न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स कोर्स कैसे करें | how to become nutrition and dietetics specialist

शारीरिक रूप से फिट और मजबूत होने होने के लिए योग और जिम के अलावा अपने खाने-पीने का ख्याल रखना बहुत जरुरी है इन दिनों कोरोना महामारी के कारण विदेश ही नहीं देश में भी लोग हेल्थ को लेकर आहार और पोषण के बारे में जागरूक हो रहे हैं. और समय-समय पर न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स एक्सपर्ट से सलाह भी ले रहा हैं. ऐसे में अगर आप मेडिकल फील्ड में करियर बनना चाहते है तो न्यूट्रिशन ऐंड डाइटेटिक्स कोर्स (Nutrition and Dietetics Course) कर अपना करियर बना सकते है

भोजन सेहत से सीधा संबंधित है जिसके कारण हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री के लिए डाइट थेरेपी सबसे महत्वपूर्ण मानी जाती है। इसीलिए पोषण और आहार के क्षेत्र में बतौर डाइटीशियन करियर बनाना भविष्य के लिहाज से एक अच्छा चयन हो सकता है। यदि इस क्षेत्र को अपनाने के बाद आप खाद्य पदार्थों, उनकी गणना के स्केल्स और उनके मेडिकल निष्कर्षों से खुद को अपडेट रखें, तो आप इस Nutrition and Dietetics करियर में काफी आगे जा सकते हैं।

डाइटीशियन (Ditecian) क्या होता है

डाइटीशियन (Ditecian) का काम अपने ग्राहकों या रोगियों की पोषण संबंधी समस्याओं और आवश्यकताओं का आकलन, निदान और उपचार करना होता हैं। साथ ही ग्राहकों और उनके परिवार-वालों को पोषण संबंधी सिद्धांतों, आहार योजनाओं या संशोधनों, भोजन की तैयारी, स्वस्थ भोजन की आदतों और उनके जीवन की क्वालिटी में सुधार के लिए अच्छे पोषण के बुनियादी नियमों के बारे में सुझाव देना होता है ।

होम्योपैथिक डॉक्टर कैसे बने?

न्यूट्रिशन ऐंड डाइटेटिक्स (Nutrition and Dietetics ) के रूप में आपको ट्रेंडिंग खाने-पीने की आदतों, नए खाद्य विकल्पों की उपलब्धता, उनके लाभों इत्यादि के बारे में खुद को अपडेट रखना होगा। न्यूट्रिशनिस्ट/डायटीशियन के रूप में, आप होटल, स्कूल, स्पोर्ट, अस्पताल या अन्य सरकारी एजेंसियों जैसे संगठनों के साथ-साथ अपनी खुद की प्रैक्टिस कर सकते हैं।

Nutrition and Dietetics Course Skills:

हर तरह के खाने-पीने के चीजों के बारे में गहरी जानकारी रखनी होती है. यह जानकारी तभी आ पाएगी जब आपमें रिसर्च करने की क्षमता हो. रिसर्च के अलावा प्रभावी कम्यूनिकेशन स्किल्स भी होना चाहिए.

education qualifications for Nutrition and Dietetics course

न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स का कोर्स करने के लिए गृह विज्ञान या साइंस स्ट्रीम से बारहवीं पास होना अनिवार्य है। 10+2 के बाद डिप्लोमा कोर्स, बैचलर डिग्री या मास्टर्स डिग्री कर सकते हैं। वैसे आपके जानकारी के लिए बता दू एक साल का डायटीशियन डिप्लोमा कोर्स करने के लिए फूड साइंस, होम साइंस या बायोटेक्नोलॉजी में बैचलर डिग्री होना जरूरी है। ग्रेजुएशन कोर्स के बाद न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा, एडवांस्ड डिप्लोमा या मास्टर डिग्री कोर्स कर सकते हैं।

Nutrition-and-Dietetics-courses
Nutrition-and-Dietetics-courses

Nutrition and Dietetics Course में अधिकतर सर्टिफिकेट कोर्स हैं, जिनमें आहार की जरूरत, अलग-अलग बीमारियों के इलाज में पोषक आहार का प्रबंधन आदि के सिद्धांत समझाए जाते हैं। इनमें से अधिकतर कोर्स निशुल्क हैं। कई विश्वविद्यालय भी अपने सर्टिफिकेट कोर्स ऑनलाइन उपलब्ध करा रहे हैं।

न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स डिप्लोमा/सर्टिफिकेट कोर्स

1.फ़ूड एंड न्यूट्रिशन8.डाइट एंड वैलनेस काउंसलिंग
2.बेसिक न्यूट्रिशन9.न्यूट्रिशनल बायोकेमिस्ट्री
3.हेल्थकेयर सर्विसेज़10.क्लीनिकल न्यूट्रिशन
4.पब्लिक न्यूट्रिशन एंड प्रोग्राम प्लानिंग11.फ़ूड साइंस एंड प्रोसेसिंग
5.कम्युनिटी हेल्थ12.डायटेटिक्स एंड पब्लिक हेल्थ न्यूट्रिशन
6.हेल्थ एंड सोशल जेरेन्टोलॉजी13.न्यूट्रिशन एंड हेल्थ एजुकेशन
7.एडवांस्ड फिटनेस ट्रेनिंग14.चाइल्डकेयर एंड फ़ूड
न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स डिप्लोमा/सर्टिफिकेट कोर्स लिस्ट

vocational courses in Nutrition

  • न्यूट्रिशन एंड डायटेटिक्स
  • न्यूट्रिशन एंड हेल्थकेयर साइंस
  • फ़ूड साइंस एंड टेक्नोलॉजी
  • क्लीनिकल न्यूट्रिशन एंड डायटेटिक्स

न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स बैचलर डिग्री कोर्सेज़

1.माइक्रोबायोलॉजी10.फ़ूड साइंस एंड टेक्नोलॉजी
2.होम साइंस11.क्लीनिकल न्यूट्रिशन एंड डायटेटिक्स
3.फ़ूड टेक्नोलॉजी12.न्यूट्रीशनल बायोकेमिस्ट्री
4.बायोकेमिस्ट्री13.क्लीनिकल न्यूट्रिशन
5.नर्सिंग14.पब्लिक न्यूट्रिशन एंड प्रोग्राम प्लानिंग
6.मेडिसिन15.फ़ूड साइंस एंड प्रोसेसिंग
7.फ़ूड एंड न्यूट्रिशन16.डायटेटिक्स एंड पब्लिक हेल्थ न्यूट्रिशन
8.न्यूट्रिशन एंड डायटेटिक्स17.हेल्थ एंड सोशल जेरेन्टोलॉजी
9.न्यूट्रिशन एंड हेल्थकेयर साइंस18.न्यूट्रिशन एंड हेल्थ एजुकेशन
बैचलर डिग्री कोर्सेज़ न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा कोर्सेज़

न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स में बैचलर डिग्री करने के बाद डायटेटिक्स एंड पब्लिक हेल्थ न्यूट्रिशन, क्लीनिकल न्यूट्रिशन एंड डायटेटिक्स, न्यूट्रिशन एंड डाइट, स्पोर्ट्स न्यूट्रिशन, फ़ूड एंड न्यूट्रिशन मैनेजमेंट, फ़ूड साइंस, एप्लाइड न्यूट्रिशन, या इनके जैसे कोर्सेज़ में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा कर सकते हैं।

मास्टर डिग्री कोर्सेज़ इन न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स

इस न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स में बैचलर डिग्री करने के बाद डायटेटिक्स एंड पब्लिक हेल्थ न्यूट्रिशन, क्लीनिकल न्यूट्रिशन एंड डायटेटिक्स, न्यूट्रिशन एंड डाइट, स्पोर्ट्स न्यूट्रिशन, फ़ूड एंड न्यूट्रिशन मैनेजमेंट, फ़ूड साइंस, एप्लाइड न्यूट्रिशन, या इनके जैसे कोर्सेज़ में मास्टर डिग्री कोर्से कर सकते हैं। न्यूट्रिशन ऐंड डाइटेटिक्स में ग्रेजुएट डिग्री के बाद एमबीए करना भी करियर के लिए अच्छे विकल्प उपलब्ध कराता है।

प्रमुख इंस्टीट्यूट्स:

रोजगार की संभावनाएं:

न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स कोर्स (Nutrition and Dietetics Course) करने के बाद सरकारी और प्राइवेट दोनों तरह के नौकरी कर सकते है ज्यादा तर नौकरी हेल्थ सेंटर, स्कूल, हॉस्पिटल, स्पोर्ट्स क्लब, एनजीओ, जिम में मिलते है यही नहीं हॉस्पिटैलिटी सेक्टर जैसे हयात कॉरपोरेशन, एकॉर हॉस्पिटैलिटी, ताज ग्रुप ऑफ होटल्स जैसी बड़ी कंपनियों में भी में भी न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स कोर्स करने वाले को नौकरी मिल जाती है.कुछ अच्छे कॉर्पोरेट कंपनियां भी अपने कर्मचारियों के सेहत और खान-पान का ध्यान रखने के लिए न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स को नौकरी पर रखते हैं.

फूड-एंड-न्यूट्रिशन-इन-हिंदी-डाइटीशियन
फूड-एंड-न्यूट्रिशन-इन-हिंदी

यही नहीं रोजमर्रा की सेहत से संबंधित उत्पाद बनाने वाली कंपनियों, जैसे कोलगेट, अमूल, बॉर्नविटा, हेल्थ ड्रिंक्स की कंपनियों आदि में भी नौकरी के अवसर मिलते हैं। साथ ही स्पोर्ट्स ऐंड हेल्थ क्लब्स में भी खूब अवसर मिलेंगे, जहां आप एथलीट कैं पका हिस्सा बन कर खिलाड़ियों की डाइट के लिए काम कर सकते है

टीचिंग, रिसर्च ऐंड डेवलपमेंट के क्षेत्र में बतौर शोधकर्ता लैब में रहकर विभिन्न खाद्य पदार्थों और पोषक तत्वों का अलग-अलग लोगों के लिए प्रभाव आदि का अध्ययन करना होगा। किसी विदेशी फर्म, होटल या क्रूज से जुड़ने पर विदेश जाने के मौके भी मिलते हैं। स्वतंत्र रूप से भी काम कर सकते हैं।

क्लिनिकल डाइटीशियन :

क्लीनिकल न्यूट्रिशनिस्ट, क्लीनिक और अस्पतालों में मरीजों के आहार और पोषण पर काम करते है ताकि प्रोटीन, विटामिन, खनिज जैसे अन्य पोषक तत्वों की पर्याप्त मात्रा रोगियों में एक स्वस्थ ऊर्जा संतुलन रखने में मदद करते है।

स्पोर्ट्स न्यूट्रिशनिस्ट:

स्पोर्ट्स न्यूट्रिशनिस्ट किसी व्यक्ति के एथलेटिक प्रदर्शन को बढ़ाने से संबंधित आहार और पोषण के अध्ययन और अभ्यास में विशेषज्ञ होते हैं। विशेष रूप से शक्ति के खेल (जैसे शरीर सौष्ठव और भारोत्तोलन) या धीरज वाले खेल (जैसे दौड़ना, साइकिल चलाना, दौड़ना, तैरना) के लिए आवश्यक हैं। खेल पोषण विशेषज्ञ एक एथलीट द्वारा लिए गए तरल पदार्थ, भोजन और आहार की खुराक (जिसमें सिंथेटिक विटामिन, खनिज, अमीनो एसिड, जड़ी बूटी या अन्य वनस्पति) शामिल हैं, पर ध्यान रखते हैं।

कंसल्टेंट डाइटीशियन :

कंसल्टेंट डाइटीशियन आहार संबंधी प्लानिंग, काउंसलिंग आदि का काम अलग-अलग लोगों के लिए स्वतंत्र रूप से अंजाम देते हैं। बतौर कंसल्टेंट फूड सर्विसेज और सिस्टम्स के आकलन का काम भी मिलता है।

इस पोस्ट में हमने आपको बताया की Nutrition and Dietetics kaise bane? और Nutrition and Dietetics Course कैसे कर सकते हैं हमें उम्मीद है की न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स कोर्स के बारे में आपको सभी जानकारी मिल गया होगा अगर न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स पोस्ट से सम्बंधित आपके पास कोई प्रश्न है तो कृपया कमेंट कर के पूछे हम उसका जबाब जल्द से जल्द देने के कोशिश करेंगे।

3 thoughts on “न्यूट्रिशन एंड डाइटेटिक्स कोर्स कैसे करें | how to become nutrition and dietetics specialist”

  1. Pingback: फुटवियर डिजाइनर कैसे बनें? और फुटवियर (footwear) डिजाइनिंग कोर्स कैसे करें?

  2. Pingback: होटल मैनेजमेंट क्या है और Hotel Management course कैसे करे? - Career Moka

  3. Pingback: How to do nutrition and dietetics course. - Campus Khoj

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *