CBSE 10th Result : जारी हुआ सीबीएसई रिजल्ट,ऐसे देखे रिजल्ट

सीबीएसई रिजल्ट: सीबीएसई बोर्ड (केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड) ने 10वीं क्लास की परीक्षा के नतीजे घोषित कर दिया है। इस वर्ष 10वीं कक्षा में 91.46 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए हैं जिसमे केंद्रीय विद्यालयों का रिजल्ट सबसे बेहतर रहा जहाँ 99.23 फीसदी बच्चे पास हुए है । छात्र अपना रिजल्ट सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट cbseresults.nic.in के अलावा उमंग ऐप ( UMANG ) और डिजिलॉकर ( Digilocker) ऐप से भी चेक कर सकते है। रिजल्ट देखने के लिए छात्र अपना रोल नंबर, डेट ऑफ बर्थ, स्कूल नंबर, सेंटर नंबर और एडमिट कार्ड आईडी डालकर रिजल्ट चेक कर सकते है।

इस वार असेसमेंट स्कीम के तहत रिजल्ट जारी किया गया है जो निम्न है

  • अगर छात्र परीक्षाएं रद्द होने से पहले तीन विषयों में बैठा है, तो औसत स्कोर तीन विषयों के स्कोर के आधार पर, जो भी ज्यादा हो से किया जाएगा।
  • वैसे छात्र दो परीक्षाओं से कम परीक्षाओं में बैठे थे, उनका स्कोर दो हाई स्कोर वाले विषयों के आधार पर दिया जाएगा।
  • वही वैसे स्टूडेंट जो तीन से कम परीक्षाओं में बैठा है, उसके नतीजे इंटरनल/ प्रैक्टिकल/ प्रोजेक्ट असेसमेंट के जरिए और जिस विषय में बैठे उसके स्कोर के आधार पर दिए जाएंगे।

IVRS सिस्टम से यूं चेक करें रिजल्ट

रिजल्ट जारी होने के बाद अगर सीबीएसई की वेबसाइट पर रिजल्ट नहीं चेक कर पा रहे है या आपके पास इंटरनेट की सुविधा नहीं है तो आप सीबीएसई रिजल्ट IVRS से चेक कर सकते हैं। अगर आप दिल्ली में रहते हैं तो 24300699 पर फोन करें। और अगर आप देश के अन्य हिस्से में रहते हैं तो 011-24300699 पर कॉल करें। इसके अलावा स्टूडेंट्स अपने स्कूल से भी रिजल्ट के लिए संपर्क कर सकते हैं। हर स्कूल को उसके बच्चों के रिजल्ट की पूरी फाइल ईमेल की जाएगी।

SMS से सीबीएसई रिजल्ट चेक करने का तरीका

10वीं वाले छात्र ऐसे चेक कर रहे थे अपना रिजल्ट अपने मोबाइल के मैसेज बॉक्स में जाकर टाइप करें- CBSE10 और भेज दें 7738299899 पर। 

इससे पहले सीबीएसई ने 12वीं के रिजल्ट पहले ही सोमवार को जारी कर चूका है जिसमे 88.78% बच्चे पास हुए हैं जिसका मैरिट लिस्ट सीबीएसई की ओर से जारी नहीं की किया गया था जबकि 10वीं की मैरिट लिस्ट जारी की जाएगी या नहीं इसको लेकर सीबीएसई बोर्ड की तरफ से कोई अपडेट नहीं है।

कोरोना महामारी और लॉकडाउन के कारण 1 जुलाई से होने वाली सीबीएसई की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं बोर्ड ने रद्द कर दी थी। वही दिल्ली दंगो के कारण नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में कुछ परीक्षाएं स्थगित करनी पड़ी थीं।

सीबीएसई बोर्ड की ओर से 10वी और 12वीं के छात्रों को स्थिति सामान्य होने पर अपने अंकों में सुधार के लिए इंप्रूवमेंट का मौका नहीं दे रहा है। साथ ही सीबीएसई बोर्ड ने फैसला किया है की जो छात्र फ़ैल हो जायेगे उनके मार्कशीट में FAIL लिखने की बजाय Essential Repeat लिखा जाएगा। सीबीएसई 10वीं परीक्षा में प्रत्येक विषय में पास होने के लिए 33 अंकों की जरूरत होती है।

पिछले साल सीबीएसई बोर्ड के 10वी में 13 स्टूडेंट्स ने किया टॉप किया था, जिसमे सभी छात्र के 499 मार्क्स आए थे। दूसरे स्थान पर 25 स्टूडेंट्स आए थे। इन सबने 498 मार्क्स हासिल किए थे। पिछले साल कुल 91.10 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए थे। रिजल्ट 4.40 % अच्छा रहा था। 2018 में 86.70 फीसदी ही पास हुए थे।

एचआरडी मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने ट्विटर पर लिखा:

ये भी पढ़े : CBSE 10th 12th Exam की तिथि जारी- सिर्फ 29 विषयो की होगी परीक्षा

Leave a Comment

Your email address will not be published.