सीबीएसई रिजल्ट शिकायत के लिए पोर्टल जारी, बढ़ेंगे नंबर – 10वीं-12वीं के

सीबीएसई ने 10वीं व 12वीं का रिजल्ट जारी कर दिया है. रिजल्ट में कई जगहों से गड़बड़ी की शिकायत आ रही है. कई लोग विभिन्न स्कूलों पर भी रिजल्ट को लेकर सवाल खड़ा कर रहे हैं. इसको देखते हुए सीबीएसई ने रविवार को शिकायत संबंधित पोर्टल जारी दिया है. रिजल्ट में गड़बड़ी कोलेकर नौ अगस्त से शिकायत कर सकते हैं.

रिजल्ट शिकायत को लेकर सीबीएसई ने गड़बड़ी को तीन भागों में बंटा है.

  • टाइप1 के लिए नौ से 11 तक शिकायत कर सकते हैं. इस शिकायत को लेकर बोर्ड द्वारा तैयार रिजल्ट कमेटी 10 से 13 अगस्त तक शिकायतों को लेकर अवलोकन करेगी. वहीं,
  • टाइप 2 के लिए 11 से 14 अगस्त और
  • टाइप 3 के लिए 10 से 12 अगस्त तक शिकायत कर सकते हैं.

Type of Disputes

Type-1

Start Date End Date Processing by Result Committee
Start Date End Date
09.08.2021 11.08.2021 10.08.2021 13.08.2021

Type-2

Start DateEnd DateStart DateEnd Date
11.08.202114.08.202112.08.202116.08.2021

Type-3

Start DateEnd DateStart DateEnd Date
10.08.202112.08.202111.08.202114.08.2021

रिजल्ट कमेटी टाइप 2 के लिए शिकायत को 12 से 16 अगस्त और टाइप 3 के लिए 11 से 14 अगस्त के बीच शिकायतों का अध्ययन करेगी. बोर्ड ने अलग-अलग कैटोगरी सर्कलर में जारी किया है.स्टूडेंट्स बोर्ड की ओर से जारीसर्कलर को ध्यान से पढ़ लर अपनी शिकायत कर सकते हैं. गौरतलब है कि 10वीं और 12वीं बोर्ड के रिजल्ट में कई गड़बड़ी की शिकायतें बिहार के विभिन्न जिलों से मिल रही थी.

कई स्कूलों में तोड़फोड़ भी हुआ था. इसको देखते हुए सीबीएसइ रिजल्ट संबंधित शिकायत को लेकर पोर्टल जारी किया है. 10वीं और 12वीं के रिजल्ट के डिस्प्यूट के निवारण के लिए बोर्ड एक पॉलिसी बना ली है. रिजल्ट संबंधी त्रुटियों की जानकारी और प्रतिक्रिया के बाद बोर्ड निर्धारित पॉलिसी के अंतर्गत मार्क्स भी देगा.

12वीं कक्षा के छात्रों की आपत्तियों का निपटारा करने के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) जारी कर दी है। सोमवार नौ अगस्त से शुरू होकर यह प्रक्रिया चार चरणों में 12 अगस्त तक पूरी होगी। 14 अगस्त तक शिकायतों का निपटारा कर दिया जाएगा।

सीबीएसई देखेगी फॉर्मूले पर अंक फिट किया गया है या नहीं।

इंडियन एसोसिएशन ऑफ स्कूल के सचिव सुमन कुमार, सीबीएसई स्कूल संगठन के सतीश कुमार झा ने कहा कि पहले विवाद के प्रकार के तहत सीबीएसई देखेगी कि फॉर्मूले पर अंक फिट किया गया है या नहीं। यूनिट टेस्ट | मिड-टर्म / प्री-बोर्ड परीक्षा के आधार पर बारहवीं कक्षा के अंक40%, अंतिम परीक्षा के सिद्धांत घटक के आधार पर ग्यारहवीं कक्षा के अंक30%, कक्षा 10वीं के बेस्ट थ्री के एवरेज थ्योरी कंपोनेंट पर आधारित मार्क्स, मुख्य 5 विषयों में से प्रदर्शन विषय 30% पर रिजल्ट बना है या नहीं।

Class XIIMarks based on Unit Test/Mid-Term/Pre-Board Exam40%
Class XIMarks based on theory component of final exam30%
Class XMarks based on average theory component of best three performing subjects out of main 5 subjects30%

छात्रों को लगता है कि वे अपने अंकों से संतुष्ट नहीं हैं तो वे सत्यापन के लिए प्राचार्य को आवेदन दे सकते हैं और स्कूल द्वारा संबंधित उम्मीदवार को जवाब दिया जाएगा। दूसरे विवाद के तहत अगर अंक की गलत गणना/परिणाम अपलोड किया गया है तो उसकी जांच की जाएगी। जिन छात्रों को लगता है कि कम अंक मिले हैं, वे भी आवेदन करेंगे, इसकी जांच बोर्ड के स्तर से की जाएगी।

Organisation Name Central Board of Secondary Education (CBSE)
Official Website https://www.cbse.gov.in/cbsenew/cbse.html
For Official NoticesOfficial Notices Website
ReasonFor Dispute Settlement Of Class 12 Result

इस तरह होगा सीबीएसई रिजल्ट शिकायत आवेदन


अंकों से असंतुष्ट छात्रों को अपने स्कूलों के प्रधानाचार्यों को पत्र के माध्यम से आपत्तियां बतानी होंगी। स्कल इस रिकार्ड को आनलाइन व आफलाइन दोनों तरीके से अपने पास रखेंगे। संबंधित समिति आपत्तियों के आधार पर परिणाम की जांच करेगी। यदि परिणाम सही पाया जाता है और आपत्ति का कोई कारण नहीं निकलता है तो छात्र को समिति की ओर से जवाब भेज दिया जाएगा। इस पूरी प्रक्रिया का रिकार्ड स्कूलों को भी अपने पास रखना होगा। बोर्ड ने इस पूरी प्रक्रिया को टाइपएक श्रेणी में रखा है।

ये छात्र कर सकते हैं दावा

  • जो अंकों से संतुष्ट नहीं हैं
  • अंक गणना में गलती हुई है
  • नई मूल्यांकन नीति को लेकर आपत्ति हो


समिति की ओर से सभी दस्तावेज के साथ गलती होने व इसके प्रभाव को लेकर स्कूलों को सूचित किया जाएगा। स्कूल के प्रधानाचार्य व परिणाम समिति के अध्यक्ष द्वारा क्षेत्रीय कार्यालय में भी सूचना दी जाएगी, जिसके बाद क्षेत्रीय कार्यालय अधिकारी जरूरी सुधार करेगा। साथ ही क्षेत्रीय कार्यालयों की ओर से इस तरह के सभी मामलों को मुख्यालय में भी रिपोर्ट देनी होगी।

ड्रीम कैरियर पोर्टल पर 560 कोर्स की मिलेगी जानकारी

स्कूलों की ओर से क्षेत्रीय कार्यालयों में स्कूल रिक्वेस्ट सबमिशन फार रिसोल्यूशन (एसआरएसआर) के माध्यम से आवेदन भेजा जाएगा। इसके लिए स्कूल लाग-इन करने पर लिंक से आवेदन भेज सकेंगे। आवेदन करते समय स्कूलों को टाइप दो पर क्लिक करना होगा। गलत अंकों को लेकर स्कूल कर सकेंगे इस तरह होगा निपटारा नई मूल्यांकन नीति से आपत्ति है तो इसके लिए स्कूलों की ओर से टाइप चार पर क्लिक कर आवेदन करना होगा। आपत्ति को लेकर पूरा विवरण देना अनिवार्य है। विवाद को संयुक्त सचिव, उप सचिव व सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य की अध्यक्षता वाले बोर्ड में रखा जाएगा।

सीबीएसई रिजल्ट शिकायत आवेदन

यदि सीबीएसई रिजल्ट को लेकर शिकायत है तो स्कूल की ओर से लागइन कर लिंक से टाइप तीन पर क्लिक कर आवेदन करना होगा। इसके तहत अंकों की गलत गणना व परिणाम अपलोड करने में हई त्रुटि की जांच की जाएगी। इसकी जांच के लिए सीबीएसई के सहायक सचिव, केंद्रीय विद्यालयों के प्रधानाचार्य, निजी स्कूलों के प्रधानाचार्य व शिक्षा निदेशक स्तर तक के अधिकारी जांच समिति में शामिल होंगे। समिति अपनी जांच परी कर क्षेत्रीय कार्यालयों को रिपोर्ट सौंपेगी। जांच करने पर यदि परिणाम में कोई गलती नहीं पाई जाती है तो क्षेत्रीय कार्यालयों की ओर से छात्रों को जानकारी दी जाएगी। वहीं, यदि परिणाम में कोई गलती है तो क्षेत्रीय कार्यालयों द्वारा सुधार किया जाएगा।

माइग्रेशन सर्टिफिकेट डिजिलॉक पर अपलोड

सीबीएसई ने इस साल से माइग्रेशन सर्टिफिकेट (स्थानांतरण प्रमाणपत्र) ऑनलाइन जारी करेगा. कोविड काल में पिछले वर्ष बोर्ड की ओर से दी गयी सहुलियत को इस वर्ष भी जारी रखा जायेगा. आदेश के मुताबिक वर्ष 2024 से बोर्ड माइग्रेशन सर्टिफिकेट की हार्ड कॉपी जारी करने की परंपरा को पूर्ण रूप से खत्म कर देगा. हालांकि, जिन स्टूडेंट्स को हार्ड कॉपी ही चाहिए,

उन्हें बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर इस संबंध में आवेदन करना होगा. जो आवेदन करेंगे, केवल उन्हें ही माइग्रेशन सर्टिफिकेट की हार्ड कॉपी उपलब्ध करायी जायेगी. जिन्होंने 10वीं और 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण की है, उनका माइग्रेशन सर्टिफिकेट इस साल डिजिलॉकर पर अपलोड किया जायेगा. जो स्टूडेंट्स उच्च शिक्षा के लिए दूसरे स्कूल या कॉलेज में आवेदन करना चाहते हैं, उनकी सहूलियत को ध्यान में रखकर यह निर्णय लिया गया है, क्योंकि स्टूडेंट को प्रमाणपत्र के ऑनलाइन सत्यापन में ऑनलाइन कॉपी की जरूरत पड़ती है.

1 thought on “सीबीएसई रिजल्ट शिकायत के लिए पोर्टल जारी, बढ़ेंगे नंबर – 10वीं-12वीं के”

  1. Pingback: CBSE Exam schedule 2021: कंपार्टमेंट और वैकल्पिक परीक्षाओं की डेटशीट जारी

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!