बीज अनुदान के लिए ऑनलाइन आवेदन करे

किसानों को अधिक एवं गुणवत्तायुक्त उत्पादन के लिए बिहार सरकार के ओर से सब्सिडी पर उन्नत एवं प्रमाणित बीज लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन मांगे जाते है जिसके लिए जो किसान बीज अनुदान का लाभ उठाना चाहते हैं वो DBT Aggriculture के आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन कर सकते हैं । ये भी पढ़े : मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति उद्यमी योजना बिहार सरकार

बीज-अनुदान

किसान घर बैठे अपने मोबाईल/लैपटाप से अनुदान आवेदन कर सकते हैं जिसके लिए 13 अंकों का किसान पंजीकरण संख्या भरना अनिवार्य होगा अगर किसान खुद से नहीं आवेदन फॉर्म भर सकते तो अपने नजदीकी कामन सर्विस केंद्र या वसुधा केंद्र से भी ऑनलाइन करवा सकते हैं । ये भी पढ़े : वोटर कार्ड (मतदाता पहचान पत्र) स्लिप फोटो के साथ डाउनलोड करें

बीज अनुदान के लिए जरुरी बातें:-

  • अनुदान में लिए गए बीज का प्रयोग – खेती के अलावा किसी अन्य प्रयोजन में इस्तेमाल नहीं किसान नहीं कर सकते।
  • फसल अवशेष को नहीं जला सकते।
  • बीज अनुदान में मांग की गयी बीज का उठाव नहीं करने पर कृषि विभाग की योजनाओ में लाभ लेने हेतु अगले तीन वर्षो के लिए वंचित कर दिया जाएगा।
  • एक किसान को अधिकतम 5 एकड़ के लिए बीज दिया जायेगा।
  • 8 किग्रा0 का होम डिलीवरी शुल्क 100 रू0।
  • 16 एवं 20 किग्रा0 का होम डिलीवरी शुल्क 200 रू0।
फसल का नामयोजनाअनुमानित मूल्य (रू0 /कि0 ग्राम10 वर्ष से कम के प्रभेद (अनुमान्य अनुदान )10 वर्ष से अधिक के प्रभेद (अनुमान्य अनुदान)
मूंगN.F.S.M 2020111.90मूल्य का 50%25.00 रु0 प्रति कि.ग्राम
उरदN.F.S.M 202095.00मूल्य का 50%
मूंगफलीN.F.S.M 202095.0040.00 रु0 प्रति कि.ग्राम
सूर्यमुखीN.F.S.M 2020299.5040.00 रु0 प्रति कि.ग्राम
संकर मक्काN.F.S.M 2020122.0070.00 रु0 प्रति कि.ग्राम

बीज अनुदान योजना के अंतर्गत किसानों तक सुलभता पूर्वक बीज पहुँचाने के लिए में सात जिलों बांका, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, नवादा, गया, समस्तीपुर एवं रोहतास में प्रयोग के तौर पर सशुल्क होम डिलीवरी की वयवस्था की जा रही है।

बीज अनुदान के सभी स्टेप देखने के लिए नीचे दिए गए वीडियो को देखे और और लेटेस्ट वीडियो देखने के लिए हमारा YouTube चैनल Subscribe जरूर करे ,  अगर बीज अनुदान से सम्बंधित आपके पास कोई प्रश्न है तो कृपया कमेंट कर के पूछे | हम उसका जबाब जल्द से जल्द देने के कोशिश करेंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!