एसटीइटी 2019 परीक्षा में पास उम्मीदवार सात वर्ष तक बन सकेंगे शिक्षक

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने 28 जनवरी 2020 को रद्द हुए माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (STET) 2019 की पुनर्परीक्षा की तिथि जारी कर दी है जो की 9 सितंबर से 21 सितंबर 2020 के बीच आयोजित की जाएगी यह STET-2019 पुनर्परीक्षा परीक्षा ऑनलाइन ली जायगी |

बिहार बोर्ड की ओर जारी बयान में कहा गया है की STET-2019 पुनर्परीक्षा में जो भी उम्मीदवार सफल होंगे उसे अधिकतम सात वर्षों तक पात्रता परीक्षा के आधार पर शिक्षक बनने के योग्य माना जायेगा. इसके अलावा यह वैधता नियुक्ति के अधिकतम उम्र सीमा तक ही मान्य होगी.साथ ही गणित और विज्ञान के लिए बीटेक उम्मीदवार जो बीएड किये हुए हैं, वह पात्र होंगे.

STET-2019 पुनर्परीक्षा परीक्षा में पास होने के लिए सामान्य जाती के उम्मीदवारों को  50% अंक के साथ उत्तीर्ण होना होगा वहीं, अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति, अत्यंत पिछड़ा वर्ग, पिछड़ा वर्ग और दिव्यांग उम्मीदवारों को कम से कम 45% अंक लाना होगा तभी पास माना जायेगा.

माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (STET), 2019 में सम्मिलित होने के लिए पहले आवेदन किये हुए अभ्यर्थी ही दिनांक 9 सितम्बर, 2020 से 21 सितम्बर, 2020 तक आयोजित STET, 2019 की पुनर्परीक्षा के तहत ऑनलाईन परीक्षा में सम्मिलित होंगे।

ये भी पढ़े : बिहार यूनिवर्सिटी : बीए, बीएससी और बीकॉम में एडमिशन अगले सप्ताह से

बिहार बोर्ड ने STET-2019 ऑनलाइन परीक्षा की नई तिथि जारी की, जाने सभी जानकारी

माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (STET). 2019 में सम्मिलित होने के लिए आवेदन किये हए अभ्यर्थियों को इस पुनर्परीक्षा में शामिल होने के लिए अलग से कोई आवेदन करने की आवश्यकता नहीं हैं तथा अलग से परीक्षा शुल्क देने की भी आवश्यकता नहीं है। माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (STET). 2019 की पुनर्परीक्षा आयोजित करने हेतु माध्यमिक शिक्षक (पेपर-1) एवं उच्च माध्यमिक शिक्षक (पेपर-II) के तहत विषयवार पद का विवरण निम्नरूपेण है:

stet-total-vacancy-2019
stet-total-vacancy-2019

 
परीक्षा में भाग लेने वाले सभी परीक्षार्थियों को परीक्षा शुरू होने के समय से एक घंटा पहले परीक्षा केंद्र पर पहुंचना होगा. एसटीइटी-2019 पुनर्परीक्षा की परीक्षा ऑनलाइन बिहार स्टेट इलेक्ट्रॉनिक्स डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड (बेल्ट्रॉन) के माध्यम से -दो शिफ्ट में होगी, जो ढाई घंटे की होगी, सभी विषयों की परीक्षा के लिए अलग-अलग प्रश्न-पत्र उपलब्ध कराया जायेगा.

bihar-stet-exam-time
  • पात्रता परीक्षा के प्रश्न बहुवैकल्पीय होंगे।
  • प्रत्येक प्रश्न के चार विकल्प होंगे।
  • प्रत्येक प्रश्न एक अंक का होगा
  • निगेटिव मार्किंग नहीं होगी।

 पेपर-1 में पूछे जाने वाले प्रश्नों में 100 अंक निर्दिष्ट विषय-वस्तु से होंगे तथा 50 अंक शिक्षण-कला एवं अन्य दक्षताओं पर आधारित होंगे। जिसमे से निर्दिष्ट विषय-वस्तु100 अंक के और शिक्षण-कला एवं अन्य दक्षता से 50 अंक के प्रश्न पूछे जायेंगे

पेपर-II में पूछे जाने वाले प्रश्नों में 100 अंक निर्दिष्ट विषय-वस्तु से होंगे तथा 50 अंक शिक्षण-कला एवं अन्य दक्षताओं पर आधारित होंगे। इसके अलावा इसी पेपर-II में कम्प्यूटर साइंस विषय के लिए निर्दिष्ट विषय-वस्तु 100 अंक के और सामान्य ज्ञान एवं अन्य दक्षता की परीक्षा 50 अंक के होंगे

कैसे होगा STET पुनर्परीक्षा में उम्मीदवारों का चयन

माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (एसटीइटी-2019 ) पुनर्परीक्षा परीक्षा में पास होने वाले सभी अभ्यर्थियों का उच्च प्राप्तांक से न्यून प्राप्तांक के क्रम में  विषयवार और कोटिवार पद का विवरण उपलब्ध कराये जाने के बाद कुल पद के बराबर शिक्षा विभाग द्वारा अभ्यर्थियों का मेधा सूची जार किया जायेगा. और उसी के आधार पर शिक्षक के लिए चयन किया जायेगा.

  • उक्त परीक्षा में समान अंक प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियों में से अधिक उम्र वाले अभ्यर्थियों को अधिमान देते हुए मेधा सूची में शामिल किया जायेगा।
  • समान प्राप्तांक एवं समान जन्म तिथि होने की स्थिति में स्नातक/स्नातकोत्तर परीक्षा में अधिकप्राप्तांक प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियों को मेधा सूची में शामिल किया जायेगा।
  • समान अंक एवं समान जन्म तिथि एवं स्नातक/स्नातकोत्तर में भी समान प्राप्तांक होने की स्थिति में नाम के अंग्रेजी वर्णमाला (Alphabetical Letter) के अनुसार अभ्यर्थियों की मेधा सूची तैयार की जाएगी।

बिहार के सरकारी स्कूलों के लिए बिहार सरकार की ओर से 37,440 माध्यमिक (वर्ग 9 एवं 10 ) एवं उच्च माध्यमिक (वर्ग 11 एवं 12) शिक्षकों की नियुक्ति के लिए बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के द्वारा एसटीइटी-2019 का आयोजन करा रहा है। इससे पहले 28 जनवरी 2020 को एसटीइटी-2019 परीक्षा का आयोजन किया था। लेकिन कुछ परीक्षा केन्द्रों पर गड़बड़ी की शिकायत ,परीक्षा में धांधलीवाजी एवं प्रश्नपत्र लीक की वजह से बिहार बोर्ड ने जांच कमेटी गठित की थी, जिसके बाद कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर 16 मई 2020 को एसटीईटी-2019 परीक्षा के दोनों पालियों को रद्द कर दिया गया था।

STET-2019 bihar-stet-paper-2

एसटीइटी-2019 परीक्षा की पहली पाली जो की पेपर-1 के लिए था उसमें कुल 1,81,738 अभ्यर्थी शामिल हुए थे. वहीं, दूसरी पाली जो की पेपर-2 के लिए था उसमें कुल 65503 अभ्यर्थी शामिल हुए थे. दोनों को मिला कर कुल 2.47 लाख अभ्यर्थी शामिल हुए थे.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!