सीबीएसई 10वीं और 12वीं परीक्षा दो हिस्सों में होगी, शैक्षणिक सत्र दो हिस्सों में बटा

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसइ) ने कोविड के मद्देनजर 10वीं और 12वीं की अगले साल की सीबीएसई परीक्षा बोर्ड के लिए विशेष मूल्यांकन योजना की सोमवार को घोषणा की. जिसके अनुसार से शैक्षणिक सत्र 2021-22 को दो हिस्सों में बटा है साथ ही इनकी परीक्षाएं भी दो बार में होगा। प्रत्येक हिस्से में 50-50 प्रतिशत पाठ्यक्रम है. शैक्षणिक सत्र को पहले भाग का परीक्षा नवंबर-दिसंबर 2021 में होगी वही दूसरे भाग की परीक्षा मार्च-अप्रैल 2022 में लिया जायेगा। बोर्ड ने 2021-22 शिक्षण सत्र के पाठ्यक्रम को युक्तिसंगत बनाने, आंतरिक मूल्यांकन और प्रोजेक्ट इत्यादि को अधिक विश्वसनीय बनाने संबंधी योजना की भी घोषणा की है.

यह प्रक्रिया इस तरह से डिजाइन की गयी है कि पूरे वर्ष छात्रों का मूल्यांकन .बाकी किया जा सके। सीबीएसई के निदेशक (शिक्षण) जोसेफ इमैनुएल ने बताया कि नया पाठ्यक्रम जुलाई के अंत तक अधिसूचित किया जायेगा. आंतरिक मूल्यांकन, प्रायोगिक व परियोजना कार्यों को अधिक विश्वसनीय और दिशानिर्देशों के अनुसार वैध बनाने के लिए प्रयास किये जायेंगे. साथ ही निष्पक्ष तरीके से अंक दिये जाने के लिए नीति की घोषणा की जायेगी

सीबीएसई 10वीं और 12वीं परीक्षा दो हिस्सों में होगी, शैक्षणिक सत्र दो हिस्सों में बटा

आं 9वीं-10वीं कक्षा के तरिक मूल्यांकन (पूरे वर्ष टर्म-एक व टर्म -दो के बावजूद) में तीन पीरियोडिक टेस्ट, स्टूडेंट एनरिचमेंट, पोर्टफोलियो और प्रायोगिक कार्य / बोलने -सुनने की गतिविधियां / परियोजना कार्य शामिल होंगे

11वीं-12वीं कक्षा में इन दोनों कक्षाओं के लिए आंतरिक मुल्यांकन (वर्ष भर में टर्म-एक और टर्म-दो की अवधि के अलावा) में टॉपिक एंड या यूनिट टेस्ट / खोजपूर्ण गतिविधियां । प्रायोगिक कार्य / प्रोजेक्ट परियोजनाएं शामिल की जायेंगी.

Delhi Skill and Entrepreneurship University Admission 2021 Apply

बिहार पॉलिटेक्निक फॉर्म 2021- Bihar DECE 2021 ऑनलाइन आवेदन

Bihar ITI Admission Form 2021 फॉर्म ऑनलाइन आवेदन [Bihar ITICAT]

Special Scheme of Assessment for Board Examination Classes X and XII for the Session 2021-22

  • पहले टर्म में परीक्षा 90 मिनट की होगी , बहुविकल्पीय प्रश्न होंगे – छात्रों को ओएमआर शीट में देने होंगे प्रश्नों के उत्तर – परीक्षा नवंबर-दिसंबर, 2021 में
  • दूसरे टर्म की परीक्षा दो घंटे की होगी, प्रश्न पत्र सबजेक्टिव होंगे -परीक्षा मार्च-अप्रैल, 2022 में होगी
  • यदि महामारी के कारण हालात सामान्य नहीं रहे, तो टर्म-दो में भी 90 मिनट की होगी परीक्षा, बहुविकल्पीय होंगे प्रश्न

सीबीएसई के निदेशक (शिक्षण) जोसेफ इमैनुएल ने इस बाबत सर्कुलर जारी किया है। उन्होंने कहा, शिक्षण सत्र 2021-22 के लिए पाठ्यक्रम कोयुक्तिसंगत तरीके सेदो हिस्सों में बांटा जाएगा, इसके लिए विषय विशेषज्ञों की मदद लेंगे।पहले टर्म की एमसीक्यू परीक्षा में ओएमआर शीट उसी दिन अपलोड होगी और उसी दिन
नतीजे आ सकते हैं। दूसरेटर्म की परीक्षा में बोर्ड परीक्षा केंद्र तय करेंगे। इसमें केस आधारित, स्थिति आधारित तथा लघु उत्तरीय व दीर्घ उत्तरीय सवाल पूछे जाएंगे। इसके अलावा सीबीएसई ने स्कूलों को छात्रों की डिजिटल प्रोफाइल तैयार करने को भी कहा है। कोरोना महामारी का हवाला सीबीएसई ने कोरोना महामारी को देखते हुए यह फैसला किया है।

to read CBSE official notice click here

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *