VKSU UG Merit List 2022: पांच अगस्त को जारी होगी स्नातक मेरिट लिस्ट

वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय ( VKSU )अंतर्गत आने वाले विभिन्न अंगीभूत एवं संबद्ध कॉलेजों में स्नातक पार्ट वन सत्र 2021-24 में अगस्त के प्रथम सप्ताह से दाखिला शुरू हो जायेगा। जिसके लिए संभवतः चार अगस्त को मेरिट लिस्ट का प्रकाशन किया जायेगा। VKSU Merit List 2021 जारी होने के बाद पांच अगस्त से एडमिशन शुरू होगा। वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय UG फर्स्ट मेरिट लिस्ट से दाखिला लेने के लिए एक सप्ताह से भी कम समय का मौका मिलेगा। एडमिशन ऑनलाइन होगा। विद्यार्थी ऑनलाइन ही कॉलेज एडमिशन शुल्क जमा करेंगे।

ऑनलाइन एडमिशन को ले लगातर तीसरे दिन भी बैठक की गयी। प्रशासनिक भवन सभागार में छात्र कल्याण अध्यक्ष प्रो सिधेश्वर नारायण सिंह की अध्यक्षता में बैठक हुई। शनिवार को भोजपुर और बक्सर जिले के कॉलेजों के प्राचायों उपस्थित थे। मौके पर ऑनलाइन एडमिशन पर चर्चा की गयी। कॉलेजों से ऑनलाइन एडमिशन कोले बैंक एकाउंट की जानकारी मांगी गयी, ताकि विवि पेमेंट गेटवे तैयार कर सकें

डायरेक्ट कॉलेज खाता में जमा होगा एडमिशन फीस

कॉलेज के खाता को पेमेंट गेटवे से लिंक किया जायेगा। VKSU Graduation admission 2021 का एडमिशन शुल्क ऑनलाइन पेमेंट गेटवे के माध्यम से लिए जायेगा । निर्णय लिया कि जिस विद्यार्थी का प्रथम VKSU UG Merit List में नाम आता है और वे नामांकन नहीं नहीं लेते हैं तो उन्हें दोबारा मौका नहीं मिलेगा। मेरिट लिस्ट जारी होने के बाद विद्यार्थियों को चार दिन का मौका ऑनलाइन एडमिशन लेने और कागजात सत्यापन का दिया जायेगा।

ppu exam form 2021 part 1: पीपीयू स्नातक पार्ट-1 परीक्षा फॉर्म भराना शुरू

मालूम हो कि विवि के 17 अंगीभूत, एक गवर्नमेंट डिग्री कॉलेज व 44 से अधिक संबद्ध कॉलेजों में एडमिशन लिया जायेगा। बैठक में कॉलेजों से शुल्क संरचना मांगी गयी। निर्धारित शुल्क के अनुसार दाखिला कॉलेज लेंगे। प्राचार्यों को कॉलेजशुल्क काशुल्क चार्ट पोर्टल पर अपलोड करना होगा।

UP ITI Admission 2021 in Hindi : ऑनलाइन फॉर्म, मैरिट लिस्ट , काउंसलिंग

VKSU UG Merit List : एससीएसटी के विद्यार्थियों का दाखिला जीरो बैलेंस पर

बैठक में यह तय हुआ कि छात्राओं और एससीएसटी के विद्यार्थियों का दाखिला जीरो बैलेंस पर ही लिया जायेगा, क्योंकि राज्य सरकार का यह निर्णय है। हालांकि संबंद्ध कॉलेजों के शुल्क पर सहमती नहीं बन सकी है, क्योंकि संबंद्ध कॉलेज का निर्णय शासी निकाय लेता है। इधर, एक बात और सामने आई कि जो संबंद्ध कॉलेज तीन हजार से अधिक शुल्क लेंगे, उन्हें अपने शिक्षक को करीब 21 हजार रुपये वेतन देना होगा। बैठक में ऑनलाइन एडमिशन के दौरान ऑनलाइन रोल नंबर भी विद्यार्थियों का जेनेरेट करने पर चर्चा हुई। प्राचार्यों ने कहाकि फैकल्टी वाररोल नंबर जेनेरेट किया जा सकता है। इससे कॉलेज को सुविधा होगी। मौके पर कई प्राचार्य और कॉलेज के प्राचार्य प्रतिनिधि मौजूद थे।

डिग्री कॉलेज में नामांकन अनुमति को लेकर विधायक ने की पहल:मशरक

मशरक मुख्यालय अवस्थित बासुदेव सिंह डिग्री कॉलेज के अनुमति व छात्र छात्राओं का नामांकन शुरू करने को लेकर सक्रिय विधायक केदारनाथ सिंह शनिवार को जे पी यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ फारुख से मिले। जानकारी हो कि तीन जिले की सीमा पर अवस्थित मशरक का यह इकलौता डिग्री कॉलेज ग्रामीण क्षेत्र के गरीब बच्चों के अध्ययन का केंद्र है जिसे वर्ष 2013 तक अनुमति मिली थी । वर्ष 2014 में तत्कालीन कुलपति ने बच्चों के नामांकन के बाद अनुमति विस्तार नहीं दिया जिस कारण बन्द हो गया।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!