बिहार यूनिवर्सिटी में ग्रेजुएशन एडमिशन की प्रकिर्या जल्द शुरू हो सकता है?

बाबासाहेब भीमराव आंबेडकर बिहार यूनिवर्सिटी मुजफ्फरपुर ने स्नातक में एडमिशन के लिए ऑनलाइन तैयारी शुरू है। लॉकडाउन खत्म होने के बाद अगले महीने बिहार यूनिवर्सिटी के द्वारा एडमिशन की प्रक्रिया शुरू कर सकता है। जिसके लिए यूएमआईएस (यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट एण्ड इंफॉर्मेश सिस्टम) ने सॉफ्टवेयर तैयार किया है। इसी सॉफ्टवेयर की मदद से बीए, बीएससी और बीकॉम आदि स्नातक कोर्सेज में एडमिशन लिए जायेगा।

भीमराव आंबेडकर बिहार यूनिवर्सिटी मुजफ्फरपुर के द्वारा आदेश मिलते ही नामांकन के लिए ऑनलाइन आवेदन करने का वेबसाइट खोल दिया जाएगा। इसवार स्नातक में एडमिशन के लिए छात्रों को पांच कॉलेज चुनने का ऑप्शन दिया जायेगा जिसे आवेदन करते वक्त स्टूडेंट अपनी मर्जी से चुन सकते है

वैसे तो बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने 24 मार्च को ही इंटर का रिजल्ट जारी कर दिया था लेकिन अभी तक छात्रों को मार्कशीट स्कूल या कॉलेज की ओर से नहीं मिला है ऐसे स्थिति में अगर एडमिशन के लिए आवेदन मांगा जाता है तो मार्कशीट के सॉफ्टकॉपी के आधार पर ही अप्लाई शरू करायी जा सकती है। मार्कशीट का सॉफ्ट कॉपी बिहार बोर्ड के वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकता है जिसे एडमिशन के दौरान अपलोड करना होगा ।

आवेदन की प्रिक्रिया पूर्ण होने की बाद सभी छात्रों का मेरिट लिस्ट जारी किया जायेगा, जारी किये गए मेरिट लिस्ट की अनुसार एडमिशन होगा, उस समय छात्रों को माक्सशीट की ओरिजिनल कॉपी व सीएलसी या एसएलसी दिखाना होगा। मेरिट लिस्ट की अनुसार एडमिशन हो जाने की बाद भी अगर किसी कॉलेज में सीटें बचती है तो जिन छात्रों का मेरिट लिस्ट में नाम नहीं आता है वैसे छात्र भी एडमिशन ले सकते है

नये सत्र में स्नातक में सेमेस्टर सिस्टम से पढ़ाई होगी या वार्षिक कैलेंडर के आधार पर, यह अभी तय नहीं है। एडमिशन की प्रक्रिया शुरू करने से पहले बीआएबीयूमें इस पर स्पष्ट निर्णय लिया जाना बाकी है।

बिहार यूनिवर्सिटी में इस वर्ष से स्नातक में सेमेस्टर सिस्टम लागू करने पर बात चल रहा है ऐसे में अगर सेमेस्टर सिस्टम को लागु किया जाता है तो छात्रों को एडमिशन शुरू होने से पहले इसकी जानकारी दी जाएगी.

आपके जानकारी के लिए बता दू की बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने 24 मार्च को ही 12वीं (इन्टरमीडिएट) का रिजल्ट जारी कर इतिहास रच दिया था। जिसमे 80.44 प्रतिशत छात्र/छात्रा सफल हुए थे। इस 80.44 प्रतिशत छात्र/छात्रा में से 43 हजार 284 प्रथम श्रेणी में पास हुए थे, 4 लाख 69 हजार 439 द्वितीय श्रेणी से और 56 हजार 115 तृतीय श्रेणी से पास हुए थे।

बिहार बोर्ड द्वारा 1283 केंद्रो पर आयोजित 2020 इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्ष में कुल 12,04,834 विद्यार्थी शामिल हुए थे, जिसमें से 6,56,301 छात्र तथा 5,48,533 छात्राएं थीं।

ये भी पढ़े: 

  • यूजीसी ने सभी कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के एडमिशन, एग्जाम और नया सेशन बदला
  • UP Board : जानें कब आ सकता है यूपी बोर्ड का रिजल्ट – मूल्यांकन लगभग पूरा
  • UGC ने समस्या समाधान के लिए जारी किया हेल्पलाइन नंबर और ईमेल
  • JEE Advanced परीक्षा की तिथि जारी, जाने तिथि और भी बहुत जानकारी
  • बिहार बोर्ड स्क्रूटिनी के लिए आवेदन की तिथि बढ़ी – करे आवेदन 3 जून तक
  • BIhar Board Result – जाने कहाँ कहाँ चेक कर सकते है बिहार बोर्ड मैट्रिक रिजल्ट

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *