Bihar Janta Darbar 2021 : बिहार जनता दरबार ऑनलाइन आवेदन शुरू

बिहार जनता दरबार 2021 कार्यक्रम पांच वर्षों बाद फिर शुरू किया गया है है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को कहा है कि 12 जुलाई से Bihar Janta Darbar 2021 – “जनता के दरबार में मुख्यमंत्री” की शुरुआत होगी। हर सोमवार को मुख्यमंत्री से लोग आमने-सामने बैठकर अपनी समस्या और शिकायत करेंगे। मुख्यमंत्री ऑनस्पॉट लोगों की समस्याओं के निष्पादन का निर्देश पदाधिकारियों को देंगे।

बिहार  जनता दरबार ( Bihar Janta Darbar 2021 ) कार्यक्रम प्रत्येक माह के प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय सोमवार को 11:00 बजे पूर्वाह्न, संवाद, मुख्यमंत्री सचिवालय, 4 देशरत्न मार्ग, पटना में आयोजित किया जाएगा। “जनता के दरबार में मुख्यमंत्री” कार्यक्रम का आयोजन दिनांक-12.07.2021 (सोमवार) अर्थात् द्वितीय सप्ताह से प्रारंभ किया जाएगा, जिसमें सामाजिक प्रक्षेत्र से जुड़े विषयों यथा – स्वास्थ्य, शिक्षा, समाज कल्याण, पिछड़ा एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण, अनुसूचित जाति जनजाति कल्याण, विज्ञान व प्रावैधिकी, सूचना प्रौद्योगिकी, कला संस्कृति, वित्त, श्रम संसाधन और सामान्य प्रशासन विभाग से जुड़े मामलों पर शिकायतें सुनी जाएंगी।

जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम शुरू करने की तैयारी पूरी कर ली गई है। दो दिनों पहले सीएम ने खुद भी जनता दरबार स्थल का मुआयना किया था। इस बार यह Bihar Janta Darbar 2021 सीएम सचिवालय 4 केजी के परिसर में लगेगा। कोरोना संक्रमण को देखते हुए इस स्थल पर आने वालों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाएगा। इसी के अनुसार लोगों के बैठने की व्यवस्था की गई है। इसके पहले यह कार्यक्रम मुख्यमंत्री आवास एक अणे मार्ग में होता था।

  • जनता दरबार में भाग लेने के लिए तिथि व स्थल की सूचना आवेदक को एसएमएस व ईमेल पर भेजी जाएगी 
  • जिलाधिकारी चिह्नित आवेदकों को जनता दरबार में सुबह दस बजे तक उपस्थित कराने के लिए रवाना करेंगे
  • 5 साल बाद फिर शुरू हो रहा यह कार्यक्रम 
  • 2लाख 77 हजार 249 मामलों का हुआ निष्पादन
  • 241 कार्यक्रम हुए 10 सालों में

Bihar Janta Darbar 2021 Important Point

कार्यक्रम बिहार जनता दरबार/जनता के दरबार में मुख्यमंत्री
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार
कार्यक्रम समय प्रत्येक माह के प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय सोमवार
स्थल सीएम सचिवालय 4 केजी परिसर
राज्य बिहार
आवेदन ऑनलाइन और ऑफलाइन 
website www.jkdmm.bih.nic.in

Bihar Janta Darbar 2021 | बिहार जनता दरबार ऑनलाइन आवेदन प्रकिर्या

Bihar Janta Darbar 2021 प्रारंभ में कोविड-19 संक्रमण को देखते हुए मोबाईल एप JKDMM के माध्यम से समस्या/शिकायत दर्ज करने की व्यवस्था की गयी है । मोबाईल एप website: www.jkdmm.bih.nic.in से डाउनलोड किया जा सकता है।

जिन आवेदकों के पास मोबाईल की सुविधा नहीं है, वैसे आवेदक अपने प्रखंड विकास पदाधिकारी/अनुमंडल पदाधिकारी/जिला पदाधिकारी कार्यालय में जाकर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं, जहाँ आवेदक के शिकायत को जिला / अनुमंडल/अंखड कार्यालय द्वारा मोबाईल एप JKDMM में दर्ज किया जायेगा। इसके लिए आवेदक को आधार संख्या एवं मोबाईल न0 (अपना अथवा किसी परिचित का) देना होगा।

मोबाईल एप में आवेदन दर्ज (submit) करने पर आवेदक को एक यूनिक संख्या उनके मोबाईल न0 पर SMS एवं ईमेल पर प्राप्त होगी। इस यूनिक संख्या के माध्यम से आवेदक अपने दर्ज किये गये आवेदन की स्थिति की जानकारी मोबाईल एप पर प्राप्त कर सकेंगे। Bihar Janta Darbar 2021 में भाग लेने हेतु तिथि एवं स्थल की जानकारी आवेदक को उनके दिये गये मोबाईल न0 पर SMS एवं ईमेल पर भेजी जायेगी।

जिला पदाधिकारी द्वारा सभी चिन्हित् Bihar Janta Darbar आवेदकों को सूचित किया जायेगा और “जनता के दरबार में मुख्यमंत्री” कार्यक्रम की तिथि के पूर्व सभी का RTPCR covid Test कराया जायेगा । कोविड निगेटिव पाये जाने वाले आवेदकों को जिला प्रशासन द्वारा टीकाकरण कर कार्यक्रम स्थल, पटना भेजने एवं वापसी की पूरी व्यवस्था की जायेगी।

वर्तमान में मोबाईल एप के माध्यम से आवेदन प्राप्त करने की व्यवस्था कोविड महामारी के प्रोटोकॉल के अनुरूप है। भविष्य में कोविड महामारी में कमी आने पर “जनता के दरबार में मुख्यमंत्री” कार्यक्रम का आयोजन पूर्व के वर्षों की भांति संचालित किया जाएगा। इसके लिए अलग से सूचना दी जायेगी।

हर माह 3 सोमवार को Bihar Janta Darbar 2021, पहले दिन गृह के मामले

पूर्व की तरह हर महीने के पहले तीन सोमवार को Bihar Janta Darbar / जनता दरबार लगेगा। पहले सोमवार को गृह विभाग, राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग, मद्यनिषेध उत्पाद एवं निबंधन, निगरानी, खान-भूतत्व तथा सामान्य विभाग से संबंधित मामले मुख्यमंत्री सुनेंगे। कार्यक्रम की शुरुआत 11 बजे होगी। दूसरे सोमवार को स्वास्थ्य, शिक्षा, समाज कल्याण, पिछड़ एवं अतिपिछड़ा वर्ग कल्याण, अनुसूचित जाति-जनजाति कल्याण, विज्ञान एवं प्रावैधिकी, सूचना प्रावैधिकी, कला संस्कृति एवं युवा, वित्त, श्रम संसाधन और सामान्य प्रशासन विभागसे संबंधित मामले लिये जाएंगे।

तीसरे सोमवार को ग्रामीण विकास, ग्रामीण कार्य, पंचायती राज, ऊर्जा, पथ निर्माण, लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण, कृषि, सहकारिता, पशु एवं मत्स्य संसाधन, जल संसाधन, लघुजल संसाधन, नगर विकास एवं आवास, खाद्य उपभोक्ता संरक्षण, परिवहन, आपदा प्रबंधन, वन एवं जलवायु परिवर्तन, योजना विकास, भवन निर्माण, पर्यटन, सूचना एवं जनसंपर्क, वाणिज्य तथा सामान्य प्रशासन विभाग के मामले सुने जाएंगे। मुख्यसचिवनेकीसमीक्षाबैठकः मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण ने जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रमशुरू किये जाने को लेकर संबंधित विभागों, सभी प्रमंडलीय आयुक्तों व डीएम के साथ वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से बैठककी।बैठक में गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव चैतन्य प्रसाद और डीजीपीएसके सिंघल समेत अन्य आलाधिकारी शामिल थे।

जनता के दरबार में मुख्यमंत्री -Bihar Janta Darbar 2021

जनता दरबार में आने से पहले टीकाकरण होगा

जिला प्रशासन के द्वारा सभी चिह्नित आवेदकों को सूचित कर जनता के दरबार में मुख्यमंत्री की तिथि के पहले सभी की आरटीपीसीआर जांच एवं टीकाकरण कराया जाएगा। इसके बाद जांच रिपोर्ट के आधार पर कोविड निगेटिव पाये जाने वाले आवेदकों को जिला प्रशासन एक दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी के साथ वाहन से पटना के लिए रवाना करेंगे। जिला प्रशासन द्वारा सभी आवेदकों को उनके आवेदन का प्रिंट उपलब्ध कराया जाएगा, जो वे अपने आधार कार्ड के साथ लाएंगे। प्रशासन द्वारा आवेदकों के लिए आने-जाने के दौरान पेयजल, खाने आदि की व्यवस्था की जाएगी।

जनता दरबार कार्यक्रम की वेबकास्टिंग की जाएगी

पटना। ‘जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम’ को लेकर मुख्यमंत्री सचिवालय 4 केजी के परिसर में 200 कुर्सियां लगाई गई है। कार्यक्रम की वेबकास्टिंग बेल्ट्रान के माध्यम से की जाएगी। इसके अलावा सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग की सोशल मीडिया साइट पर इसे लाइव प्रसारित किया जाएगा। इसे यहां लाइव देखा जा सकता है

https://cm.bihar.gov.in/live

https://www.facebook.com/iprdbihar

https://twitter.com/iprdbihar

https://www.youtube.com/iprdbihar

डीएम ने जनता दरबार स्थल का लिया जायजा पटना। डीएम डॉ.चंद्रशेखर सिंह ने रविवार को मुख्यमंत्री के जनता दरबार स्थल का मुआयना किया। वहां विधि व्यवस्था के बारे में अधिकारियों से बातचीत की। जनता दरबार स्थल पर मजिस्ट्रेट और पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है। 12 जुलाई से मुख्यमंत्री का जनता दरबार होना है। विधि व्यवस्था को देखते हुए डीएम ने अन्य जिलों से आने वाले लोगों के बैठने, वाहनों की पार्किंग, यातायात की समस्या ना हो, इसके लिए ठोस कदम उठाने को अधिकारियों के साथ बातचीत की।

जिलास्तर पर होगी लोगों को लाने की व्यवस्था

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो तरीका पहले जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम का था, वही इस बार भी अपनाया जाएगा। सिर्फ इस समय, चूंकि कोरोना का दौर चला है, इसलिए जो भी लोग आना चाहेंगे, उनको आने की सब सुविधा जिला स्तर पर दी जाएगी। इसके बार में नियम बनाने को हमने कह दिया है। इसकी पूरी जानकारी लोगों को दी जाएगी।

300 से 400 Bihar Janta Darbar आवेदक आएंगे, अभी मोबाइल एप से शिकायत

कोरोना को देखते हुए अधिकतम 300 से 400 आवेदकों को एक दिन बुलाया जाएगा। अभी इसके लिए मोबाइल-एप से समस्या-शिकायत दर्ज कराने की व्यवस्था होगी। जिन आवेदक के पास मोबाइल की सुविधा नहीं है, वे प्रखंड विकास पदाधिकारी-अनुमंडल पदाधिकारी व डीएम कार्यालय जाकर शिकायत दर्ज करा सकते हैं। वहां संबंधित पदाधिकारियों द्वारा आवेदक की शिकायत को मोबाइल-एप में दर्ज किया जाएगा। इसके लिए आवेदक को आधार संख्या व मोबाइल नंबर (किसी परिचित का) देना होगा।

मोबाइलएप में आवेदन दर्ज करने पर आवेदक को एक यूनिक संख्या प्राप्त होगा, जिसका विवरण उन्हें मोबाइल पर एसएमएस और ईमेल पर प्राप्त होगा। इस यूनिक संख्या के माध्यम से आवेदक अपने दर्ज किये आवेदन की स्थिति की जानकारी मोबाइल-एप पर प्राप्त कर सकेंगे। जनता दरबार में भाग लेने के लिए तिथि और स्थल की जानकारी आवेदक को एसएमएस व ईमेल पर भेजी जाएगी। साथ ही उनके संबंधित बीडीओ व संबंधित डीएम द्वारा ” भी सूचना दी जाएगी। कोरोना में कमी आने पर जनता दरबार में आने की व्यवस्था पूर्व की भांति होगी, जिसमें कोई भी आवेदक चिह्नित तिथि को निर्धारित विषय से संबंधित समस्या के आवेदन के साथ उपिस्थित हो सकेंगे।

2006 से 2016 तक लगाथा जनता दरबार

अप्रैल, 2006 से मई 2016 तक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने Bihar Janta Darbar कार्यक्रम किया था। इस संबंध में मुख्यमंत्री ने पटना में पत्रकारों से कहा कि लगातार दो कार्यकाल तक हम हर सोमवार को जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम करते रहे। महीने में तीन सोमवार को यह कार्यक्रम होता था। फिर लोक शिकायत निवारण कानून हमने लोगों के लिए बना दिया। इसके बाद 2016 से हो गया कि अब जनता दरबार कार्यक्रम की कोई जरूरत नहीं है। पर, बाद में कई जगह लोगों ने कहा कि जनता दरबार होना चाहिए। इसके बाद 2020 विधानसभा चुनाव के बाद हमने एलान किया था कि इसे शुरू करेंगे। जनता दरबार और पहले से ही हम करते पर, ऐसा कोरोना का दौर चला, जिससे बाधा हुई। पर, अगले सोमवार से यह काम हम करने वाले हैं।

मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना बिहार 2021 | Bihar Mahila Udyami Yojana

दो लाख,77,249 मामलों का निष्पादन हुआ था दस सालों में

जनता के दरबार में 241 मुख्यमंत्री कार्यक्रम हुए। इस दौरान दो लाख, 77, 249 मामले आए, जिनका निष्पादन किया गया। इसके बाद लोगों की शिकायतों को दूर करने का कानूनी अधिकार दिलाने के लिए पांच जून, 2016 | को राज्य में लोक शिकायत निवारण कानून लागू किया गया। इस कानून के अंतर्गत लोगों की शिकायतें तय समय में दूर करने का प्रावधान किया। इस कानून के तहत अब-तक नौ लाख 78 हजार लोगों ने अपनी शिकायतें कीं। इनमें नौ लाख 27 हजार शिकायतों का निष्पादन कर दिया गया है।

दूर के जिला वालों को रात्रि विश्राम कराया जाएगा

दूर के जिला वालों को एक दिन पहले अर्थात रविवार को ही उनके जिले से रवाना किया जाएगा व रास्ते में रात्रि विश्राम की व्यवस्था होगी। अगले दिन सोमवार को उन्हें जनता दरबार लाया जाएगा। पटना से दूरी को देखते हुए अररिया एवं कटिहार जिला के आवेदकों के लिए बेगूसराय जिला में, किशनगंज एवं पूर्णिया जिला के आवेदकों के लिए समस्तीपुर जिला में, सहरसा एवं सुपौल जिला के आवेदकों के लिए मुजफ्फरपुर जिला में, भागलपुर एवं बांका जिला के आवेदकों के लिए नालंदा जिला में तथा पश्चिम चम्पारण एवं मधेपुरा जिला के आवेदकों के लिए वैशाली जिला में (रविवार) रात्रि आवासन की व्यवस्था की जायेगी। जहां से वे अगले दिन (सोमवार) को Bihar Janta Darbar 2021 कार्यक्रम स्थल (संवाद, मुख्यमंत्री सचिवालय, 4 देशरत्न मार्ग, पटना) के लिए प्रस्थान करेंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!