SBI Mutual Fund Me Paisa Kaise Lagaye in Hindi

आपने काफी बार सुना होगा की mutual fund sahi hai अगर आप भी Mutual Fund में पैसा लगाना चाहते है तो आज के इस पोस्ट में मै आपको बताने जा रहा हूँ की SBI Mutual Fund में कैसे आप पैसा लगा सकते है म्यूच्यूअल फण्ड लोग ज्यादा तर पैसा थोड़े थोड़े कर के लगते है जिसको SIP कहते है SIP के जरिए म्यूच्यूअल फण्ड में पैसा निवेश करना अच्छा होता है। और म्यूचुअल फंड में अच्छा रिटर्न भी मिलता है साथ ही शेयर बाजार की तुलना में जोखिम भी काफी कम होता है अगर आप SIP लम्बे समय के लिए म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करते है तो आपको अच्छा खासा रिटर्न मिल सकता है।

SBI भारत की सबसे बड़ी बैंक है जो की म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) में भी बिज़नेस करती है आपके जानकारी के लिए SBI म्यूचुअल फंड, एसेट मैनेजमेंट कंपनी (AMC) और भारतीय स्टेट बैंक द्वारा चलाये जाने वाला एक प्रमुख म्यूचुअल फंड है।

म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) क्या है?

साधारण भाषा में कहे तो म्यूचुअल फंड कंपनियां निवेशकों से मतलब लोगो से पैसे लेती हैं और उस पैसे को शेयर बाजार, बांड और गवर्नमेंट सिक्युरिटीज इत्यादि में लगा देती है मतलब यह है की जो पैसा आप SIP के रूप में किसी भी कंपनी को देते है वो कंपनी आपके पैसे को शेयर बाजार, बांड और गवर्नमेंट सिक्युरिटीज में लगा देते है लगाने के बाद जो प्रॉफिट होता है उसमे से अपना फी ले कर बाकी पैसा आपको दे देते है।

आपके द्वारा जमा किये गए पैसा को मैनेज करने के लिए म्यूचुअल फंड कंपनी फंड मैनेजर को रखती है जिनको शेयर मार्केट की अच्छी जानकारी होती है ये फंड मैनेजर अपनी समझ से ऐसे कंपनी के फंड में निवेश करते हैं जिसमें ज्यादा से ज्यादा मुनाफा हो. फंड मैनेजर पैसे को किसी एक शयर में लगाने के बजाये अलग अलग शेयर में या एसेट में पैसा लगते है जिसके अगर किसी एक में जोखिम है तो दूसरे में उसकी पूर्ति कर लिया जाता है।

SIP क्या होता है

SIP का फुल फॉर्म Systematic Investment Plan है मतलब की आप हर महीने, तीन महीने, छह महीने या सालाना एक फिक्स राशि तय समय पर म्यूचुअल फंड में निवेश करते है.जिससे धीरे धीरे काफी रकम जमा हो जाता है और लोगो पर आर्थिक बोझ भी नहीं पड़ता है. और समय पड़ने पर यह निवेश अच्छा खासा रेतरूं के साथ मिल जाता है SIP में आपकी तरफ से तय की गई तारीख को आपकी तरफ से तय की गई रकम आपके बैंक अकाउंट से अपने आप ही कट कर म्युचुअल फंड कंपनी में चली जाती है।

म्यूचुअल फंड के प्रकार

ग्रोथ/ इक्विटी म्यूचुअल फंड : इस इक्विटी म्यूचुअल फंड में निवेशक के पैसा का ज्यादा हिस्सा इक्विटी में लगया जाता है जिसके कारण उससे सबसे ज्यादा रिटर्न इसी में मिलता है साथ ही रिस्क भी सबसे ज्यादा ग्रोथ/ इक्विटी म्यूचुअल फंड में ही होता है.

डेट/इनकम स्कीम: यह उनके लिए सबसे अच्छा स्किम है जो ज्यादा रिस्क नहीं लेना चाहते हैं क्योकि इसका ज्यादातर पैसा बॉन्ड्स, कंपनियों के डिबेंचर और सरकारी सेक्युरिटी में लगया जाता है जिससे एक नियमित और स्थिर रिटर्न मिलता हैं. डेट/इनकम स्कीम में पैसा लगाने से शेयर मार्किट के ऊपर नीचे होने से कोई फर्क नहीं पड़ता है इक्विटी म्यूचुअल फंड के मुकाबले इसमें कम रिटर्न मिलता है.

बैलेंस्ड फंड/ हाइब्रिड स्कीम: बैलेंस्ड फंड का पैसा इक्विटी और डेट् दोनों में निवेश किया जाता है जिसका रेश्यो 40:60 का होता है
सॉल्यूशन ओरिएंटेड स्कीम: इस स्किम में पैसा किसी लक्ष्य या समाधान के हिसाब से बनाया जाता हैं जिसमे रिटायरमेंट स्कीम या बच्चे की शिक्षा जैसे लक्ष्य के लिए निवेश किया जाता हैं इस सॉल्यूशन ओरिएंटेड स्कीम में पैसा कम से काम पांच साल के लिए लगया जाता है।

SBI म्यूचुअल फंड में पैसा कैसे लगाए

SBI म्यूचुअल फण्ड में पैसा लगाने के लिए सबसे पहले ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा. इस वेबसाइट पर जाने के बाद एक अकाउंट बनना होगा. अकाउंट बनाने के बाद KYC कारण होगा. अब आपका अकाउंट और kyc की प्रकिर्या पूर्ण हो जाता है उसके बाद porfolio बनाना करना होगा और अंत में इन्वेस्ट करना होगा. इन सभी प्रकिर्या को एक एक कर के बताएंगे तो ध्यान से इस पोस्ट को पढ़े।

स्टेट बैंक (SBI) म्यूचुअल फंड के वेबसाइट पर रजिस्टर कैसे करें

अकाउंट बनाने के लिए सबसे SBI Mutual Fund के ऑफिसियल वेबसाइट www.sbimf.com पर जाना होगा.

sbi mutual fund me invest kaise kare,

इस वेबसाइट पर जाने के बाद New Customer वाले ऑप्शन को चुनने के बाद Register पर क्लिक करना होगा. जिसके बाद जो पेज खुलेगा उसमे New User वाले ऑप्शन पर क्लिक कर पैन कार्ड, ईमेल आइडी मोबाइल नंबर और पासवर्ड दे कर रजिस्टर करना होगा.

sbi kyc online registration

जब अकाउंट बन जाता है उसके बाद KYC की प्रकिर्या शुरू होता है जिसके लिए कुछ जरुरी डॉक्यूमेंट स्कैन कर या फिजिकल रूप से रखना होगा.

  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड या आधार लिंक मोबाइल नंबर
  • कैंसिल चेक
  • सिग्नेचर

इन सभी डॉक्यूमेंट का स्कैन कॉपी अपलोड करना होगा जो की तैयार रखना होगा. अगर आपके पास स्कैन कॉपी नहीं है तो अपने मोबाइल, टैबलट या स्मार्ट फ़ोन की मदद से कैमरा और ऑडियो की मदद से दिखा कर भी कर सकते है लेकिन इसमें एक से दो दिन का टाइम लग सकता है वही अगर आपके पास सभी का स्कैन कॉपी और आधार रजिस्टर मोबाइल नंबर है तो kyc तुरंत हो जायेगा.

रजिस्टर करते वक्त अलग अलग स्टेप में आधार, पैन कार्ड और बैंक खाता की जानकारी मांगा जाता है जिसको देना होगा साथ ही सिग्नेचर और दूसरे जरुरी डॉक्यूमेंट भी अपलोड करना होगा. जिसके बाद kyc की प्रकिया पूर्ण होता है

KYC प्रकिर्या की स्टेप बाय स्टेप वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

How to Create New Folio in SBI Mutual Fund

kyc होने के बाद Folio बनना होता है जिसके लिए फिर से नाम पता, आधार और बैंक खाता की जानकारी देना होता है साथ ही नॉमिनी की भी जानकारी देना होता है ता की आपके साथ किसी तरह की अप्रिय दुर्घटना होने पर नॉमिनी को सभी राशि दिया जा सके.

जब आपका Folio क्रिएट हो जाता है उसके बाद आपका Folio नंबर दिख जायेगा साथ kyc का स्टेटस और सभी जानकारी दिख सकते है अब आपको इन्वेस्टमेंट की जानकारी देना होगा.

SBI Mutual Fund के New Folio बनाना जानने के लिए लिए यहाँ क्लिक करें

SBI Mutual Fund Investment Process

kyc और folio बनाने के बाद इन्वेस्टमेंट का process करना होगा जिसके लिए सबसे पहले स्कीम को चुना होगा. जिस भी SBI Mutual Fund के स्किम में आप अपना पैसा इन्वेस्ट करना चाहते है उस स्किम को चुनना होगा. साथ ही ये बताना होगा की कितना investment, Monthly, Quarterly, Half yearly या annually करना चाहते है. अगले स्टेप में नेट बैंकिंग या डेबिट कार्ड की मदद से Mode of Investement चुनना होगा. ताकि दिए हुए समय पर आटोमेटिक SIP लिया जा सकें.

“ई मुलाकात सिस्टम” जेल में कैदी से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग या मिलने के लिए रजिस्ट्रेशन

इस तरीके से SBI Mutual Fund में इन्वेस्टमेंट करने की प्रकिर्या पूर्ण होता है और आपके द्वारा दिए गए नेट बैंकिंग या डेबिट कार्ड डिटेल की मदद से आपका SIP चालू हो जाता है|

YouTube video

Mutual Fund का बैलेंस कैसे चेक करें

म्यूच्यूअल फण्ड का बैलेंस चेक करने के लिए ऑफिसियल वेबसाइट https://www.sbimf.com/en-us/login पर जाना होगा जहाँ अकाउंट बनाते समय जो ईमेल और पासवर्ड देते है उसकी का इस्तेमाल करना होगा . अगले स्टेप में पैन कार्ड नंबर मांगा जायेगा. जिसको dene के बाद SBI Mutual Fund का बैलेंस दिखा देगा.

sbi mutual fund balance check- म्यूचुअल फंड

यहाँ आपको सभी जानकारी होगा जैसे कितना पैसा आपने इन्वेस्ट कर रखा है और जिस दिन आप चेक कर रहे है उस दिन उसका valu कितना है

SIP कैसे कम करें

काफी बार ऐसा होता है की आर्थिक स्थिति ठीक का होने के कारण अपना अपना SIP कम करना चाहते है जिसके लिए SBI द्वारा ये सुविधा दिया गया है की निवेशक अपना SIP कम कर सकते है जिसे लिए ऑफिसियल वेबसाइट पर लॉगिन करना के बाद My Systematic Transactions पर क्लिक करना होगा. जसके बाद अगले पेज में Modify पर Click कर SIP कम कर सकते है.

SIP कम करने की प्रकिर्या स्टेप बाय स्टेप वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

3 thoughts on “SBI Mutual Fund Me Paisa Kaise Lagaye in Hindi”

  1. अगर 10लाख की 10साल की एफडी करवा कर उस से महीने दर महीने ब्याज लेकर उसको म्यूचुअल फंड में निवेश कर सकते हैं क्या

Leave a Comment

Your email address will not be published.