किसान सम्मान आत्मा योजना बिहार के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे? किसान को मिलेगा 50 की राशि

किसान सम्मान योजना की जानकारी : बिहार सरकार के कृषि विभाग के द्वारा आत्मा योजना के अंतर्गत किसानो को किसान सम्मान योजना में पुरस्कार के साथ साथ प्रोत्साहन राशि भी दिया जाता है प्रत्येक प्रखंड में हर क्षेत्र के लिए अलग अलग किसान को चुना जाता है जिसमे धान, गेहूं, आलू, मक्का, मखाना, पशुपालन और बकरीपालन के साथ मत्स्यपालन में भी बेहतर प्रदर्शन करने वाले किसानों को किसान सम्मान योजना में 50 हजार तक का लाभ दिया जाता है।

इस आत्मा योजना के आयोजन में खेती करने का बेहतरीन गुण सिखाया जाता है जिससे कृषि से किसानो को ज्यादा से ज्यादा फायदा हो और आय में भी बढ़ोत्तरी हो सके।

किसान सम्मान योजना का प्रमुख उद्देश्य

  • अतिविशिष्ट/उत्कृष्ट कार्य करने वाले किसानों की उपलब्धियों को अन्य किसानों के बीच प्रचारित करना ताकि वे इसे अपनाकर इसका लाभ उठा सकें।
  • राज्य में अतिविशिष्ट/उत्कृष्ट कार्य करने वाले किसानों को प्रोत्साहित करना।
  • कृषि एवं कृषि से सम्बद्ध क्षेत्रों की उन्नत तकनीकी को जल्द से जल्द कृषकों के बीच प्रचारित एवं प्रसारित करना।
  • किसानों के बीच प्रतियोगिता की भावना विकसित करना।
  • किसानों को सशक्त एवं स्वावलम्बी बनाना।

कृषक पुरस्कार हेतु शर्ते/मापदण्ड –

किसान सम्मान योजना के लिए किसानों के चयन हेतु मापदण्ड प्रक्षेत्रवार निम्न प्रकार से हैI.

  • खाद्यान्न फसल– इस क्षेत्र में चयन का आधार गुणवत्तापूर्ण अधिकतम उत्पादकता (क्वि०/एकड़) होगी। उत्पादकता का निर्धारण खेत में 10m x 5m = 50 वर्गमीटर में फसल जाँच कटनी आयोजित कर किया जाएगा।
  • उद्यानिक फसल – इस क्षेत्र में कृषक पुरस्कार हेतु उद्यान निदेशालय द्वारा निर्गत शर्त _ एवं मापदण्ड के अनुसार किया जाएगा।
  • गायपालन – गायपालन के लिए कृषक पुरस्कार हेतु निदेशक पशुपालन, बिहार, पटना द्वारा निर्गत शर्त एवं मापदण्ड के अनुसार निम्नांकित विवरणी के अनुसार किया जाएगा
    • न्यूनतम उत्पादकता प्रति गाय (संकर नस्ल) – 10 लीटर प्रति शाम (औसत)
    • न्यूनतम उत्पादकता प्रति गाय (देशी नस्ल) – 05 लीटर प्रति शाम (औसत)
  • बकरी पालन – बकरीपालन के लिए संबंधित किसान के पास किसान पुरस्कार हेतु उत्पादकता का निर्धारण निम्न प्रकार से किया जाएगा
Name of BreedAdult Body (Wt.)Litter sizeMilk
Black Bengal30 kg. Buck23 KG. DOE
  • मत्स्यपालन – मत्स्यपालन के लिए किसान पुरस्कार हेतु तालाब की उत्पादकता मिश्रित मत्स्य पालन (composite Fish Culture) की स्थिति में 04 टन एवं पंगेशियस मछली पालन में न्यूनतम 20 टन प्रति हे0 होना अनिवार्य है। साथ ही मत्स्य बिक्री का ब्योरा पंजी में संधारित हो।

ये भी पढ़े: किसान क्रेडिट कार्ड, मिलेगा किसान सम्मान निधि योजना का लाभ लेने वाले किसानों को

किसान की पात्रता

किसान पुरस्कार के लिए किसान की पात्रता निम्न प्रकार से होगी।

कृषि प्रक्षेत्र –

संबंधित किसान कृषि (खाद्यान्न) के क्षेत्र में कम-से-कम आधा एकड़ में फसल लगाया हो।

उद्यान प्रक्षेत्र

संबंधित क्षेत्र में चयन का आधार उद्यान निदेशालय द्वारा तैयार किया जाएगा।

मस्यपालन –

  • इसके लिए संबंधित किसान के पास कम से कम एक तालाब उपलब्ध हो जिसका जलक्षेत्र न्यूनतम 0.5 एकड़ होना चाहिए।
  • मत्स्य पालन में हेतु, इयरलिंग (09-12 माह पुराना बीज) का संचय, मत्स्य आहार का नियमित प्रयोग, जलीय गुणवत्ता का नियमित जाँच, बिमारी के रोकथाम हेतु आवश्यक उपाय आदि किया जा रहा हो।
  • मत्स्य पालक के द्वारा मात्स्यिकी संबंधी सभी गतिविधी का संधारण (बीज संचय, मत्स्य आहार उपयोग, मछली एवं पानी जाँच एवं प्रबंधन) नियमित किया जा रहा हो।
  • तालाब की उत्पादकता मिश्रित मत्स्य पालन (composite Fish Culture) की स्थिति में 04 टन एवं पंगेशियस मछली पालन में न्यूनतम 20 टन प्रति हे0 होना अनिवार्य है। साथ ही मत्स्य बिक्री का ब्योरा पंजी में संधारित हो।
  • संधारित पंजी में मछली बिक्री करने वाले बाजार, थोक बिक्रेता एवं खुदरा बिक्रेता का नाम, मछली का वजन तिथिवार अंकित हो।
  • प्रखंड स्तर पर मत्स्य प्रक्षेत्र में ऑन लाईन प्राप्त सभी आवेदन का जाँच गठित उत्पादकता जाँच/मूल्यांकन समिति के द्वारा किया जाएगा।
  • मत्स्य प्रक्षेत्र से प्राप्त आवेदन पत्रों एवं संलग्न कागजातों का संधारण प्रखंड तकनीकी पदाधिकारी द्वारा किया जाएगा।
  • मत्स्य प्रक्षेत्र के आवदेन पत्रों एवं संलग्न कागजातों की एक प्रति प्रखंड तकनीकी प्रबंधक द्वारा जिला मत्स्य पदाधिकारी को उपलब्ध कराया जाएगा।

ये भी पढ़े: प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना (Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana-PMMSY)

गायपालन –

इसके लिए संबंधित किसान के पास कम से कम दो दूधारू गाय {(संकर नस्ल)/ (देशी), उपलब्ध हो।

बकरी पालन –

बकरीपालन के लिए संबंधित किसान के पास कम से कम 10 बकरी एवं 01 बकरा का इकाई उपलब्ध होना चाहिए।

पुरस्कार हेतु न्यूनतम उत्पादकता का निर्धारण – आवेदक को अपने फसल/ईकाई का प्रति ईकाई औसत उत्पादकता निम्न से कम नहीं होना चाहिए।

व्यवसाय/ ईकाई का नामन्यूनतम उत्पादकता प्रति ईकाई
धान60 क्वि० प्रति हेक्टेयर
रबी संकर मक्का80 क्वि0 प्रति हेक्टेयर
गेहूँ40 क्वि0 प्रति हेक्टेयर
आलू250 क्वि0 प्रति हेक्टेयर
गाय पालन (संकर नस्ल)10 लीटर दूध प्रति गाय प्रति शाम (औसत)
गाय पालन (देशी)05 लीटर दूध प्रति गाय प्रति शाम (औसत)
बकरीपालन (ब्लैक बंगाल)Buck – 30 kg, DOE 23 kg. and Litter Size – 03
प्याज200 क्वि० प्रति हेक्टेयर
मछलीपालन क. Composite Fish Culture 40 क्वि0 प्रति हेक्टेयर , ख. पंगेशियस 200 क्वि० प्रति हेक्टेयर
(मत्स्य बिक्री का ब्योरा पंजी में संधारित हो।)

किसान सम्मान योजना में आवेदन देने एवं चयन की प्रक्रिया

किसानों का निबंधन – इच्छुक किसान विहित प्रपत्र अनुसूची-1, 2 तथा 3 में कृषि, उद्यान, पशुपालन एवं मत्स्यपालन प्रक्षेत्रों में चिन्हित व्यवसाय के लिए ऑन-लाईन आवेदन करेंगे।

एक किसान एक से अधिक प्रक्षेत्र के लिए भी आवेदन दे सकते हैं तथा कृषि विभाग के वेबसाईट पर पंजीकृत किसान ही आवेदन कर सकते हैं परन्तु पशुपालक एवं मत्स्यपालक के लिए यह अनिवार्य नहीं होगा। इसके स्थान पर पहचान पत्र/आधार कार्ड/किसान क्रेडिट कार्ड/राशन कार्ड अनिवार्य होगा।

आवेदक को आवेदन के साथ निम्न कागजात संलग्न करना होगा

पहचान पत्र के रूप में मतदाता पहचान पत्र/आधार कार्ड/किसान क्रेडिट कार्ड/राशन कार्ड आदि में से किसी एक की प्रति ऑन लाईन अपलोड करना होगा।

किसान अपने प्रखंड के ई-किसान भवन में जाकर निःशुल्क रूप में आवेदन पत्र भर सकते हैं। परियोजना निदेशक, आत्मा/प्रखंड तकनीकी प्रबंधक ऑन लाईन आवेदन भराने में किसानों की मदद करेंगे। सभी प्रक्षेत्रों के ऑनलाईन आवेदनपत्र संबंधित प्रखंड तकनीकी प्रबंधक के यहाँ जमा होंगे।

ये भी पढ़े: अब हर किसान को मिलेंगे सालाना 6 हजार रुपये और किसानों के लिए पेंशन योजना भी शुरू

प्रखंड तकनीकी प्रबंधक कृषि प्रक्षेत्र के आवेदन पत्रों एवं संबद्ध कागजातों को परियोजना निदेशक, आत्मा को, उद्यान प्रक्षेत्र के आवदेन पत्रों का सहायक निदेशक उद्यान को, पशुपालन प्रक्षेत्र के आवेदन पत्रों एवं संबद्ध कागजातों को जिला पशुपालन पदाधिकारी तथा मत्स्य प्रक्षेत्र के आवेदन पत्रों एवं संबद्ध कागजातों को जिला मत्स्य पदाधिकारी को उपलब्ध करायेंगे।

निर्धारित उत्पादकता से कम उत्पादकता प्राप्त होने पर संबंधित किसान पुरस्कार के योग्य नहीं माने जायेंगे।

किसान सम्मान योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन?

किसान सम्मान योजना के ऑनलाइन आवेदन के लिए सबसे पहले http://103.38.129.98/Bametireg/RegistrationForm.aspx वेबसाइट पर जाना होगा, जहाँ आत्मा योजना – 2020-2021 अंतर्गत किसान पुरस्कार कार्यक्रम नाम से एक फॉर्म खुलेगा

कैसे करे किसान सम्मान योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन?

जिसके बाद नया पंजीकरण के लिए पूछा जायेगा, अगर किसान का DBT Agriculture वेबसाइट पर किसान रजिस्ट्रेशन हुआ होगा तो यहाँ रजिस्ट्रेशन करने के जरुरत नहीं है अगर नहीं हुआ होगा तो नीचे दिए गए वीडियो को देख कर किसान रजिस्ट्रेशन कर सकते है

  1. अगर किसान पंजीकरण संख्या है तो सर्वप्रथम पंजीकृत किसान पर क्लिक करें।
  2. इसके बाद 14 अंकों का पंजीकरण संख्या एवं अन्य सूचनाओं को भरें/ अंकित
    करें।
  3. Proceed to Apply पर क्लिक करें।
  4. आवेदन प्रपत्र का सृजन होगा जिसमें सभी सूचनाओं को अंकित करना अनिवार्य है। अगर किसी कॉलम में कोई सूचना नहीं है तो कॉलम के सामने 0 (शून्य) अंकित करें।
  5. फोटो का स्कैन कॉपी 50 KB तक JPG Format में अपलोड करें।
  6. किसान के हस्ताक्षर का स्कैन कॉपी 30 KB तक JPG Format में अपलोड करें।
  7. पहचान पत्र का स्कैन कॉपी 200 KB तक JPG Format में अपलोड करें।
  8. शपथपत्र पर क्लिक करें।
  9. Print वटन पर क्लिक करने पर भरा हुआ आवेदन पत्र सृजित हो जाएगा जिसका Print ले सकते हैं अथवा सुरक्षित रख सकते हैं।

आत्मा योजना के सभी स्टेप देखने के लिए नीचे दिए गए वीडियो को देखे और और लेटेस्ट वीडियो देखने के लिए हमारा YouTube चैनल Subscribe जरूर करे , अगर आत्मा योजना से सम्बंधित आपके पास कोई प्रश्न है तो कृपया कमेंट कर के पूछे । हम उसका जबाब जल्द से जल्द देने के कोशिश करेंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *