“ई-मुलाकात सिस्टम” जेल में कैदी से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग या मिलने के लिए रजिस्ट्रेशन

जेल विभाग द्वारा “ई-मुलाकात सिस्टम” मतलब online jail mulakat चालू किया गया है जिससे घर बैठे ही परिवार वाले कैदियों से वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से मोबाइल फोन, टैब या लैपटॉप से बात कर सकते है l यही नहीं “ई-मुलाकात सिस्टम” का प्रयोग फिजिकली रूप से जेल में मिलने के लिए ऑनलाइन आवेदन (emulakat registration) भी कर सकते है

वर्तमान समय में नोवेल कोरोना वायरस (Covid-19) को विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा महामारी घोषित किया गया है। पुरे भारत में की काराओं में संसीमित बंदियों में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने एवं उससे बचाव हेतु Social Distancing बनाये रखने के उद्देश्य से जेल में बंद बंदियों के परिजनों को कारा आकर मुलाकात करने की व्यवस्था को पूर्ण रूप से प्रतिबंधित किया गया है जिसके कारण परिजनों/डॉक्टरों एवं अधिवक्ताओं को काफी परिसानी हो रही है जिसको देखते हुए “ई-मुलाकात सिस्टम” चालू किया गया है

मुलाकाती व्यवस्था के प्रतिबंधित होने से बंदियों में संभावित मानसिक तनाव की स्थिति को दृष्टिपथ में रखते हुए कारा निरीक्षणालय ने बंदियों से मुलाकात के लिए “ई-मुलाकाती सिस्टम” लागू कर दिया है। अब बंदी कारा से ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अपने परिवार के परिजनों/डॉक्टरों एवं अधिवक्ताओं से मुलाकात कर सकते हैं।

ई-मुलाकात सिस्टम – ऐसे करना होता है आवेदन

ई-मुलाकाती सिस्टम की सुविधा का उपयोग करने हेतु इच्छुक लोगों को भारत सरकार के ई-प्रिजन के बेब पोर्टल “www.eprisons.nic.in”, पर निबंधन (Registration) करना होगा. जिसके लिए eMulakat वाले ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.

ई-मुलाकाती-सिस्टम-online-jail-mulakat-emulakat-registration
ई-मुलाकाती-सिस्टम-online-jail-mulakat-emulakat-registration

जिसके बाद एक फॉर्म भरना होगा जिसके एक साइड में मिलने वाले का नाम, पता , कैदी से सम्बन्ध आदि जानकारी देना होगा. वही फॉर्म के दूसरे साइड में कैदी का नाम, जेल का नाम, तिथि आदि बताना होगा. दोनों साइड का फॉर्म भर देने के बाद सबमिट करना होगा. जिसके बाद eMulakat के लिए आवेदन की प्रकिर्या पूर्ण होता है.

जब आप आवेदन कर देते है उसके बाद कारा प्रशासन के द्वारा सत्यापन हो जाने पर इसकी जानकारी दिए गए मोबाइल तथा ई-मेल पर भेज कर बता दिया जाता है जिसके बाद दिए हुए टाइम पर वीडियो कालिंग या वह जा कर मिल सकते है।

इस नई व्यवस्था के लागू होने से काराओं में संसीमित बंदियों के परिजनों द्वारा अपने बंदी से आसानी से ई-मुलाकात कर सकेंगे। ई-मुलाकाती व्यवस्था के तहत बंदी के रिश्तेदार एवं उनके केस की पैरवी कर रहे वकील को ही इसकी सुविधा मिलेगी।

ये भी पढ़ें- Udyami Yojana Bihar | बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2021 ऑनलाइन आवेदन

इसके अतिरिक्त राज्य की सभी काराओं में टेलीफोन बूथ अधिष्ठापित किया गया है। बंदियों द्वारा अपने परिजनों के उपलब्ध कराये गये लैंडलाईन नंबर/मोबाईल नंबर पर भी बातचीत की सुविधा “टेलीफोन बूथ” के माध्यम से दी जा रही है।

e mulaqat visit status

ऑनलाइन आवेदन करने के बाद स्टेटस भी चेक कर सकते है जिसके लिए eMulakat के वेबसाइट पर दिए
Visit Status वाले ऑप्शन पर क्लिक कर स्टेटस चेक कर सकते है जिसके लिए Registration No देने होगा जो की आवेदन करे समय मिलता है इसके अलावा कॅप्टचा कोड देना होगा जो की वही लिखा होता है

इस पोस्ट में हमने आपको बताया की online jail mulakat क्या है हमें उम्मीद है की e mulakat jail के बारे में आपको सभी जानकारी मिल गया होगा अगर prison emulaqatसे सम्बंधित आपके पास कोई प्रश्न है तो कृपया कमेंट कर के पूछे हम उसका जबाब जल्द से जल्द देने के कोशिश करेंगे। और लेटेस्ट वीडियो देखने के लिए हमारा YouTube चैनल Subscribe जरूर करे

दो साल बाद बंदियों से फिर से हो सकेगी मुलाकात

कोरोना के चलते दो साल से बंदियों से फिजिकल मुलाकात पर लगी रोक अब खत्म हो रही है। जेल में बंद बंदियों से अब फिजिकल मुलाकात की जा सकेगी, लेकिन इसके पहले बंदियों के परिजनों को एनपीआईपी के पोर्टल इप्रीजन डॉट एनआईसी डॉट इन पर जाकर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा। रजिस्ट्रेशन के बाद संबंधित बंदियों के परिजनों को ई-मेल पर ही मुलाकात की तारीख दी जाएगी। दी गई तारीख पर ही परिजन अपने बंदियों से सप्ताह में एक ही दिन वीडियो कांफ्रेसिंग या फिर फिजिकल मुलाकात कर सकेंगे। ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराने में कोई दिक्कत न हो, इसके लिए गांव-गांव खोले गए सीएसपी केंद्र में भी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की सुविधा दी गई है।

मास्क लगाना होगा अनिवार्य:

 बेऊर जेल अधीक्षक इं. जितेंद्र कुमार ने बताया कि पोर्टल पर मुलाकाती रजिस्ट्रेशन के लिए कुल आठ चरण में प्रक्रिया पूरी करनी होगी। मुलाकात करने वाले को अपना नाम, पता, ई-मेल आईडी व बंदी का नाम, पिता का नाम, पता, मोबाइल नंबर आदि डिटेल सही-सही भरना होगा। विजिट मोड के विकल्प में वीडियो कांफ्रेसिंग व फिजिकल मुलाकात का विकल्प चुनना होगा।

चुने गए विकल्प के आधार पर ही सप्ताह में एक दिन मुलाकात की व्यवस्था की जाएगी। बताया कि मुलाकात केंद्र में बंदी और मुलाकाती दोनों को मास्क पहनने के साथ ही सोशल डिस्टेसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा। सामाजिक दूरी का पालन करने के लिए मुलाकाती केंद्र में ग्लास व इंटरकाम लगाया जा रहा है।

6 thoughts on ““ई-मुलाकात सिस्टम” जेल में कैदी से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग या मिलने के लिए रजिस्ट्रेशन”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!