Bihar bhu naksha order online : बिहार जमीन का नक्शा घर बैठे ऑनलाइन मंगवाए

Bihar bhu naksha order online: बिहार में जमीन के राजस्व नक्शा की होम डिलीवरी जुलाई 2021 से शुरू हो जाएगी। इसी के साथ रैयत को उसकी जमीन का नक्शा घर पर पहुंचाने वाला बिहार पहला राज्य होगा। ​राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग जुलाई के अंत तक राज्य भर में नक्शे की डोर स्टेप डिलीवरी शुरू कर देगा. नक्शा के लिए ऑनलाइन आवेदन के साथ ही गेटवे के जरिये ऑनलाइन पेमेंट करने की सुविधा रहेगी. नक्शों की डिलीवरी के लिए डाक विभाग और बैंक के साथ बिहार सर्वेक्षण कार्यालय द्वारा एमओयू पर हस्ताक्षर किया जा चुका है। सिक्यूरिटी ऑडिट भी हो चुकी है। भुगतान के लिए बैंक अलग से कोई शुल्क नहीं लेने पर सहमत हो गए हैं। सभी प्रमुख बैंक इस सुविधा से जुड़े हुए हैं। अभी लोगों को नक्शा के लिए गुलजारबाग सर्वेक्षण कार्यालय जाना होता है।

शुक्रवार को भू-अभिलेख एवं परिमाप निदेशक जय सिंह ने गुलजारबाग स्थित सर्वेक्षण कार्यालय जाकर राजस्व मौजों की होम डिलीवरी की तैयारियों का जायजा लिया। कहा कि डाक विभाग द्वारा नक्शों की डिलीवरी में स्पीड पोस्ट सेवा की सुविधा दी जाएगी। इसके लिए आवश्यक पांच लाख बार कोड का आवंटन डाक विभाग द्वारा किया जा चुका है। हर कंटेनर पर बार कोड जेनेरेटेड स्टिकर लगाया जाना है। सुरक्षा के लिहाज से नक्शों को कंटेनर में रखकर रैयतों को उपलब्ध कराया जाना है। डाक चार्ज नक्शे के वजन के मुताबिक देय होगा।

एक कंटेनर की कीमत 35 रुपये निर्धारित की गई है और एक कंटेनर में अधिकतम पांच नक्शों को पैक किया जा सकता है। तीन नक्शा समेत कंटेनर का डाक शुल्क 100 रुपये निर्धारित किया गया है जबकि तीन से ज्यादा नक्शे का डाक शुल्क 150 रुपया तय किया गया है। बिहार सर्वेक्षण कार्यालय, गुलजारबाग द्वारा कंटेनर की खरीद भी की जा चुकी है।

ऐसे करना होगा bihar bhu naksha order online के लिए ऑनलाइन आवेदन

नक्शे की ऑनलाइन डिलीवरी के लिए सबसे पहले भू-अभिलेख और परिमाप निदेशालय की वेबसाइट dirs.bihar.gov.in पर जाकर doorstep delivery system सॉफ्टवेयर को क्लिक करना होगा. पेज पर रैयत को जिला, राजस्व थाना और मौजासेलेक्ट करने का ऑशन आयेगा. इसका चयन करने के पर उस गांव का नक्शा एक या एक से अधिक शीट में दिखाई देगा. एक बार में अधिकतम पांच शीट को सेलेक्ट किया जा सकता है. जो भी शुल्क शीट, संख्या और वजन के मुताबिक निर्धारित है, वह साइट पर दिख जायेगा. पेमेंट गेटवे में डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड और यूपीआइ से भुगतान की सुविधा दी गयी है.

पोस्ट कोविड काल में ऐसी व्यवस्था की आवश्यकता शिद्दत से महसूस की जा रही थी. इससे काउंटरों के बाहर लगने वाली लंबी-लंबी कतारों से मुक्ति मिलेगी व पारदर्शिता आयेगी. आम लोगों को भी नक्शे के लिए बेवजह की भाग-दौड़ से मुक्ति मिल जायेगी. यह कदम लोक सेवाओं को जनता के द्वार तक पहुंचाने की दिशा में क्रांतिकारी कदम माना जा रहा है.
विवेक कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव, राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग |

एक बार अधिकतम पांच शीट का आर्डर

नक्शे की ऑनलाइन डिलीवरी के लिए अधिक शीट में दिखाई देगा। एक बार सबसे पहले भू-अभिलेख और परिमाप में अधिकतम पांच शीट सेलेक्ट किया निदेशालय की वेबसाइट पर जाकर जा सकता है। जो भी शुल्क शीट, सॉफ्टवेयर को क्लिक करना होगा। संख्या और वजन के मुताबिक पेज पर रैयत को जिला, राजस्व थाना निर्धारित है, वह साइट पर दिख एवं मौजा सेलेक्ट करने का ऑप्शन जाएगा। पेमेंट गेटवे में डेबिट कार्ड, आएगा। संबंधित सेलेक्शन के अनुरूप क्रेडिट कार्ड एवं यूपीआई से भुगतान उस गांव का नक्शा एक या एक से की सुविधा दी गई है।

Bihar bhu naksha order online Important Point

  • डाक विभाग से राजस्व विभाग ने किया एमओयू
  • तीन नक्शा समेत कंटेनर का डाक शुल्क सौ रुपये तय
  • .गुलजारबाग जाकर तैयारी की समीक्षा की निदेशक ने
  • 150 रुपये लगेगा तीन से अधिक नक्शा मंगाने पर डाक शुल्क
  • 05 लाख बार कोड का आवंटन डाक विभाग ने किया
  • डाक विभाग और बैंक के साथ एमओयू, शुल्क भी तय

विभाग के इस कदम से लोगों को काफी सहूलियत होगी. दलालों और बिचौलियों पर प्रभावी अंकुश लगेगा. जिलों में प्लॉटर के जरिये नक्शों की आपूर्ति पहले की तरह जारी रहेगी. साथ ही भू मानचित्र सॉफ्टवेयर के जरिये रैयत ए-4 साइज के कागज में फ्री में प्रिंट कर सकते है.
राम सूरत कुमार, मंत्री, राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग

Bihar Janta Darbar 2021 : बिहार जनता दरबार ऑनलाइन आवेदन शुरू

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!