बिहार बाढ़ सहायता योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन, लाभार्थी सूची

मुख्यमंत्री राहत कोष , बिहार online | आपदा राहत सहायता योजना बिहार | मुख्यमंत्री विशेष सहायता योजना बिहार | बाढ़ राहत राशि लिस्ट 2021 Bihar | बिहार राज्य आपदा प्रबंधन विभाग | बाढ़ राहत योजना Online Form 2021 | बिहार बाढ़ राहत कोष 2021 Online Apply | बिहार बाढ़ राहत कोष 2021 सूची | बाढ़ राहत राशि लिस्ट २०२1 बिहार | बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना ऑनलाइन आवेदन | Bihar Badh Rahat Yojna 2021

bihar badh sahayata yojana online apply | bihar badh rahat yojana online apply | bihar badh rahat yojana 2020 online apply | bihar badh rahat sahayata yojana 2021| bihar badh rahat 6000 online apply 2021 | bihar badh rahat online apply 2021 | bihar badh rahat 6000 list 2021 | bihar badh rahat status

बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना की शुरुआत बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार के द्वारा किया गया है इस योजना की शुरुआत का मुख्य उदेश्य बाढ़ से प्रभावित लोगो को राहत आर्थिक सहयता पहुंचना है। बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना के अंतर्गत लोगो को आर्थिक सहायता के साथ साथ बाढ़ से हुए नुकसान की भी भरपाई भी आर्थिक रूप से की जाती है. इस योजना में घर, मवेशी , कपड़ा, फसल या बाढ़ से मौत होने पर भी नुकसान की राशि सरकार के द्वारा किया जाता है. आज के इस पोस्ट में मै आपको Bihar Badh Rahat Sahayata Yojana के बारे बताने जा रहा हूँ जिससे आपको सम्पूर्ण जानकारी मिल जायेगा. साथ ही मै आपको बताऊंगा की बाढ़ राहत राशि लिस्ट 2021 कैसे निकल सकते है इस लिए इस पोस्ट को ध्यान से पढ़ें.

Bihar Badh Rahat Sahayata Yojana 2021 | बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना 2021

बिहार सरकार के द्वारा बाढ़ ग्रस्त गांव/शहर के हरेक परिवार को बिहार बाढ़ सहायता योजना 2021 के तहत छह-छह हजार की सहायता राशि परिवार के मुखिया के बैंक खाता में DBT के माध्यम से सीधे भेजा जाता है। इसके अलावा भी Bihar Badh Rahat Sahayata Yojana 2021 के तहत बाढ़ पीड़ितों के लिए बिहार सरकार की ओर से और भी चीजों के नुकसान के लिए लोगो को आर्थिक मदद कि जाती है जो इस प्रकार है:-

Bihar Badh Rahat Yojna 2021 सहायता राशि

बाढ़ से मौत होने पर परिजनों को  4 लाख रुपया
बाढ़ प्रभावित सभी परिवार को 6000 रूपये
कपड़ा के लिए 1800 रूपये
बर्तन के लिए 2000 रूपये
फसल के लिए न्यूनतम 6800 प्रति हेक्टेयर
गाय, भैंस की छती होने पर 30 हजार प्रति
बकरी, भेड़, सुअर की छती होने पर 3 हजार प्रति
घोड़ा पर 25 हजार प्रति घोड़ा
मुर्गा 50 रुपये प्रति (अधिकतम 5 हजार)
कच्चा-पक्का मकान नुकसान में 95100 रूपये
पक्का मकान के आंशिक क्षतिग्रस्त में 5200  रूपये
कच्चा मकान के आंशिक क्षतिग्रस्त में 3200 रूपये
झोपड़ी के पूर्ण नुकसान होने पर 4100 रूपये
जानवर के शेड नुकसान होने पर 2100 रूपये

बिहार सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग के अधिकारी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का सर्वेक्षण कर प्रभावित परिवारों की सूची तैयार करते है सर्वेक्षण के दौरान बाद पीड़ित परिवार से व्यक्ति का नाम, पता और उनका बैंक खता संख्या भी लेते है और उसी के आधार पर सभी एरिया के सूचि तैयार कर सभी परिवारों को 6,000-6,000 की राशि डीबीटी के माध्यम से बैंक खाता में भेजा जाता है इसके अलावा जिन परिवारों में गाय ,भैंस ,बकरी ,मकान इत्यादि की भी हानि होती है वैसे परिवार को इसकी एवज में बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना की राशि अलग से दीजाती है। जैसे ऊपर में दिया गया है

Bihar Badh Rahat Yojana 2021 Highlights

योजना का नामबिहार बाढ़ राहत योजना
इसके द्वारा शुरू की गयीमुख्यमंत्री मान्य नितीश कुमार जी के द्वारा
लाभार्थीराज्य के बाढ़ प्रभावित परिवार
उद्देश्यबाढ़ प्रभावित परिवार को मुहावजा प्रदान करना

बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना 2021 का उद्देश्य

बिहार में काफी ऐसे जिला है जहाँ प्रत्येक साल काफी परिवार प्रभावित होते है लेकिन इन में से लगभग 10 जिले ऐसे है जहाँ प्रत्येक साल बाढ़ के कारण काफी नुकसान होता है और इस जिला के परिवारो को जीवन यापन काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इन सब दिक्कतों को देखते हुए बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार के द्वारा Bihar Badh Rahat Sahayata Yojana शुरू किया है इस बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना 2021 के तहत बाढ़ से प्रभावित परिवारों को 6000 रूपये की सहायता परिवार के मुख्या के बैंक खाता में भेजा जाता है। जिससे जीवन-यापन करने के लिए जरुरी सामान खरीद सकें। यही नहीं सरकार की ओर से बाढ़ से आपके पशु, घर या परिवार के सदस्य की जान माल की हानि होती है तो उसके लिए भी अलग से राशि दी जाती है जैसे मैंने ऊपर दे रखा है

बाढ़ राहत सहायता योजना की राशि पाने के लिए कैसे आवेदन करें ?

बिहार बाढ़ सहायता योजना के तहत लाभ लेने के लिए किसी भी व्यक्ति या परिवार को आवेदन करने के जरुरत नहीं होती है बल्कि राज्य सरकार के द्वारा अधिकारी को भेज कर बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के रहने वाले प्रभावित व्यक्ति का डाटा तैयार करवाया जाता है उन अधिकारी को बाढ़ से हुए नुकसान की जानकारी देना होता है.

लोगो को सिर्फ इस बात का ध्यान देना है की जब भी राज्य सरकार के अधिकारी या मुखिया के द्वारा बाढ़ प्रभावित लोगो का लिस्ट बनाई जाये उसके नाम जरूर जुड़वाये और नुकसान हुए सभी चीजों की पूरी जानकारी दे नहीं तो बिहार बाढ़ सहायता योजना का लाभ नहीं मिल पायेगा. ये भी पढ़ें: मछुआरों/मत्स्य कृषकों के लिए आपदा राहत सहायता योजना बिहार

अगर आपका नाम लिस्ट में होता है तो बिहार सरकार के द्वारा बिहार बाढ़ सहायता योजना की राशि सीधे लोगो के बैंक खाता में दिया जाता है

बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना 2021 पात्रता

इस योजना के अंतर्गत वैसे परिवार को पात्र माना जाता है जिन परिवारों का बाढ़ से नुकसान हुआ हो. साथ ही इस योजना का लाभ लेने के लिए बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना लिस्ट में नाम होना चाहिए | अगर आपका नाम बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना लिस्ट में नहीं है तो अपने एरिया के मुखिया से जा कर संपर्क करें. वही आपका नाम इस लिस्ट में जुड़वाने में मदद करेंगे.

  • इस योजना के के लिए आपका जिला बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में सरकार द्वारा घोषित किया गया हो.
  • बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में में आपका गाँव या पंचायत होना चाहिए
  • बाढ़ के कारण आपका जान-माल से प्रभावित होना चाहिए

Bihar Badh Rahat Sahayata Yojana 2021 के दस्तावेज़

बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना के आवेदन के लिए कुछ जरुरी दस्तावेज आपको देना होगा. यह दस्तावेज जिस समय आपदा अधिकारी सर्वेक्षण करने आते है उसी समय दे सकते है या बाद में अपने ग्राम के मुखिया के पास जा कर जमा कर सकते है बाढ़ राहत आर्थिक सहायता के लिए जो जरुरी दस्तावेज की जरुरत है वो इस प्रकार है:

  • लाभार्थी का विवरण
  • परिवार के मुखिया का आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता जिसमें अकाउंट नंबर, IFSC कोड और नाम लिखा हो.
  • बाढ़ से हुए नुकसान का विवरण

बिहार बाढ़ सहयता योजना में मिलता है 95,100 रूपये तक की राशि, जाने कैसे ले लाभ

सभी Important News पाने के लिए ग्रुप को JOIN कर पेज को LIKE करें

TwitterClick Here
Telegram GroupJOIN Now
Facebook PageClick Here
Bihar Badh Rahat Yojna 2021

Bihar Badh Rahat Yojna 2021 | किसानों को फसल नुकसान का मिलेगा मुआवजा

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि बाढ़ पीड़ित परिवारों को Bihar Badh Rahat Yojna 2021 के तहत छह हजार रुपया सहायता राशि समेत किसानों को फसल क्षति का मुआवजा दिया जाएगा। खेती की क्षति का पूरी तरह से आकलन किया जा रहा है। आपदा प्रबंधन विभाग एकएक चीज को देख रहा है। मुख्यमंत्री बुधवार को कटिहार और पूर्णिया जिले के बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों का दौरा करने के बाद पत्रकारों से बात कर रहे थे। पत्रकारों के सवाल पर उन्होंने यह भी कहा कि बाढ़ से हुई क्षति को लेकर केन्द्र से हमलोग तो अपनी तरफ से मांग करते ही हैं। 2007 से ही हमलोगों ने सारी पॉलिसी बना दी है, उसको और बेहतर करते हुए हर किसी को सहायता करते हैं। मवेशियों के लिये भी हमलोग व्यवस्था कर रहे हैं। उनके रहने का भी इंतजाम किया गया है, चारे की व्यवस्था की गई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कटिहार और पूर्णिया के पूरे इलाके का हवाई सर्वेक्षण किया और वहां दो जगहों पर लोगों से मिलकर उनसे बात भी की है। वहां जो व्यवस्था की गई है, उसे भी हमने देखा। इस बार गंगा नदी का जलस्तर बढ़ा है, उसी के चलते बहुत जगहों पर नुकसान हुआ है। गंगा नदी के जलस्तर में वृद्घि के कारण कटिहार का क्षेत्र भी प्रभावित हुआ है। वर्ष 2016 में भी गंगा का जलस्तर बढ़ने से काफी क्षेत्र प्रभावित हुआ था।

इस बार जलस्तर वर्ष 2016 से थोड़ा कम है, लेकिन क्षेत्र कम प्रभावित नहीं हुआ है। सभी लोगों को हर प्रकार से राहत देना है। मुख्यमंत्री ने पूर्णिया जिले के रुपौली प्रखंड स्थित बुनियादी उच्च विद्यालय, सपहा में बाढ़ राहत शिविर का निरीक्षण किया। सामुदायिकरसोई, बाढ़ राहत चिकित्सा शिविर, निःशुल्क पशुदवा वितरण केंद्र आदि की व्यवस्था का जायजा लिया। वहां रह रहे लोगों से बातचीत भी की।

फसल सहायता योजना बिहार के लिए ऑनलाइन आवेदन करे

बिहार के 16 जिलों के 100 प्रखंड हैं अभी बाढ़ से प्रभावित 

राज्य में बाढ़ से अभी 16 जिले प्रभावित हैं। इनमें मुजफ्फरपुर, दरभंगा, खगड़िया, सहरसा, पटना, वैशाली, भोजपुर, लखीसराय, भागलपुर, सारण, बक्सर, बेगूसराय, कटिहार, मुंगेर, समस्तीपुर एवं पूर्णियां शामिल हैं। इन 16 जिलों के 100 प्रखंडों के 719 पंचायत बाढ़ से प्रभावित है। इनमें 2626 गांवों में 37 लाख की आबादी बाढ़ की समस्या से घिरी हुई है।

मुख्यमंत्री ने बाढ़ राहत शिविर का निरीक्षण किया

मुख्यमंत्री ने कटिहार जिले के बरारी प्रखंड स्थित भगवती मंदिर महाविद्यालय (बीएम कलेज) लक्ष्मीपुर में बाढ़ राहत शिविर का निरीक्षण किया। _निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री ने बाढ़ राहत शिविर में बाढ़ राहत चिकित्सा शिविर,आंगनबाड़ी केंद्र में प्रभावित परिवारों के बच्चों को पढ़ने की सुविधा का जायजा लिया। इस अवसर पर उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री लेशी सिंह, विधायक बीमा भारती, विजय सिंह, विधान पार्षद अशोक अग्रवाल, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, जल संसाधन विभाग के सचिव संजीव कुमार हंस आदि उपस्थित थे।

8 thoughts on “बिहार बाढ़ सहायता योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन, लाभार्थी सूची”

  1. Rajesh Mukhiya

    Rajesh Mukhiya Darbhanga Jila Anil Nagar Prakhand Koi sahayata nahin mila Sab Kuchh fas gaya hai

  2. Rajesh Mukhiya

    Kuchh To sahayata karo Rajesh Mukhiya Andauli Alinagar Prakhand Jila Darbhanga No 9015497934

  3. kishor kumar sah

    saharsa ke mahishi block ke birgaon panchayat ward 10 ka nibassi hu muje badh rahat rasi nahi mila . NAME KIshor kumar sah father jagdish sah village nayatola birgaon ward 10 mahishi saharsa bihar mobile 7061866090

  4. Harshvardhan kumar

    Harshvardhan kumar mai patna se hu mera block Danapur hai mera badh rahat ka 6000 rupaya nahi aaya mo-9905457696

  5. Pingback: Inspire Award 2021 Registration : इंस्पायर अवार्ड के लिए आवेदन शुरू

  6. mera ghar sultanpur h hame bhi baadh ka paisa nhi mila h jaane ke liye mera rasta bhi band h baadh ke paani se

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *