Game Developer Kaise Bane Hindi 2022 | video game development course, eligibility, and Colleges

आज के इस डिजिटल युग में ज्यादातर लोग गेमिंग (gaming) को शौक के रूप में लेते हैं, लेकिन आज के इस डिजिटल युग में यह उससे कहीं अधिक है अब गेमिंग सिर्फ मनोरंजन का साधन नहीं रह गयी, बल्कि करियर के लिहाज से यह एक बेहतरीन इंडस्ट्री का रूप ले चुकी है अगर आप गेमिंग में अपना करियर बनना चाहते (career in gaming industry) है तो game developer या game designer के रूप में अपना करियर बना सकते हैं और इस इंडस्ट्री के माध्यम से बहुत कुछ कमा सकते हैं। आज के इस पोस्ट में मै आपको बताऊंगा की किस तरह से Video Game Developer या Game Designer Kaise Ban Sakte Hai. इसके अलावा इस पोस्ट में बताऊंगा की भविष्य में Game Designing या game developing में क्या Career Scope है साथ ही Game Developer बनने के लिए कौन सा कोर्स करना होगा और Top Game Development Colleges कौन कौन सा है।

Game-Developer-Kaise-Bane-Hindi

आज के इस समय में मोबाइल गेम (Mobile Game) खेलने वाले लोगो की संख्या लागातार बढ़ती जा रही है और इस गेम यूजर्स की संख्या में लगातार हो रही बढ़ोतरी के चलते ही भारत को उभरते हुए गेमिंग हब के रूप में देखा जा रहा है और यहाँ गेम बनाने वाले लोगो की मांग भी बढ़ती जा रही है | ऐसे में यदि आप भी गेम डेवलपमेंट (game development) में रुचि रखते हैं, तो इस क्षेत्र में करियर की बेहतरीन संभावनाएं तलाश सकते हैं.

इन स्किल्स का होना है आवश्यक | Video Game Developer Skills

गेम को खेलने में जितना मज़ा आता है उस गेम को डेवेलोप करने में उतना ही मुश्किल होता है गेमिंग डिज़ाइनर, गेम की Story script और उसके करैक्टर जैसे चीजों की कल्पना करता है और गेम डेवलपर कल्पना की गई इन सभी चीजों को रियलिटी में बदलकर गेम बनाता है इसलिए गेमिंग के क्षेत्र में सफल होने के लिए गेम के प्रति रुचि एवं दिलचस्पी का होना अत्यंत आवश्यक है. इसके आलावा आपको सॉफ्टवेयर के बारे में पता होना चाहिए और गेम प्ले थ्योरी को समझना आना चाहिए. एक गेम डिजाइनर में टाइम मैनेजमेंट की खूबी होना बहुत ही जरूरी है. साथ ही आपको स्केचिंग, ड्रॉइंग, मनुष्यों, पशुओं व पक्षियों की एनॉटमी एवं उनके बॉडी मूवमेंट्स की जानकारी और लाइटिंग इफेक्ट्स के बारे में भी जानकारी होनी चाहिए.

video-game-course,-eligibility,-and-Colleges

तेजी से बढ रहा गेमिंग का कारोबार

Gaming Business in India: कोविड-19 के चलते आज कई क्षेत्र संकट का सामना कर रहे हैं. इसके विपरीत ऑनलाइन गेमिंग ऐसे सेक्टर के रूप में सामने आया है, जिसने तेज वृद्धि हासिल की है. एक रिपोर्ट के अनुसार वित्त वर्ष 2022-23 तक भारत में इ-गेमिंग या ऑनलाइन गेमिंग का कारोबार 11,900 करोड़ रुपये के आंकड़े तक पहुंचने की उम्मीद है. वहीं ऑनलाइन गेमिंग इन इंडिया रिपोर्ट के अनुसार 2021 तक 20 फीसदी की वृद्धि के साथ भारत का ऑनलाइन गेमिंग कारोबार 1 अरब डॉलर के करीब होने का अनुमान है. इस रिपोर्ट के मुताबिक बीते कुछ महीनों में ऑनलाइन गेम सर्च करनेवालों की संख्या में 117 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गयी है. भारत ही नहीं, बल्कि ऑनलाइन गेमिंग का कारोबार पूरी दुनिया में तेजी से बढ़ रहा है.

गेम डेवलपर या डिज़ाइनर का कोर्स कब कर सकते है?

किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से दसवीं (1oth) पास करने के बाद कोई भी छात्र/छात्रा गेम डेवलपिंग या गेम डिजाइनिंग (Game designer) में सर्टिफिकेट कोर्स कर सकता है और गेम डेवलपर या डिजाइनिंग के रूप में नौकरी कर सकता है. लेकिन अगर आप गेमिंग में सफलता की ऊंचाइयों को छूना चाहते हैं, तो आपके लिए बारहवीं (12th) के बाद डिप्लोमा या डिग्री लेवल का कोर्स करना बेहतर होगा. आगे चल कर गेम डिजाइनिंग में बैचलर डिग्री के बाद मास्टर्स भी कर सकते हैं.

गेम डेवलपर कोर्स

आज के समय में Game Developing के क्षेत्र में कैरियर बनाने के लिए सर्टिफिकेट कोर्स से लेकर पोस्ट ग्रेजुएशन लेवल तक काफी कोर्स मौजूद हैं। इन कोर्सेज में से आप अपनी Qualification और interest के अनुसार किसी भी gaming कोर्स में एडमिशन लेकर गेमिंग इंडस्ट्री में नौकरी कर करियर बना सकते हैं।

सर्टिफिकेट एंड डिप्लोमा कोर्सेज लिस्ट | Game Development Diploma Courses

  • सर्टिफिकेट कोर्स इन गेम आर्ट एंड डिजाइन.
  • डिप्लोमा इन गेम डिजाइन एंड इंटीग्रेशन.
  • डिप्लोमा इन एनिमेशन, गेमिंग एंड स्पेशल इफेक्ट.
  • एडवांस्ड डिप्लोमा इन गेम आर्ट एंड 3डी गेम कंटेंट क्रिएशन.
  • एडवांस्ड डिप्लोमा इन गेम प्रोग्रामिंग

बैचलर कोर्सेज लिस्ट

  1. बीएससी इन ग्राफिक्स, एनिमेशन और गेमिंग
  2. बीए इन डिजिटल फिल्ममेकिंग एंड एनिमेशन
  3. बीटेक इन कंप्यूटर साइंस और गेम डेवलपमेंट
  4. बीएससी इन एनिमेशन गेम डिजाइन और डेवलपमेंट
  5. बीसीए इन गेम डेवलपमेंट

पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्सेज लिस्ट

  • इंटीग्रेटेड एमएससी इन मल्टीमीडिया एंड एनीमेशन
  • एमएससी इन मल्टीमीडिया एंड एनिमेशन
  • मास्टर ऑफ़ साइंस इन मोबाइल गेमिंग
  • मास्टर ऑफ़ साइंस इन गेम डिज़ाइन एंड डेवलपमेंट

Game Designing and Development Admission Process

एडमिशन प्रक्रिया की बात करें तो कुछ शैक्षणिक संस्थानो में सीधे नामांकन मिल जाता है वही कुछ शैक्षणिक संस्थानो में Entrance Exam पास करने के बाद एडमिशन होता है।

video game developer skill requirements

इन संस्थानों से कर सकते हैं पढ़ाई

  1. भारतीय विद्यापीठ यूनिवर्सिटी पुणे
  2. एमआइटी इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन, पुणे
  3. माया एकेडमी ऑफ एडवांस्ड सिनेमेटिक्स, देहरादून
  4. पिकासो एनिमेशन कॉलेज
  5. नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिज़ाइन (एनआइडी), बेंगलुरु
  6. आइआइएफए मल्टीमीडिया, बेंगलुरु

भविष्य की संभावनाएं

किसी भी गेम को डेवलप एवं डिजाइन करना एक चरणबद्ध प्रक्रिया है, जिसमें कई प्रकार के काम किये जाते हैं. इस क्षेत्र में आप गेम डेवलपर, गेम डिजाइनर (game designer) , गेम आर्टिस्ट, गेम प्रोग्रामर, नेटवर्क प्रोग्रामर, गेम/स्क्रिप्ट राइटर, ऑडियो/साउंड इंजीनियर, गेम टेस्टर आदि के रूप में काम कर सकते हैं. इन पदों पर काम करने के दौरान आपको निम्न जिम्मेदारियों को पूरा करना होगा.

1. गेम स्टोरी राइटर : जिस तरह कोई भी फिल्म अच्छी स्टोरी से हिट होती है उसी प्रकार गेम की भी अच्छी स्टोरी होने से हीट हो जाता है इसलिए गेम बनने में सबसे पहला काम Game Story Writers का होता है ये गेम की पूरी script को लिखते है की गेम में कब क्या होगा और उसी हिसाब से आगे गेम बनाने की प्रक्रिया को शुरू किया जाता है

2.गेम आर्टिस्ट (Animator): किसी भी Game को बनाने में गेम आर्टिस्ट की काफी अहम भूमिका होती है। एक गेम आर्टिस्ट का काम गेम के विजुअल इफेक्ट्स जैसे कि बिल्डिंग, रोड, जंगल, घर एवं बंदूक आदि तैयार करना होता हैं.

3. गेम डिजाइनर: इनका काम गेम के डिज़ाइन और कॉन्सेप्ट को तैयार करना है एवं गेम डिजाइनिंग से जुड़े अन्य पेशेवरों जैसे – प्रोग्रामर, एनिमेटर, प्रोड्यूसर और ऑडियो इंजीनियर से कोऑर्डिनेट करना है, ताकि कॉन्सेप्ट के मुताबिक ही ऑनलाइन गेम तैयार हो सके.

Gaming business growing rapidly in India

4. गेम टेस्टर: एक गेम टेस्टर का काम गेम को खेल कर पता लगाना होता है की गेम में क्या क्या bugs और glitches है जिससे पता लग सके की गेम खेलने में कोई परेशानी तो नहीं है अगर कोई भी bugs और glitches होता है तो गेम टेस्टर को रिपोर्ट तैयार कर गेम प्रोग्रामर को देना होता है

5. गेम एनिमेटर: विजुअल आर्टिस्ट गेम्स में विभिन्न कैरेक्टर, ऑब्जेक्ट और गेमिंग एनवायर्नमेंट की रूपरेखा तैयार करना गेम एनिमेटर/ विजुअल आर्टिस्ट का काम होता है. इसलिए गेम एनिमेटर को 2D, 3D Animation की अच्छी समझ और जानकारी होना चाहिए।

6. गेम प्रोग्रामर/डेवलपर: ये ऑनलाइन वीडियो गेम की टेक्निकल कोडिंग तैयार करते हैं, ताकि विभिन्न डिवाइसेज पर गेम खेला जा सके. गेम प्रोग्रामर की कोडिंग में गलती रहने पर वीडियो गेम सफल नहीं हो सकता है. इसलिए गेम प्रोग्रामर को C, C++, Window प्रोग्रामिंग, डायरेक्ट एक्स, 3D, GL आदि के बारे में अच्छी समझ होनी चाहिए।

7. साउंड डिजाइनर/ऑडियो इंजीनियर : इनका काम गेम में साउंड इफेक्ट्स और साउंड ट्रैक्स देना है, जैसे कि कार या बाइक चलने की आवाज, गोली चलने की आवाज, लोगों और पक्षियों की आवाज या बैकग्राउंड म्यूजिक आदि तैयार करना. इसलिए साउंड डिजाइनर/ऑडियो इंजीनियर को साउंड के बारे में अच्‍छी जानकारी होना बहुत ही जरुरी है।

8. नेरेटिव डिजाइनर: ये पेशेवर गेम डिजाइनर्स के साथ मिलकर इम्प्रेसिव स्टोरी तैयार करते हैं और गेम के विभिन्न कैरेक्टर्स के लिए टेक्स्ट और डायलॉग लिखते हैं. इनके निर्देशानुसार ही गेम के कैरेक्टर्स एक्शन करते हैं और एक्सप्रेशंस देते हैं.

Game Developer salary

एक Game Developer के पास पैसे कमाने के बहुत से तरीके होते है जैसे अगर वो चाहे तो किसी Gaming company में नौकरी कर हर महीने का वेतन ले सकता है या फिर आप खुद का गेम बनाकर उसे Google Play store या Apple Store पर डाल कर और भी ज्यादा पैसे कमा सकता है

भारत में वीडियो गेम डिजाइनर का औसत वेतन कार्य और कौशल के आधार पर प्रतिवर्ष लगभग 4.5 लाख रुपये है। जो की समय और experiance के आधार पर बढ़ता जाता है

Also Read…

पत्रकार कैसे बनेंखेल पत्रकार ​कैसे बने?
BDO Officer kaise bane?डॉक्टर कैसे बने?
इंजीनियर कैसे बने?कोडिंग क्या होता है?
एनर्जी मैनेजमेंट कोर्स कैसे करे?एक्टर एक्ट्रेसेस कैसे बने?
game-designer-salary-in-india

Game Development सॉफ्टवेयर:

गेम को बनाने के लिए जिस सॉवरे सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया जाता है उसे Game engine कहते है अभी के समय में काफी सारे Game engines सॉफ्टवेयर उपलब्ध है जिसका इस्तेमाल गेम बनने में कर सकते है कुछ Game engines सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल आप फ्री में भी कर सकते है और कुछ के लिए चार्ज देना पड़ सकता है

इस पोस्ट में हमने आपको बताया की Video Game Developer & game designer कोर्स कैसे करे? Game Designer kaise bane . और Video Game Developer किसे कहते हैं और Video Game Developer कितने प्रकार के होते हैं हमें उम्मीद है की Video Game Developer के बारे में आपको सभी जानकारी मिल गया होगा अगर Video Game Developer ​कैसे बने पोस्ट से सम्बंधित आपके पास कोई प्रश्न है तो कृपया कमेंट कर के पूछे हम उसका जबाब जल्द से जल्द देने के कोशिश करेंगे।

2 thoughts on “Game Developer Kaise Bane Hindi 2022 | video game development course, eligibility, and Colleges”

  1. Pingback: Video Game Developer Course, Eligibility, and Colleges - Campus Khoj

  2. Pingback: Video Game Developer Course, Eligibility, and Colleges - Campus Tour India

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!