन्स) दिया जाएगा।
  • इसमें कुल 20 प्रकार के फल,सब्जी और मसाले शामिल किये जायेगे।
  • किसानो को इस हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना का लाभ लेने के लिए सब्जियों और मसलो की फसल पर 750 रूपए के प्रीमियम का भुगतान करना होगा एबं फलो की फसल पर 1000 प्रीमियम का भुगतान करना होगा।
  • किसानो को कवर 30,000 से 40,000 हजार तक कवर इंस्युरेन्स प्रदान किया जाएगा।
  • फसलों के नुकशान को चार भागो में बाटा जाएगा 25 % 50 % 75 % एबं 100 %।
  • योजना में आवेदन करना किसानो के लिए वैकल्पिक(इच्छा अनुसार ) है।
  • इस योजना के लिए हरियाणा सरकार ने 10 करोड़ का बजट निर्धारण किया है।

इंद्रपुरी जलाशय योजना : सात जिलों के किसानों को मिलेगी सिंचाई की सुविधा

 बागवानी फसल बीमा योजना 2022 पात्रता

  • लाभार्थी हरियाणा राज्ये का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • लाभार्थी का किसान होना अनिवार्य है।
  • किसान के द्वारा बागवानी की फसल करनी चाहिए।

मुख्यमंत्री बागवानी फसल बीमा योजना आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • आवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • फसल का ब्योरा
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • ज़मीन का विवरण

मुख्यमंत्री बागवानी फसल बीमा योजना आवेदन करने की प्रक्रिया

सबसे पहले आपको हरियाणा की ऑफिसियल वेबसाइट https://fasal.haryana.gov.in को ओपन कर लें। अब इसका होम पेज ओपन हो जाएगा।

बागवानी फसल बीमा योजना

इसके बाद किसान अनुभाग के ऑप्शन पर क्लिक करे | आपके सामने एक न्यू पेज ओपन हो जाएगा

बागवानी फसल बीमा योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन
  • अपना फ़ोन नंबर और कॅप्टचा कोड भरकर लॉगिन पर क्लिक करे | अब एक फॉर्म ओपन होगा इसमें पूछी गयी सभी जानकारी को सही से भरकर सबमिट पर क्लिक कर दे.आपका रजिस्ट्रेशन मुख्यमंत्री बिमा योजना में हो जायेगा |
  • पंजीकरण प्रिंट पर जाकर रजिस्ट्रेशन फॉर्म को प्रिंट भी कर सकते है |

किसानों को उठाना पड़ता है नुकसान

किसानो को विभिन्न कारणों जैसे किसी फसलों में बीमारी होने , कीटों के द्वारा संक्रमण ,ओलावृष्टि , सूखा आदि से काफी नुकसान उठाना पड़ता है। इस नुकसान की भरपाई को देखते हुए हरियाणा सरकार के द्वारा इस योजना को शुरू किया गया है जिससे किसानो को हुए नुकसान की भरपाई की जा सके। इस बागवानी फसल योजना को का नाम शार्ट में MBBY रखा गया है

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 ऑनलाइन आवेदन शुरू

सब्जी के लिए 30 हजार वही फल के लिए 40 हजार का अनुदान

इस मुख्यमंत्री बागवानी फसल बीमा योजना हरियाणा के तहत किसानो को फ़सान नुकसान होने पर 30 हजार रूपये प्रति एकड़ दिया जायेगा, वही अगर फलो का नुकसान होता है तो 40 हजार रुपए प्रति एकड़ मुआवजा की राशि दी जाएगी। इस फसल बीमा के लिए किसानो को प्रीमियम के रूप में 2.5 प्रतिशत मुआवजा राशि का देना होगा। इस हिसाब से सब्जी व मसाला उपजाने वाले किसानो को 750 रुपया और फल उत्पादन करने वाले किसानो को प्रति एकड़ 1000 रूपये की प्रीमियम राशि देना होगा।

Unique Health Id card 2021 Apply: हेल्थ आईडी कार्ड ऑनलाइन आवेदन / सुधार

बागवानी फसल बीमा योजना को चार भाग में बाटा गया है

मुख्यमंत्री बागवानी फसल बीमा योजना हरियाणा को चार कैटेगरी में बाटा गया है जिसमे सबसे कम 25% उसके बाद 50% फिर 75% और अंत में 100% फसल या फल की नुकसान होने पर मुआवजा की राशि निर्धारित की गई है। इस योजना को पुरे हरियाणा में लागु किया गया है वही इस बीमा योजना को वैकल्पिक रखा गया है मतलब जिस किसान को मर्जी होगा वो किसान इस बीमा योजना को लेंगे जिसको नहीं मर्जी होगा वो नहीं लेंगे। किसानो को इस फसल बेमा योजना का लाभ लेने के लिए मेरी फसल मेरा ब्योरा वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करते समय इस विकल्प को चुनाना होगा तभी इसका लाभ ले सकते है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *